Coronavirus : कोरोना से डरो ना, जानिए, कैसे बढ़ाए लड़ने के लिए इम्यूनिटी

Highlights

- इम्यूनिटी बढ़ाए ताकि पूरी ताकत से इस जानलेवा वायसर से बचा जा सके

- डॉक्टरों के मुताबिक अगर इम्युनिटी स्ट्रांग हैं तो 60 प्रतिशत तक इन बीमारियों से बचाव किया जा सकता है

- कमजोर इम्यूनिटी के लोग इस वायरस का जल्दी शिकार होते हैं।

By: Ruchi Sharma

Updated: 22 Mar 2020, 02:33 PM IST

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर पूरी दुनिया में जारी है। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरी दुनिया तैयार में है। हर कोई इसके संक्रमण को रोकने के लिए उपाए ढूंढ रही है। पर इससे ज्यादा जरूरी है आप इससे लड़ने कि शक्ति बढ़ाए। यानी अपने शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाए ताकि पूरी ताकत से इस जानलेवा वायसर से बचा जा सके। डॉक्टरों के मुताबिक अगर इम्युनिटी स्ट्रांग हैं तो 60 प्रतिशत तक इन बीमारियों से बचाव किया जा सकता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि कमजोर इम्यूनिटी के लोग इस वायरस का जल्दी शिकार होते हैं। विटामिन इंसान के इम्यून सिस्टम को बूस्ट कर सकते हैं. ऐसा होने पर हर तरह का रोग आपके शरीर से दूर ही रहेगा। तीन प्रकार के विटामिन हमारे शरीर को लड़ने की ताकत देता है, इससे हमेरी इम्यूनिटी सिस्टम बढ़ता है। यह है विटामिन-सी, विटामिन-ई, विटामिन-डी रोगप्रतिरोधक क्षमता मजबूत करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी हैं। इन तत्त्वों की भरपाई के लिए गाजर, पालक, चुकंदर, टमाटर, फूलगोभी, खुबानी, जौ, भूरे चावल, शकरकंद, संतरा, पपीता, बादाम, दूध, दही, मशरूम, लौकी के बीज, तिल आदि उपयोगी हैं। हरी सब्जियों-फलों को विशेष रूप से भोजन में शामिल करें।

विटामिन-सी

खट्टे आहार जैसे नींबू, संतरा और आंवला आदि कुछ ऐसे आहार हैं, जिन में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। बेहतर स्वास्थ्य के लिए इन्हें किसी न किसी रूप में आपको अपने आहार में अवश्य शामिल करना चाहिए। पालक में आयरन तो प्रचुर मात्रा में होता है ही, साथ ही इसमें विटामिन सी भी मौजूद होता है। वैसे इसमें आपको आयरन व विटामिन सी के अतिरिक्त विटामिन ए, फोलिक एसिड, मैग्नीशियम और बीटा कैरोटिन आदि भी पाया जाता है। हरी मिर्च में भी काफी मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। महज 100 ग्राम हरी मिर्च से आपको करीबन 242 एमजी विटामिन सी प्राप्त होता है। मुनक्के का सेवन न सिर्फ आपको पोषक तत्व प्रदान करता है, बल्कि यह मिनरल के अवशोषण में भी मदद करता है।

विटामिन ई

मुनक्के का सेवन न सिर्फ आपको पोषक तत्व प्रदान करता है, बल्कि यह मिनरल के अवशोषण में भी मदद करता है। अखरोट, बादाम और पालक के अलावा कई तरह के बीजों के माध्यम से शरीर में इसकी पूर्ति की जा सकती है। ब्रॉकली में भी विटामिन ई पाया जाता है।

विटामिन डी

विटामिन डी वसा में घुलनशील विटामिन है। ये सूर्य के प्रकाश (धूप) के संपर्क में आने पर शरीर की कोशिकाओं द्वारा बनने वाला एक स्टेरॉयड है। अगर आप पर्याप्‍त मात्रा में धूप नहीं ले सकते हैं या आप किसी ऐसी जगह पर रहते हैं जहां धूप कम आती है तो ऐसी स्थिति में सप्‍लीमेंट्स से भी विटामिन डी की पूर्ति की जा सकती है।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned