इन 5 कारणों से कम उम्र में ही झलकने लगा है बुढ़ापा,वजह जानकर हो जाएंगे हैरान!

  • उम्र बढ़ने से पहले ही आपमें क्यों दिखने लगा है बुढ़ापा
  • शरीर और चेहरे पर दिखते हैं बुढ़ापे के लक्षण

By: Pratibha Tripathi

Published: 11 Feb 2021, 08:15 PM IST

नई दिल्ली। व्यस्त जिंदगी में हमारी दिनचर्या और जीवन जीने का तरीका हमारी सेहत पर काफी असर डालता है। जाने अंजाने हमारी कुछ आदतें ऐसी होती है जिनका सीधा असर हमारी सेहत पर दिखने लगता है। ये आदतें बुढ़ापे को आमंत्रित करती हैं। आज ऐसी ही आदतों के बारे में बताने जा रहे हैं जो हमारे जीवन का हिस्सा हैं लेकिन हमारे स्वास्थ्य पर काफी असर डालता है, यहां तक कि हम इन आदतों की वजह से जल्द बुढ़ापे की दहलीज तक पहुंच जाते हैं।

ड्रिंक पीने में स्ट्रॉ का उपयोग- ज्यादातर जब भी कोई ड्रिंक हम पीते हैं तो या तो फैशन के लिए या किसी और कारण से ड्रिंक को पीने में स्ट्रॉ का उपयोग करते हैं। लेकिन स्ट्रॉ के उपयोग से हमारे होठों के चारों ओर ज़बरदस्त खिंचाव होता है। इससे हमारे चेहरे की स्किन पर रिंकल्स या झुर्रियां पड़ने लगती हैं। इससे जितना बचें उतना बेहतर होगा।

जंक फूड, कोल्ड ड्रिंक्स है बुढ़ापे का कारक- आज की व्यस्त दिनचर्या में लोगों की निर्भरता जंक फूड पर काफी बढ़ गई है, जबकि जंकफूड में बड़ी मात्रा में ट्रांस फैट, नमक और शुगर होता है। दूसरी ओर पोषक तत्व बिल्कुल नहीं होता है, बतादें जंक फूड हमारे शरीर में कोलेजन को कम करता है, कोलेजन ऐसा तत्व है जो चेहरे पर झुर्रियां आने से रोकने का काम करता है। सोडा ओर कोल्ड ड्रिंक में भी ऐसे तत्व की भरमार होती है जिससे चेहरे पर फाइन लाइन्स बढ़ती हैं।

शराब से आता है बुढ़ापा – जानकार बताते हैं कि ज्यादा शराब के सेवन से बुढ़ापे के लक्षण जल्दी आते हैं। इसके अलावा शराब पीने से आंखों के नीचे डार्क सर्कल, चेहरे पर झुर्रियां और डिहाइड्रेशन का खतरा बढ़ जाता है।

पेट के बल सोना बुढ़ापे को देता है दावत - सोने से हमारे शरीर की थकान दूर होती है, पर पेट के बल सोना बुढ़ापे को दावत देना है। एक रिपोर्ट की माने तो पेट के बल सोने से चेहरे पर सीधा दवाब पड़ता है जो चेहरे पर झुर्रियां बढ़ाता है। इसीलिए जानकार सोने के सही तरीके पर जोर देते हैं।

नींद कम लेने से आता है बुढ़ापा – जानकार भरपूर नीद लेने पर जोर देते हैं। यदि नींद कम लेते हैं तो इसका असर शरीर के साथ-साथ चेहरे पर पड़ने लगता है इससे चेहरे पर झुर्रियां जल्दी आती हैं। यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल केस मेडिकल सेंटर में हुई एक स्टडी में कम सोने वालों के चेहरे पर ज्यादा झुर्रियां पाई गईं। इसका एक कारण तनाव को भी माना गया है।

Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned