scriptLung cancer sign: phlegm, fatigue, breathlessness and pain | Signs Of Lung Cancer: लंग कैंसर का संकेत हैं ये 4 लक्षण, चार हफ्ते से ज्यादा रहे दिक्कत तो समझ लें गंभीर है स्थिति | Patrika News

Signs Of Lung Cancer: लंग कैंसर का संकेत हैं ये 4 लक्षण, चार हफ्ते से ज्यादा रहे दिक्कत तो समझ लें गंभीर है स्थिति

Fatigue, breathlessness and pain is sign of Cancer: कोविड ही नहीं, पॉल्यूशन और स्मोकिंग के कारण सबसे ज्यादा फेफड़े अफेक्ट होते हैं। इससे लंग्स कैंसर का खतरा भी बढ़ने लगा है।

Published: April 23, 2022 10:18:10 am

लंग की बीमारी कब कैंसर में तब्दील हो जाती है इसका पता नहीं चलता, लेकिन कुछ संकेत ऐसे हैं जिसे देखकर इसकी गंभीरता को समझा जा सकता है।

कैंसर के लक्षण अक्सर अस्पष्ट और गैर-विशिष्ट (non-specific) होते हैं और यही कारण है कि कई बार कैंसर पहली स्टेज में पकड़ में नहीं आता। लेकिन ऐसा नहीं कि इसके लक्षण शरीर पर नजर नहीं आते, बस इसे सामान्य या हल्का समझने की लोग भूल कर जाते हैं। आज आपको फेफड़ों के कैंसर के चार प्रमुख लक्षण बताने जा रहे हैं, जिसके आधार पर आप समय रहते अपना इलाज करा सकते हैं।
lungs.jpg
Four symptoms indicate lung cancer
पीएलओएस वन नामक मेडिकल मैग्जीन में छपी रिपोर्ट के अनुसार बहुत सारी शारीरिक संवेदनाएं हैं, जो अक्सर गैर-विशिष्ट होती हैं, आसानी से समझ में नहीं आती हैं, और कई बार शुरू में प्रभावित व्यक्ति द्वारा फेफड़ों के कैंसर के संकेत के रूप में पहचानी नहीं जाती है, लेकिन अगर यहां दिए लक्षण आपको लंबे समय तक बने रहें, तो अपने लंग्स की जांच कराना न भूलें।
लंग कैंसर के लक्षण- Symptoms of Lung Cancer
डेनमार्क, इंग्लैंड और स्वीडन में फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित 61 लोगों की लंबे समय तक नजर आने वाली समस्याओं पर अध्ययन के बाद यह सामने आया है कि ये चार लक्षण लंग कैंसर का संकेत होते हैं।
1. थकान महसूस होते रहना-अगर बिना काम किए भी आप थका महसूस करते हैं, या शरीर में हर वक्त हरारत बनी रहती है तो ये लक्षण सही नही हैं।

2. सांस फूलने की समस्या- बिना मेहतन के भी सांस का फूलना सीधे तौर पर लंग्स की समस्या को बताता है। लंबे समय तक ये समस्या बनी रहे तो ये फेफड़े के कैंसर का संकेत हो सकती है।
3. सीने में भारीपन या दर्द- सीने में भारीपन या दर्द बने रहना, या अचानक से दर्द का उठना भी फेफड़े के कैंसर को बताता है।

4. हल्के कफ के साथ खांसी का आना - खांसी रेस्पिरेटरी सिस्टम के बारे में बहुत सी बातें बताती हैं। जब भी एयरवेज़ में किटाणु या कोई नुकसानदायक तत्व पहुंचता है तो खांसी शरीर की सबसे पहली प्रतिक्रिया होती है। फेफड़ों के कैंसर के मामले में भी बीमारी को पहचानने के लिए खांसी सबसे पहला और जरूरी संकेत है। अगर खांसी हफ्तों या महीनों तक लगातार रहती है तो ये फेफडों में कैंसर का संकेत हो सकता है। फेफड़ों के कैंसर में खांसी के साथ कुछ खास लक्षणों पर भी ध्यान देना जरूरी है। जैसे- बलगम में खून या लाल रंग का बलगम आना।
डॉक्टर को कब दिखाएं- when to see a doctor

अगर आप चार सप्ताह या इससे अधिक खांसी में अलग तरह की आवाज महसूस कर रहे हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। खांसी किसी आम या गंभीर वजह से हो सकती है। इसे बिल्कुल नजरअंदाज ना करें।
डिस्क्लेमर- आर्टिकल में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए दिए गए हैं और इसे आजमाने से पहले किसी पेशेवर चिकित्सक सलाह जरूर लें। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने, एक्सरसाइज करने या डाइट में बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

अब तक 11 देशों में मंकीपॉक्स : शुक्रवार को WHO की इमरजेंसी मीटिंग, भारत में अलर्ट, अफ्रीकी वैज्ञानिक हैरानWeather Update: दिल्ली सहित इन राज्यों में बदला मौसम ​का मिजाज, आंधी-बारिश की संभावनाMP में ओबीसी आरक्षण: जिला पंचायत 30, जनपद 20 और सरपंचों को 26 फीसदी आरक्षणInflation Around the World: महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचारसावधान! अब हेलमेट पहनने के बावजूद कट सकता है 2 हजार रुपये का चालान, बाइक चलाने से पहले जान लें नया नियमCNG Price Hike: फिर महंगी हुई सीएनजी, एक हफ्ते में दूसरी बढ़ोतरी, चेक करें लेटेस्ट रेटIPL 2022 RR vs CSK: चेन्नई को हरा टॉप 2 में पहुंची राजस्थानIPL 2022 Point Table: गुजरात और राजस्थान ने प्लेऑफ में टॉप 2 में जगह की पक्की, आरसीबी-मुंबई दिल्ली भरोसे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.