scriptHow Modi government's Ayushman Bharat scheme saves lives | मोदी सरकार की योजना ने बचाई गरीब रिक्शा चालक की जान, BHU के डॉक्टर ने शेयर की सक्सेस स्टोरी | Patrika News

मोदी सरकार की योजना ने बचाई गरीब रिक्शा चालक की जान, BHU के डॉक्टर ने शेयर की सक्सेस स्टोरी

Ayushman Bharat Yojana: Narendra Modi सरकार की योजना ने प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में स्थित BHU में एक गरीब रिक्शा चालक की जान बचाई। रिक्शा चालक के पास ब्रेन ट्यूमर का ऑपरेशन कराने के लिए पैसा नहीं था। रिक्शा चालक के पास आयुष्मान कार्ड था, लेकिन मालुम नहीं था कि इससे उसका महंगा इलाज मुफ्त हो सकता है। चिकित्सक के सुझाव पर मरीज का आयुष्मान कार्ड से मुफ्त इलाज हुआ और जान बच सकी।

नई दिल्ली

Updated: February 21, 2022 09:01:27 pm

नवनीत मिश्र
नई दिल्ली। Ayushman Bharat Yojana: मोदी सरकार की आयुष्मान भारत योजना ने ब्रेन ट्यूमर से जिंदगी और मौत से जूझ रहे एक गरीब रिक्शा चालक की जान बचाई। इलाज में मदद करने वाले बीएचयू के न्यूरोलॉजी विभाग के प्रो. डॉ. वीएन मिश्रा ने जब यह जानकारी सोशल मीडिया पर शेयर की तो पत्रिका ने उनसे बात की। डॉ. वीएन मिश्रा ने पत्रिका को फोन पर बताया कि बीएचयू के न्यूरोलॉजी विभाग में आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीबों के हर महीने 100 से 150 ऑपरेशन मुफ्त हो रहे हैं। नहीं तो गंभीर बीमारियों से जूझ रहे गरीबों को ऑपरेशन के लिए 2 से 3 लाख रुपये कहां जुटा पाते? अब पैसे की कमी से सांसों की डोर नहीं टूट रही है। विभागाध्यक्ष प्रो. रविशंकर खुद आयुष्मान योजना के लाभार्थियों के इलाज की मॉनीटरिंग करते हैं।
pm_modi.jpg
प्रधानमंत्री मोदी(फाइल फोटो)
प्रो. वीएन मिश्रा ने पत्रिका को बताया, छह महीने पहले की बात है। बीएचयू के न्यूरोलॉजी विभाग में ज्ञानपुर जिले का एक 55 वर्षीय गरीब मरीज इलाज के लिए पहुंचा। पता चला कि ब्रेन ट्यूमर है। मैने उसे बताया कि ऑपरेशन करना पड़ेगा। इसमें डेढ़ से दो लाख रुपये कम से कम लगेंगे। मरीज की खराब माली हालत देख मैने उससे पूछा- क्या आयुष्मान भारत कार्ड है? मरीज ने बताया कि हां है। मरीज को यह मालुम नहीं था कि आयुष्मान भारत कार्ड से उसे नई जिंदगी मिल सकती है।" प्रो. मिश्रा ने मरीज को आयुष्मान भारत कार्ड के जरिए न्यूरोसर्जरी डिपार्टमेंट में ऑपरेशन कराने की सलाह दी। इसके बाद रिक्शा चालक का मुफ्त इलाज हुआ और उसकी जान बच सकी।
प्रो. मिश्रा ने बताया कि पिछले, तीन वर्षों में,लकवा मिर्गी ब्रेन कैंसर जैसे अति गंभीर बीमारियों वाले मरीजों की जान आयुष्मान भारत जैसी केंद्र सरकार की योजना के कारण बच सकी है। सिर में चोट, ब्रेन ट्यूमर, नसों की सूजन आदि के महंगे इलाज में आयुष्मान भारत योजना रामबाण साबित हुई है।

क्या है आयुष्मान भारत योजना?

मोदी सरकार ने एक अप्रैल 2018 को पूरे देश में आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, लागू की थी। यह एक स्वास्थ्य योजना है। इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों (बीपीएल धारक) को स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है। इसके अंतर्गत प्रत्येक परिवार को 5 लाख तक का कैशरहित स्वास्थ्य बीमा सुविधा उपलब्ध होती है।

पात्र परिवार को मिलने वाला लाभ

प्रत्येक पात्र परिवार को प्रतिवर्ष ₹5 लाख तक के नि:शुल्क उपचार का लाभ

योजना से संबद्ध देशभर के किसी भी चिह्नित सरकारी या निजी अस्पताल में मुफ्त ईलाज की सुविधा

भर्ती होने से 7 दिन पहले तक की जांचें, भर्ती के दौरान उपचार व भोजन और डिस्चार्ज होने के 10 दिन बात तक का चेकअप व दवाएं नि:शुल्क उपलब्ध
योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में कोरोना, कैंसर, गुर्दा रोग, हृदय रोग, डेंगू, चिकुनगुनिया, मलेरिया डायलिसिस, घुटना व कूल्हा प्रत्यारोपण, नि:संतानता, मोतियाबिंद और अन्य चिह्नित गंभीर बीमारियों का नि:शुल्क उपचार इस योजना के तहत किया जाता है।
कैसे और कहां बनवाएं आयुष्मान कार्ड?

पारिवारिक समग्र आईडी के साथ एक पहचान पत्र (आधार कार्ड, पेन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, सरकारी पहचान पत्र) ले जाएं।

कॉमन सर्विस सेंटर, लोक सेवा केंद्र, यूटीआई-आईटीएसएल केंद्र पर जाकर पात्रता जांच कराएं और आयुष्मान कार्ड बनवाएं।

चिह्नित ग्राम रोजगार सहायक व वार्ड इंचार्ज के सहयोग से भी आयुष्मान कार्ड बनाए जा सकते हैं।

योजना से संबद्ध अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में आयुष्मान मित्र के माध्यम से नि:शुल्क कार्ड बनवाए जा सकते हैं।

भर्ती के समय अस्पताल में आयुष्मान कार्ड दिखाएं और नि:शुल्क उपचार का लाभ उठाएं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

IPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाWatch: टेक्सास के स्कूल में भारतीय अमेरिकी छात्र का दबाया गला, VIDEO देख भड़की जनताHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.