कोरोना काल में श्वसन तंत्र को मजबूत करना है तो हर दिन करें यह योग प्राणायाम

कोरोना काल में श्वसन तंत्र को मजबूत करना है तो हर दिन करें यह योग प्राणायाम

By: Subodh Tripathi

Updated: 26 Apr 2021, 05:44 PM IST

कोरोना काल में सबसे जरूरी है। अपने श्वसन तंत्र को मजबूत रखना। क्योंकि अधिकतर लोगों को सांस लेने में तकलीफ होने के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। अगर आपका श्वसन तंत्र मजबूत होगा तो आपको किसी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। इसीलिए आज हम आपको अपना श्वसन तंत्र मजबूत करने के लिए कुछ योग प्राणायाम करने का तरीका बता रहे हैं।

ऐसे तो योग प्राणायाम करने से आपका शरीर स्वस्थ रहता ही है। लेकिन इस समय आपको अपनी इम्यूनिटी मजबूत करने के लिए योग प्राणायाम करना बहुत जरूरी है। योग प्राणायाम करने से आपका श्वसन तंत्र मजबूत होगा। जो आपको इस समय बीमारियों से बचाएगा।

आजकल स्वस्थ रहने के लिए लोग योग को अपने जीवन का हिस्सा बना रहे हैं। कई लोग तो सुबह शाम योग करते हैं। लेकिन अगर आपको समय का अभाव है। तो आप दिन में एक बार तो कम से कम करीब आधे से पोन घंटे तक योग प्राणायाम और व्यायाम करें। इससे आपका श्वसन तंत्र मजबूत होगा।

प्राणायाम करने से शरीर में ऑक्सीजन का संचार काफी तेज गति से होता है। आप भस्त्रिका कर सकते हैं। इससे आपके हृदय रोग भी दूर होते हैं। इस योग से सांस और गले से संबंधित तकलीफ भी दूर होंगी। इसके लिए आप सुबह या शाम जब भी आपको समय मिले स्वच्छ वातावरण में बैठ जाएं और इसके बाद अपनी गर्दन और रीढ़ की हड्डी को एक सीध में रखें। शरीर झुका और ढीला ढाला ना हो। इसके बाद लंबी सांस लें और फेफड़ों में वायु को भर जाने दे। इसके बाद एक बार में तेजी से सांस छोड़ें। इस आसन को एक बार में कम से कम 10 बार करें।

उज्जायी प्राणायाम करने से आपके शरीर को काफी फायदे मिलते हैं। इससे एकाग्रता बढ़ती है और चिंता दूर होती है। आपके फेफड़े भी सही ढंग से काम करने लगते हैं। इस योग के लिए गहरी सांस लेकर छोड़ी जाती है और इससे आपका श्वसन तंत्र मजबूत होता है।

कपालभाति करने से भी आपका श्वसन तंत्र मजबूत होता है। इस योग को करने में सांस को लंबे समय तक रोकने की कोशिश की जाती है। साथ ही पेट और फेफड़ों की मदद से सांस को बाहर छोड़ा जाता है। इससे फेफड़ों की शुद्दी होती है। इस योग को करने से पाचन और श्वसन तंत्र मजबूत होता है।

हमारे द्वारा बताए जा रहे सभी योग प्राणायाम सामान्य है। जिसे अधिकतर लोग करते भी हैं। फिर भी अगर आपको किसी प्रकार की दिक्कत है, या करने में परेशानी होती है। तो आप प्रशिक्षित योग गुरु से सलाह लेकर या उनके मार्गदर्शन में करें। ताकि किसी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़े।

Subodh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned