25 अप्रैल 2020 को बुध का गोचर, जानिये शुभ अशुभ प्रभाव

बुध का मेष राशि में गोचर...

By: दीपेश तिवारी

Published: 18 Apr 2020, 05:09 PM IST

बुध ग्रह एक बार फिर इसी महीने अपनी राशि बदलने जा रहा है, दरअसल 25 अप्रैल 2020 ,शनिवार को प्रातः 2:26 बजे (24 अप्रैल 2020 की रात्रि) मीन राशि से निकल कर मंगल की मेष राशि में प्रवेश करेगा और 9 मई 2020 तक इसी राशि में स्थित रहेगा।

मेष राशि काल पुरुष की कुंडली में प्रथम भाव अर्थात लग्न भाव की राशि मानी जाती है। यह अग्नि तत्व की राशि भी है, इसलिए इस राशि में बुध का गोचर शीघ्रता से अपने परिणाम देगा।

वहीं इससे पहले मेष राशि में पहले से ही उच्च अवस्था में सूर्य ग्रह बैठा हुआ है, और बुध और सूर्य का योग ही बुधादित्य योग का निर्माण करता है। बुध एक तटस्थ ग्रह है यह जिस भी ग्रह के साथ युति करता है उसी ग्रह के अनुसार ही फल देता है।

MUST READ : आपके पैर भी बताते हैं आपका भाग्य, जानें कैसे

https://www.patrika.com/horoscope-rashifal/foot-palmistry-of-the-lines-and-signs-present-in-pastel-of-lord-vishnu-6012807/

मेष राशि में सूर्य प्रबल स्थिति में है। इसलिए यहां बुध का प्रभाव भी शुभ होगा। कई जातकों को इसके शुभ परिणाम प्राप्त होंगे और कुछ जातकों को इसके नकारात्मक फल मिलेंगे। आइए जानते हैं आपकी राशि पर बुध गोचर के शुभ अशुभ प्रभाव-

1. मेष राशि
बुध का गोचर आपकी राशि में होगा। इस दौरान आपको बढ़िया परिणाम मिलेंगे। लाभ होने की प्रबल संभावना है। यहां बुध के साथ सूर्य समाज में आपको मान-सम्मान और पद-प्रतिष्ठा दिलाएगा। आपको शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। अपने आप को सफल बनाने के लिए आप की निर्णय लेने की क्षमता मजबूत होगी और आप इस दौरान जो निर्णय लेंगे, वे भविष्य में आपके लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होंगे। हालांकि आपको अति आत्मविश्वास का शिकार होने से बचना चाहिए

उपायः बुधवार के दिन व्रत रखें।

2. वृषभ राशि
इस अवधि में आपको मिलेजुले परिणाम मिलेंगे। आप अपनी बुद्धि के बल पर बहुत कामों को समझदारी से करेंगे, जिससे विदेशी भूमि पर आपको काफी अच्छा नाम मिलेगा। आप अपने बिज़नेस में काफी अच्छा इन्वेस्टमेंट करेंगे, जो आने वाले समय में आपके काम आएगा। आपके 12वें भाव में बुध आपके खर्चों को बढ़ाएगा। ऐसे में आपके खर्चे बढ़ जाएंगे। परंतु दूसरी ओर अपने शत्रुओं पर हावी होंगे। नौकरी-पेशे में परिवर्तन के योग बन रहे हैं।

उपायः बुध ग्रह की अनुकूलता के लिए चार मुखी रुद्राक्ष धारण करें।

2. वृषभ राशि

3. मिथुन राशि
बुध का गोचर आपके लिए अच्छा होगा। बुध आपके 11वें घर में प्रवेश करेगा। जिससे आपकी आय में वृद्धि होगी। आपके प्रेम जीवन के लिए भी यह गोचर बहुत अनुकूल साबित होगा। इस दौरान आप कोई शुभ समाचार भी प्राप्त कर सकते हैं।

इस गोचर काल में आपको अनेक लंबित पड़े कामों को पूर्ण करने में सफलता मिलेगी, जिससे आपका मनोबल भी बढ़ेगा और सामाजिक दायरा भी आपका काफी विस्तृत होगा। घर में बड़े भाई-बहनों के साथ रिश्ते मधुर होंगे। आप के वरिष्ठ अधिकारियों से भी संबंध बेहतर बनेंगे। लेकिन अपने अहं पर काबू रखें।

उपायः किसी जानकार की सलाह पर बुध ग्रह का यंत्र अथवा रत्न धारण करें।


4. कर्क राशि
बुध के इस गोचर से आपके प्रोफेशन में उतार और चढ़ाव दोनों की स्थिति आएगी। यह अवधि आपके लिए शुभ होगी। इसमें बुध आपके दसवें भाव में जाएगा और यह कार्यक्षेत्र में आपको सफलता दिलाएगा। इस दौरान आपको न केवल कार्य क्षेत्र में बल्कि समाज में मान-सम्मान मिलेगा। कार्यक्षेत्र में आ रही परेशानियां दूर होंगी। आप पर काम का बोझ अधिक रहेगा और आप काफी उदास महसूस भी करेंगे। ऐसे में हिम्मत हारने की बजाय और शक्ति लगाकर अपने काम को बढ़िया तरीके से करने का प्रयास करें।

उपायः बुधवार की संध्या काल में किसी तीर्थ स्थल पर या मंदिर में काले तिलों का दान करें।

5. सिंह राशि

5. सिंह राशि
बुध का गोचर आपके भाग्य को बढ़ाएगा। आप समाज कल्याण के कार्य में बढ़कर चढ़कर हिस्सा लेंगे। लोगों के हित में कार्य करने से आपको शांति मिलेगी। इस अवधि में आपको गुरु अथवा गुरुतुल्य व्यक्ति का पूर्ण आशीर्वाद प्राप्त होगा। यह समय आपको धन के मामलों में मजबूत बनाएगा और आपकी आर्थिक स्थिति को समृद्ध बनाएगा। इस गोचर के प्रभाव से आपकी रुकी हुई योजनाएं गति पकड़ेंगी और आपके कामों में सफलता मिलेगी।

उपायः बुधवार के दिन पौधे लगाएं।

6. कन्या राशि
इस गोचर के आपको मिश्रित परिणाम मिलेंगे। इससे कार्य क्षेत्र में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनेगी और आपको ऐसा महसूस हो सकता है कि आपके प्रयास पूर्ण रूप से सफल नहीं हो रहे हैं और आपका कार्य क्षेत्र से मन भटक सकता है। इस दौरान गूढ़ विज्ञान विषय में आप रुचि लेंगे। रहस्यों को जानने की इच्छा तीव्र होगी।

इस दौरान आपके ननिहाल पक्ष को किसी तरह की आर्थिक हानि हो सकती है। आपको अपनी सेहत को लेकर थोड़ा सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी। लेकिन बुध आपकी आमदनी में बढ़ोतरी का मार्ग सुझाएगा और अप्रत्याशित रूप से आपको धन लाभ हो सकता है। कुछ लोगों को इस समय में अपनी बुद्धि के प्रयोग से गुप्त तरीकों से भी धन की प्राप्ति हो सकती है।

उपायः बुध ग्रह के बीज मंत्र ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः का नियमित जाप करें।

7. तुला राशि

7. तुला राशि
ह गोचर आपके लिए सामान्य तौर पर अनुकूल कहा जा सकता है क्योंकि गोचर काल में आपको व्यापार में उन्नति होगी और आपका कारोबार आगे बढ़ेगा। यदि आप इस समय में कोई नया काम भी करना चाहते हैं तो वह फलीभूत होगा और आपको उस काम में सफलता मिलेगी। भाग्य का आपको पूरा साथ मिलेगा,लेकिन बुध के गोचर से आपमें से कुछ को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। खासकर आपके दांपत्य जीवन पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

उपायः बुधवार के दिन विधारा की जड़ को जल में भिगोकर स्नान करने से अनुकूल परिणाम मिलेंगे।

8.वृश्चिक राशि
इस गोचर काल में आपको स्वास्थ्य संबंधित अनेक परेशानियां हो सकती हैं। आपकी त्वचा का रंग बिगड़ सकता है। इसके प्रति आपको सतर्क रहना चाहिए। इसके अलावा अपने लोगों से वाद विवाद के कारण आपको परेशानी उठानी पड़ सकती है और आपके खर्चे भी काफी बढ़ सकते हैं। वहीं आप में से कुछ के लिए बुध का गोचर शुभ साबित हो सकता है। जिसके चलते अनुकूल परिणाम मिलने की संभावना के बीच सरकार की ओर से कुछ मदद मिलेगी।

उपायः बुधवार के दिन हरी घास गौ माता को अपने हाथ से खिलाएं।

9. धनु राशि

9. धनु राशि
बुध का गोचर आपके पांचवें भाव में होगा। आपकी आमदनी में निरंतर वृद्धि करने वाला साबित होगा और आपकी योजनाएं आगे बढ़ेंगी। केवल इतना ही नहीं, व्यापार में भी आपको अच्छे लाभ की उम्मीद करनी चाहिए। आपके जीवन साथी को भी इस गोचर काल में अच्छा लाभ मिलेगा और यदि कहीं कार्यरत हैं तो उनको नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है, लेकिन आप में से कुछ को संतान की सेहत का ध्यान व प्रेम संबंधी मामलों में भी धैर्य से काम लेना होगा।

उपायः हर दिन चंद्र देव की आराधना करें।

10. मकर राशि
बुध के गोचर से आपको लाभ की प्राप्ति होगी। इस गोचर के प्रभाव से आपको अनेक प्रकार की सुख सुविधाओं की प्राप्ति होगी और आप कोई नया वाहन भी खरीद सकते हैं। धन बचत कर पाने में सफल होंगे। सुखों में वृद्धि होगी। नौकरी-पेशे के लिए भी समय अनुकूल है। बस अपनी मेहनत को न छोड़ें। लेकिन वाहन चलाने में थोड़ी सावधानी भी बरतनी होगी। विशेष रूप से दो पहिया वाहन से दुर्घटना होने के योग बन सकते हैं, इसलिए थोड़ा सावधान रहें।

उपायः बुध देव की विशेष कृपा प्राप्ति के लिए विधारा मूल धारण करें।

11. कुंभ राशि

11. कुंभ राशि
तीसरे भाव में बुध का गोचर आपके पराक्रम में वृद्धि करेगा। कम्युनिकेशन स्किल से अच्छे लाभ देगा। इस अवधि में आपके प्रयास आपको सफलता दिलाएंगे। आपके जोश और उत्साह में वृद्धि होगी। आप निडर होकर कार्य करेंगे।

आपको कुछ नए लोगों से मिलने का मौका मिलेगा, जो आपके व्यापार को नई दिशा देने में मदद करेंगे। आपको अचानक से कुछ यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं, इसलिए उन यात्राओं के प्रति थोड़ा सावधानी बरतें क्योंकि उनसे आपको आर्थिक और शारीरिक समस्या हो सकती है।

उपायः बुधवार के दिन हरी साबुत मूंग की दाल गौ माता को अपने हाथों से खिलाएं।

12. मीन राशि
दूसरे भाव में बुध का गोचर आपकी संवाद शैली को मजबूत करेगा। व्यापार के मामले में यह गोचर आपके लिए काफी फ़ायदेमंद साबित होगा और आपकी दूरदर्शिता और नई-नई स्ट्रेटजी आपके बिज़नेस को नई रफ्तार पर लेकर जाएंगे। इस दौरान आपके धन में वृद्धि होगी।

अगर रुका हुआ पैसा है तो वह आपके पास आएगा। इस समय आप अपने धन की बचत कर पाने में कामयाब हो सकते हैं। इस दौरान आपकी वाणी में आकर्षण बढ़ेगा, लेकिन आप तीव्र प्रतिक्रिया देने वाले बनेंगे। जो नुकसान का कारण बन सकता है।

उपायः बुधवार के दिन राधा जी का श्रृंगार करने के उपरांत उनकी पूजा अर्चना करें।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned