Scientific reason: कुछ चीजों के पीछे छिपे जानें वैज्ञानिक कारण

रोजमर्रा के जीवन में हमारे साथ कई वैज्ञानिक घटनाएं घटती हैं, जिन्हें हम नजरंदाज कर देते हैं या फिर हमें उनका पता ही नहीं चलता। हम ऐसी ही कुछ चीजों के पीछे छिपे विज्ञान science के बारे में जानेंगे-

By: Jitendra Rangey

Published: 23 Dec 2019, 10:55 AM IST

सर्दी winter में हमारे हाथ और होंठ lips क्यों फट जाते हैं?
हमारी त्वचा हमारे शरीर का सबसे संवेदनशील और महत्वपूर्ण अवयव है। वयस्क शरीर के सम्पूर्ण भार का लगभग 7 प्रतिशत हिस्सा त्वचा का होता है। हमारी त्वचा चोट, घातक जीवाणुओं (Injury, Deadly Bacteria) के हमलों तथा वातावरण के हानिकारक प्रभावों से शरीर के आंतरिक हिस्सों की रक्षा करती है। हमारी बाहरी त्वचा टाइल जैसी मृत कोशिकाओं से बनी होती है, उन्हें त्वचा के नीचे मौजूद जीवित कोशिकाओं से केरोटीन नामक प्रोटीन प्राप्त होता है। हमारी बाहरी त्वचा में ऐसी ग्रथियां भी होती हैं जो मेलानिन हॉर्मोन Melanin hormone बनाती हैंं। मेलानिन सूरज की किरणों में मौजूद हानिकारक पराबैंगनी किरणों से हमारी रक्षा करता है। त्वचा की सतह में मौजूद सिबेशस ग्रंथियां सीबम नाम का एक तैलीय द्रव छोड़ती हैं जो नलिकाओं के साथ प्रवाहित होता हुआ बाहरी त्वचा पर आ जाता है। इस स्त्राव के कारण हमारी त्वचा मुलायम और चिकनी बनी रहती है। यह द्रव हमारी त्वचा को रूखी होने से बचाता है। सर्दियों के मौसम में हवा रूखी होती है। जब यह रूखी हवा शरीर को छूती है तब यह बहुत तेजी से पानी को सोख लेती है और बाहरी परत में पानी की कमी के कारण पपड़ी और दरारें आने लगती हैं। त्वचा में स्नायु कोशिकाएं भी होती हैं जो मस्तिष्क को गर्मी, सर्दी और दर्द का अहसास कराती हैं। चूंकि हमारे होठों में तेल ग्रंथियां होती हैं इसलिए सबसे पहले वही फटते हैं।

बाइक चलाते समय आंखों से आंसू क्यों निकलते हैं?
जब हम बाइक चलाते हैं या बाइक के पीछे बिना चश्मा पहने बैठते हैं तो हमारी आंखों में आंसू आने लगते हैं। इन आंसूूओं के आने का कारण है कि जब तेज गति से हवा हमारी आंखों से टकराती है, तो हवा हमारी आंखों में उपस्थित नमी को सोख लेती है। हमारी आंख उस नमी को बरकरार रखने के लिए अधिक से अधिक आंसू बनाती है क्योंकि आंख के जिस भाग से आंसू बाहर निकलते हैं, वह इतने अधिक आंसूओं को बाहर नहीं निकाल पाता है और आंसू हमारी आंखों से बाहर आने लगते हैं।

खून के धब्बे सूखने के बाद काले क्यों हो जाते हैं?
दसअसल हमारे खून में हीमोग्लोबिन और ऑक्सीजन (Hemoglobin and oxygen) होते हैं, जिसकी वजह से ये लाल रंग का दिखाई देेता है। खून में आयरन और ऑक्सीजन की प्रचुर मात्रा होती है। जैसे ही खून हमारे शरीर से अलग होता है इसमें ऑक्सीजन की मात्रा धीरे धीरे कम होने लगती हैै। खून में ऑक्सीजन की कमी से खून का लाल रंग धीरे-धीरे कम होने लगता है और खून काले रंग का दिखाई देने लगता हैै। यह रंग हवा के संपर्क में आने के बाद धीरे-धीरे बदलता है।

जुगनू क्यों चमकता है?
जुगनू एक प्रकार का उडऩे वाला कीड़ा है, जिसके पेट में रासायनिक क्रिया से रोशनी पैदा होती है। इसे बायोल्युमिनेसेंस कहते हैं। यह कोल्ड लाइट कही जाती है इसमें इंफ्रा रेड और अल्ट्रा वॉयलेट देनों फ्रीक्वेंसी नहीं होतीं।

Jitendra Rangey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned