जानिए, क्यों अच्छे हैं वैक्सीन से होने वाले कुछ साइड इफेक्ट्स? देते है ये संकेत

  • सिर दर्द, गले में दर्द, थकान, जी मिचलाना, चक्कर आना, जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द वैक्सीन के आम साइड इफेक्ट्स हैं

By: Pratibha Tripathi

Published: 18 Feb 2021, 09:19 PM IST

नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोना ने लाखों जिंदगियां लील ली, इंसान को कोरोना महामारी से बाचाने के लिए वैज्ञानिकों दिनरात एक कर वैक्सीन तैयार करली है। वैक्सिनेशन शुरू भी हो गया है हलांकि वैक्सीन के कुछ साइड इफेक्ट्स भी सुनने को मिल रहे हैं। जैसे सिर दर्द, गले में दर्द, थकान, जी मिचलाना, चक्कर आना, जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द वैक्सीन के आम साइड इफेक्ट्स हैं।

वैक्सीन के एक्सपर्ट बताते हैं कि वैक्सीन से डरने की ज़रूरत नहीं है। इसके कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। पर ऐसे संकेत यह इशारा करते हैं कि वैक्सीन सफलता पूर्वक काम कर रही है। वैसे इन वैक्सीन के कुछ लोगों में गंभीर साइड इफेक्ट्स भी सुनने को मिले हैं पर ऐसा रेयर ही है।

दिसंबर के महीने में इंपीरियल कॉलेज लंदन में एक स्टडी की गई जिसमें यह पाया गया कि UK के एक तिहाई लोग वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। वैक्सीन से जुड़े एक ग्रुप के वेबसाइट पर जानकारी दी गई कि 'इन लक्षणों के दिखने का वास्तव में मतलब है कि आपका इम्यून सिस्टम ठीक वैसा ही काम कर रहा है जैसा कि इसे करना चाहिए।'

जानकार बताते हैं कि जब यह वैक्सीन लगाई जाती है तो वैक्सीन वायरस के खिलाफ इम्यून सिस्टम को संदेश देता है। आपको बतादें इम्यून सिस्टम कोशिकाओं, ऊतकों और अंगों का एक बड़ा नेटवर्क है। कोरोना के बैक्टीरिया या वायरस से लड़ने के लिए ये सारे एक साथ मिलकर काम करते हैं।

हमारे शरीर का इम्यून सिस्टम वायरस के खात्मे के लिए एंटीबॉडी बनाता है। यह एंटीबॉडी रक्तप्रवाह को नियंत्रित कर टी-कोशिकाओं (T-cells) के जरिए उन वायरस की पहचान कर उन्हें खत्म करने का काम करते हैं।

खास बात यह है कि इम्यून सिस्मटम तब तक यह नहीं कर सकता है जब तक कि उसकी मेमोरी सेल को ये याद ना आए कि वह पहले कभी Covid-19 जैसे शक्तिशाली वायरस से लड़ चुका है। वैक्सीन का मुख्य कार्य यही है।

वैक्सीन के कार्य प्रणाली को समझें तो वैक्सीन हमारे इम्यून सिस्टम को वायरस के छोटे, निष्क्रिय टुकड़ों या फिर इसके जेनेटिक मटेरियल से परिचित कराता है। जिसके बाद इम्यून सिस्टम अपनी प्रतिक्रिया देता है और शरीर एंटीबॉडी और टी-कोशिकाएं बनाता है। ऐसा होने के बाद वायरस से लड़ने के लिए शरीर पूरी तरह तैयार हो जाता है। इसमें साइटोकिन्स की भी बड़ी अहम भूमिका होती है। वैक्सीन का साइड इफेक्ट दिखना मतलब वैक्सीन को शरीर रिस्पॉन्ड कर रहा है।

Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned