Corona Epidemic: आइए जानते हैं कोरोना काल में क्यों बढ़ रही हैं लोगों की मानसिक परेशानियां

Corona Epidemic: कोरोना महामारी जो अभी तक खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। इस महामारी ने लोगों के लिए बहुत सारी समस्याएं खड़ी कर दी हैं। जिनसे निकलना मुश्किल का काम है। सबसे बुरा असर तो लोगों की मानसिक स्थिति पर पड़ा है।

By: Neelam Chouhan

Updated: 30 Aug 2021, 12:34 PM IST

नई दिल्ली। Corona Epidemic: बूढ़े-बुजुर्ग से लेकर बच्चे तक सब मानसिक तनाव से परेशान हैं। बाहर आना-जाना बंद है, सोशल डिस्टेंस को बना के रखना है और सब कुछ ऑनलाइन होने के कारण बहुत सारी दिक्कतें आ गई हैं। बहुत लोगों की आर्थिक स्थिरता पर बुरा प्रभाव पड़ा है। जिनसे निकलना थोड़ा मुश्किल का काम है। पूरे दिन घर पर रहना और ऑनलाइन पढ़ना या काम करते रहना ये मानसिक परेशानी को बढ़ाने का काम है। जिसपर ध्यान देना बहुत जरूरी है। क्योंकि यदि हम मानसिक परेशानियों से गुजर रहे होंगे। तो धीरे-धीरे ये बीमारी और डिप्रेशन का कारण भी बन जाएगा। इसलिए शरीर के साथ दिमाग को भी फिट रखना चाहिए। ताकि बीमारियों से बचा जा सके।

क्यों हुई है ये समस्या
लोगों के भीतर मानसिक समस्या बढ़ना इसलिए भी शुरू हो गई है क्योंकि मिलना-जुलना, या कहीं पर भी आना जाना नहीं हो पा रहा है। हम अपने घर तक सीमित होकर रह गए हैं। इसलिए ये परेशानी देखी जा रही है। साथ ही साथ बीमारी से कैसे बच कर रहना है लोगों के दिमाग में इसका भी भय बना हुआ है। इसलिए लोगों के भीतर मानसिक समस्याएं देखने को मिल रही हैं।

Mental health

अब जानते हैं कि मानसिक परेशानियों से दूर कैसे रहना है
बॉडी का ध्यान रखें
यदि आपकी सेहत अच्छी रहेगी तभी आप फिट और खुश रहेंगे। इसलिए अपने सेहत पर खासतौर पर अधिक ध्यान दें। खाना-पीना अच्छा और ताजा खाएं। हरी सब्जियां और दूध का सेवन रोजाना करें। इसके आलावा रोज व्यायाम और मेडिटेशन करें। ये आपके शरीर से बीमारी को दूर रखेगा।

दिनचर्या के अनुसार काम करें
अपनी दिनचर्या तय करें। उसके तहत काम करें। रोजाना पढ़ाई और ऑफिस के काम से कुछ समय अपने लिए निकालें। इंडोर गेम्स खेलें, रोजाना परिवार के साथ बैठ कर कुछ बातें करें। ऐसा करने से आपको अच्छा लगेगा। और अपनी बातें भी अपने फैमिली से शेयर कर पाएंगे।

यह भी पढ़ें: जानें कोरोना काल में क्यों बढ़ रही हैं मानसिक समस्याएं

कुछ नया सीखते रहें
कुछ न कुछ नया सीखने की कोशिश करें। ऐसा करने से आपकी स्किल भी इम्प्रूव होती जाएगी। अपने पसंदीदा काम करें और सीखें जैसे कि डांस करना, पेंटिंग बनाना, आर्टिकल्स पढ़ना या लिखना आदि। यदि ये काम आप रोज करेंगे तो ख़ुशी भी होगी और कुछ नया करने की प्रेरणा भी मिलेगी।

यह भी पढ़ें: सीजन के प्रभाव से बदलती है मानसिक दिशा, जानें इसके बारे में और

Neelam Chouhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned