मोटापा कम करना है तो नाश्ते में भूलकर भी नहीं खाएं यह ब्रेड

मोटापा कम करना है तो नाश्ते में भूलकर भी नहीं खाएं यह ब्रेड

By: Subodh Tripathi

Updated: 22 Apr 2021, 08:48 PM IST

मोटापा जिस व्यक्ति पर हावी हो जाता है। उसका शरीर बेडौल नजर आता है और वह खुद को स्लिम बनाने के लिए हर संभव प्रयास करता है। लेकिन कई बार हालात ऐसे हो जाते हैं कि वह चाह कर भी अपना वजन कम नहीं कर पाता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगर आप भी मोटापे के शिकार हैं और मोटापा कम करना चाहते हैं। तो अपने नाश्ते से लेकर भोजन तक में कुछ बदलाव कीजिए।

दरअसल कुछ लोग नाश्ते में ब्रेड का सेवन अधिक करते हैं या यूं कहें तो अधिकतर लोग नाश्ते में ब्रेड का सेवन ही करते हैं। बच्चे तो आजकल ब्रेड बड़े शौक से खाते हैं। क्योंकि ब्रेड से सैंडविच सहित अन्य कई प्रकार की चीजें बन जाती है। लेकिन यह ब्रेड बहुत जल्दी पेट को बढ़ाती है। इसलिए जहां तक हो सके ब्रेड का उपयोग नहीं करना चाहिए। हालांकि लोग नाश्ता तैयार करने में समय कम लगने के कारण ब्रेड का अधिक उपयोग करते हैं। ब्रेड मैदे की बनी होने के कारण आपका वेट जल्दी से बढ़ाती है।

ऐसे तो बाजार में कई प्रकार के ब्रेड मिलते हैं। लेकिन अगर आपका वजन कंट्रोल करना है तो आपको किसी भी प्रकार का ब्रेड और सैंडविच आदि का उपयोग नहीं करना चाहिए। इनके सेवन से बचना चाहिए।

बता दे व्हाइट ब्रेड जो दूधिया कलर का नजर आता है। इस में पोषक तत्व और फाइबर भी नहीं होता है और यह मैदे से तैयार होता है। जो वजन बढ़ाता है और सेहत के लिए भी हानिकारक है। इसका अधिक सेवन मधुमेह और हृदय रोग को बढ़ावा देता है।

बाजार में मल्टीग्रेन ब्रेड भी मिलती है। यह मैदे और आटे से नहीं बनी होती है। इसमें जो, अलसी के बीज, सोयाबीन, बाजरा और अन्य अनाज शामिल किए जाते हैं। इसमें प्रोटीन और फाइबर भी पर्याप्त मात्रा में होते हैं। और पोषक तत्व भी रहते हैं। इसलिए जिन लोगों को वजन कम करना है या वजन नहीं बढ़ाना है। वह मल्टीग्रेन ब्रेड का उपयोग कर सकते हैं। लेकिन सीमित मात्रा में ही करें। यह ब्रेड अनाज और फाइबर से बनी होती है। इसे खाने से पेट भी काफी देर तक भरा रहता है ओर यह शरीर को पोषण भी देती है।

बाजार में सफेद ब्रेड से बने सैंडविच आदि मिलते हैं। इन्हें खाने से बचना चाहिए। वही मल्टीग्रेन ब्रेड आपके लिए फायदेमंद हो सकती है। लेकिन इसका भी उपयोग वैकल्पिक रूप में करने से आपका वजन नहीं बढ़ेगा।

Subodh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned