जानें पीलिया क्या है और क्या हैं इसके घरेलू उपचार

पीलिया(Jaundice): पीलिया होने पर घबराएं नहीं करें घरेलू उपचार जिससे पीलिया जल्द से जल्द ठीक होने में मदद होगी और यह बहुत ही कम दामों में आसानी से बाज़ार से खरीदी जा सकती है|

By: Mahima Soni

Published: 22 Sep 2021, 04:36 PM IST

लखनऊ.पीलिया(Jaundice): जब शरीर में बिलीरुबिन का स्तर बढ़ जाता है तब हमारे शरीर की त्वचा, नाख़ून और आँखों का सफ़ेद भाग पीला पड़ने लगता है| इस समस्या को ही पीलिया कहते हैं| और इसमें लिवर भी काम करना बंद कर देते हैं जिससे समस्या गंभीर रूप भी ले सकती है और परेशान होकर लोग डॉक्टर के पास जाने के अलावा तरह-तरह के उपाय करने लगते हैं| लेकिन क्या आप जानते इस परेशानी का घरेलू उपचार भी है, अगर नहीं तो आइये जानते हैं इसके बारे में -

पीलिया क्या है (What is Jaundice)
पीलिया तब होता है, जब शरीर में बिलीरुबिन नामक पदार्थ बहुत ज्यादा हो जाता है। बिलीरुबिन की मात्रा बढ़ जाने से लिवर पर बुरा प्रभाव पड़ता है, और इससे लिवर के काम करने की क्षमता कमजोर पड़ जाती हैं। बिलीरुबिन धीरे-धीरे पूरे शरीर में फैल जाता है जिससे व्यक्ति को पीलिया रोग हो जाता है।

पीलिया के लक्षण (Jaundice Symptoms)
-त्वचा, नाखून और आंख का सफेद हिस्सा तेजी से पीला होने लगता है।
-फ्लू जैसे लक्षण दिखाई देना- इसमें मितली आना, पेट दर्द, भूख ना लगना और खाना ना हजम होना जैसे लक्षण
-वजन घटना
-गाढ़ा/पीला पेशाब होना
-लगातार थकान महसूस करना
-भूख नहीं लगना
-पेट में दर्द होना
-बुखार बना रहना
-हाथों में खुजली होना

पीलिया होने के कारण (Jaundice Causes)
बिलीरुबीन पीले रंग का पदार्थ होता है। ये रक्त कोशिकाओं में पाया जाता है। जब ये कोशिकाएं मृत हो जाती हैं तो लिवर इनको रक्त से फिल्टर कर देता है। जब लिवर में कुछ दिक्कत होने के चलते यह प्रक्रिया ठीक से नहीं हो पाती तो बिलीरुबीन बढ़ने लगता है। इसी के चलते त्वचा पीली नजर आने लगती है। लिवर में गड़बड़ी के कारण, बिलीरुबिन शरीर से बाहर नहीं निकलता है, और इससे पीलिया हो जाता है। इसके अलावा नीचे दिए जा रहे कारण से भी पीलिया हो सकता है, जैसे-
-हेपेटाइटिस
-पैंक्रियाटिक कैंसर
-बाइल डक्ट का बंद होना
-एल्कोहल से संबधी लिवर की बीमारी
-दूषित वस्तुएं और गंदा पानी पीने से।
-कुछ दवाओं के चलते भी यह समस्या हो सकती है।

यह भी पढ़ें- कैंसर बनने से पहले गॉलब्लेडर में स्टोन का करें घरेलू उपचार, जानें पूरी जानकरी

पीलिया का घरेलू इलाज करने के लिए उपाय (Home Remedies for Jaundice)
1) पीलिया का इलाज गन्ने के रस से (Sugarcane: Home Remedy for Jaundice)
पीलिया के इलाज (Piliya ka ilaj) में गन्ने के रस को अगर दिन में तीन से चार बार पिया जाये तो काफी फायदेमंद साबित हो सकता है| और ऐसा माना जाता है की अगर
पीलिया से बीमार व्यक्ति सत्तू खाकर गन्ने का रस पिता है तो सप्ताह भर में ही पीलिया ठीक हो सकता है। और अगर गेहूं के दाने के बराबर सफेद चूना गन्ने के रस में मिलाकर पिया जाये तो भी जल्द से जल्द पीलिया दूर हो सकता है।
2) पीलिया का उपचार हल्दी से (Turmeric: Home Remedy to Treat Jaundice)
पीलिया होने पर आप एक चम्मच हल्दी को आधे गिलास पानी में मिलाके रोजाना दिन में तीन से चार बार पीने से शरीर में मौजूद सभी विषाणु पदार्थ मर जाएंगे जिससे बिलीरुबिन को शरीर से बाहर करने में मदद मिलती है और साथ ही शरीर के खून की सफाई भी हो जाती हैं।
3) पीलिया का उपचार संतरे से (Orange: Home Remedy to Treat Jaundice)
संतरा पाचनतंत्र को सुधारने का काम करती है। संतरे के रस को पीने से बिलीरुबिन की मात्रा कम होती है, और लिवर की कमजोरी भी दूर होती है।
4) पीलिया का उपचार टमाटर से (Tomato: Home Remedy for Jaundice Treatment)
टमाटर में लाइकोपीन की मात्रा काफी ज्यादा होती है। सुबह खाली पेट टमाटर का रस लेने से लिवर स्वस्थ होता है।
5) पीलिया का उपचार धनिया से (Dhaniya: Home Remedy for Jaundice Treatment)
धनिया के बीजों को 7-8 घण्टे भिगो कर रखने के बाद, धनिया पानी को हरी सब्जी या रोटी बनाने में इस्तेमाल करने से पीलिया को काम किया जा सकता है।
6) पीलिया का उपचार छाछ-मट्ठा से (Buttermilk: Home Remedies to Treat Jaundice)
पीलिया होने पर रोज सुबह-शाम 1-1 गिलास छाछ या मट्ठा में सेंधा नमक मिलाकर पीने से पीलिया को काम करने में काफी मदद मिलती है|
7) पीलिया का उपचार दही से (Curd: Home Remedy for Jaundice Prevention)
पीलिया रोग में दही का सेवन करने से बैक्टीरिया के संक्रमण की रोकथाम होती है। दही पीलिया के लक्षणों को कम करने में बहुत अधिक लाभ पहुंचाता है।
8) पीलिया का उपचार नारियल पानी से (Coconut: Home Remedy for Jaundice Treatment)
पीलिया रोग के इलाज (Piliya ka ilaj) के दौरान नारियल पानी पीने से लीवर और पाचनतंत्र स्वस्थ रहता है|
9) पीलिया का उपचार पपीता से (Papaya: Home Remedy to Treat Jaundice)
कच्चे पपीते की बिना मसाले की सब्जी बनाकर खाएँ और पका पपीता खाने से भी पीलिया के लक्षणों (Piliya ke Lakshan) में कमी आती है।
10) पीलिया का उपचार तुलसी से (Tulsi: Home Remedies for Jaundice Treatment)
तुलसी के पत्ते 5 ग्राम और पुनर्नवा की जड़ 5 ग्राम मात्र पीसकर रोज सुबह-शाम सेवन करने से पीलिया के इलाज में लाभ मिलता है।

यह भी पढ़ें- अगर सोते समय आपको भी सांस लेने में दिक्कत होती है, तो आप भी हो सकते हैं नींद से होने वाली बीमारी के शिकार

Mahima Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned