Signs of mental fatigue: मानसिक थकान सेहत के लिए होती है बहुत हानिकारक

Signs of mental fatigue: यदि आप बार-बार बीमार हो जाते हैं और खुद को अकेला या थका हुआ महसूस करते हैं तो ये शारीरिक समस्या ही नहीं बल्कि मानसिक थकान से भी हो सकता है। इसलिए इसको इग्नोर न करें और इसपर जरूर ध्यान दें।

By: Neelam Chouhan

Published: 23 Jul 2021, 01:04 PM IST

नई दिल्ली। कभी-कभी हम शारीरिक थकान ही नहीं बल्कि मानसिक थकान भी महसूस करते हैं। यदि आपको नींद बहुत अच्छी लगने लगे और सर्दी, जुखाम, बुखार जैसी बीमारियां जल्दी-जल्दी होने लगें या फिर माइग्रेन या सिर में दर्द रहने लगे, तो समझ जाइए ये बीमारी लगातार आपको कमजोर बना रही है। यह एक प्रकार के मानसिक थकान (Signs of mental fatigue ) का संकेत भी हो सकता है जिसको अनदेखा नहीं करना चाहिए।

मानसिक थकान क्या होती है

जब आप किसी भी चीज़ को लेकर बहुत सोच लेते हैं या चिंताग्रस्त हो जातें हैं, तो यह एक प्रकार मानसिक थकान का कारण बन सकता है। और ये आपको इतना थका हुआ महसूस कराता है कि आप खुद को बीमार समझने लगते हैं।

यह भी पढ़ें- कौन से बुरी आदतें दिमाग पर बुरा असर डाल सकती हैं

मानसिक थकान के संकेत

1. एंजाइटी

जब भी आप किसी को लेकर सोचते हैं और चिंता करने लगते हैं तो आपको एंजाइटी होने लगती है। यह भी एक प्रकार की मानसिक थकान का संकेत है।

2. भूख कम लगना

यदि आप पहले खाना समय-समय पर खाते थे और अब आपको भूख कम लगने लगी हो या खाना खाने की इच्छा धीरे-धीरे खत्म होती जा रही हो, तो सतर्क हो जाइये। यह भी एक मानसिक थकान के पीछे का कारण हो सकता है।

3. नींद ना आना

यदि नींद ना आती हो और आप देर-देर रात तक जागते रहते हों, तो यह दिक्कत की बात है। ऐसे में डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

4. फोकस ना कर पाना

यदि आपको बताया कुछ जाता हो और आप कर कुछ रहें हों, तो ये बहुत बड़ी समस्या है। सही तरीके से फोकस ना कर पाना भी एक तरीके की मानसिक बीमारी है।

5. बात को भूल जाना

यदि आप जल्दी-जल्दी बातों को भूल जाते हैं तो यह बहुत बड़ी दिक्कत हो सकती है और अगर ये दिक्कत दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही हो तो डॉक्टर को अवश्य दिखाएं।

यह भी पढ़ें- क्यों इंटरनेट बच्चों के दिमाग पर गलत असर डाल रहा है

मानसिक थकान को कम करने के उपाय

1. ब्रीदिंग एक्सरसाइज करें

आप रोज़ 15 मिनट यदि ब्रीदिंग एक्सरसाइज करेंगें तो आपकी मानसिक थकान धीरे-धीरे कम होती चली जाएगी और आप खुद को तरोताजा महसूस करेंगे।

2. एक साथ एक काम करें

मल्टीटास्किंग करना अच्छी बात है पर ध्यान दें की दिमाग का रेस्ट करना भी बेहद जरूरी है इसलिए एक साथ एक ही काम करें।

3. बाहर घूमें

थोड़ा सा समय निकल कर बाहर जरूर घूमें, यह आपकी टेंशन को कम कर देगा और आप फिट भी रहेंगे।

यह भी पढ़ें-मानसिक स्वास्थ्य का कैसे रखें खास ध्यान

Neelam Chouhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned