scripthome remedies to avoid harmful effects of pollution | जानिए प्रदूषण के हानिकारक प्रभाव से बचने का घरेलु उपाय | Patrika News

जानिए प्रदूषण के हानिकारक प्रभाव से बचने का घरेलु उपाय

विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार हर साल 7 मिलियन लोगों की मौत प्रदूषित हवा के कारण होती है। सर्दियों के मौसम में हवा में नमी कम हो जाती है। लोग खेतों में भूसा जलाते हैं। इन सबके कारण सर्दियों में प्रदूषण अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच जाता है। पिछले 30 सालों में वायु प्रदूषण के कारण सेहत पर कई घातक असर पाए गए हैं। इनमें सांस की बीमारियां जैसे अस्थमा और फेफड़ों की समस्याएं कार्डियोवैस्कुलर रोग गर्भावस्था में बुरे परिणाम जैसे समय पूर्व प्रसव और यहां कि मृत्यु जैसे परिणाम भी शामिल हैं।

नई दिल्ली

Published: November 19, 2021 12:04:47 pm

नई दिल्ली : प्रदूषित हवा में सांस लेने से लोगों को कई तरह की परेशानियां झेलनी पड़ती है प्रदूषण बीमारियों को अपने साथ लाता है। ऐसी प्रदूषित हवा में सांस लेने से आंखों में जलन नाक बहना सर्दी-जुकाम छींक आना सिरदर्द जी मचलना और उल्टी जैसी दिक्कतें होने लगती है। उन लोगों के लिए वायु प्रदूषण ज्यादा हानिकारक हो सकता है जो कि अस्थमा एलर्जी या अन्य सांस संबंधी बीमारियों के मरीज हैं। लगातार प्रदूषित हवा में रहने वालों के फेफड़ों पर बुरा असर पड़ता है।
जानिए  प्रदूषण के हानिकारक प्रभाव से बचने का घरेलु उपाय
जानिए प्रदूषण के हानिकारक प्रभाव से बचने का घरेलु उपाय
वायु प्रदूषण हमारे स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है
हमारे शारीरिक एवं मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य पर वायु प्रदूषण का बुरा असर पड़ता है। प्रदूषण के कारण शरीर के कई अंगों और कार्यों को नुकसान पहुंचता है । सांस की बीमारियां जैसे सीओपीडी वायु प्रदूषण के कारण ब्रॉन्कियल अस्थमा उग्र रूप धारण कर लेता है।
प्रदूषण से बचने का घरेलु उपाय

1 . प्रदूषण को बाहर निकालता है सरसों का तेल

प्रदूषित हवा में मौजूद कण नाक में रह जाते हैं और यह बीमारियों की वजह बन सकते हैं. नाक में एक बूंद सरसों का तेल डालने से प्रदूषक को बाहर निकालने में मदद मिल सकती है। इस तेल से नाभी पर मालिश करने पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।
2. भाप से होगा फायदा

शरीर से प्रदूषण के कणों को हटाने के लिए भाप ली जा सकती है. इसके लिए एक गर्म पानी से भरे बर्तन में यूकेलिप्टस या पेपरमिंट तेल की 6-7 बूंदें लें और चेहरे को तौलिये से ढंक लें. 4-5 मिनट के लिए भाप को सांस के जरिए शरीर के अंदर जाने दें। दिन में दो बार यह प्रक्रिया अपनाएं
3. बनाएं तुलसी-अदरक का काढ़ा

तुलसी और अदरक का काढ़ा भी एक बेहतरीन उपाय है जो कि गले को आराम दिलाने और प्रदूषण के कारण होने वाली सर्दी-खांसी या नाक बहने की परेशानी से छुटकारा दिला सकता है। इसके लिए 1 गिलास पानी उबालकर उसमें 5-6 तुलसी की पत्तियां डालें और थोड़ा सा अदरक घिसकर डालें।
4. घी करेगा प्रदूषण का असर कम

घी का सेवन प्रदूषित हवा में मौजूद लेड और मर्क्यूरी जैसे खतरनाक केमिकल से शरीर पर पड़ने वाले असर को दूर करने में मदद करता है। अपने आहार में नियमित रूप से 1 ये 2 चम्मच घी को जरूर शामिल करें। इसके अलावा नाक में में 1 या 2 बूंद घी डाला जा सकता है, इससे प्रदूषण का प्रभाव कम होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

बिहार में बड़ा हादसा: गंडक नदी में डूबा ट्रैक्टर, हादसे में 2 लोगों की मौत, 20 लापताभारत ने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर बैन 28 फरवरी तक बढ़ायासानिया मिर्जा ने किया संन्यास का ऐलान, बोलीं-'मेरा शरीर खराब हो रहा है'UP Assembly Elections 2022 : अखिलेश यादव ने कहा सपा की सरकार बनी तो महिलाओं को देंगे 1500 रुपये प्रति महीने पेंशनMaharashtra Nagar Panchayat Election Result: 106 नगरपंचायतों के चुनावों की वोटों की गिनती जारी, कई दिग्‍गजों की प्रतिष्‍ठा दांव परकोई बना दिल का राजा तो किसी को जनता ने बताया नकारा, मंत्रियों पर हुए सर्वे में खुलासाOBC Reservation: ओबीसी राजनीतिक आरक्षण पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, आ सकता है बड़ा फैसलाUP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.