पुलिस ने रोका तो जिलाध्यक्ष का बेटा बोला, गाड़ी नंबर नोट कर लो, चालान घर पहुंचा देना!

 

  • नर्मदा के घाटों पर टूटा लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंस...
  • पुलिस के रोेके जाने के मामले से किया कांग्रेस जिलाध्यक्ष के बेटे ने इनकार
  • पुलिस ने स्नान करने व घूमने वालों को खदेड़ा, काटे चालान

होशंगाबाद. शहर के नर्मदा घाटों पर लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंस टूट रहा है। पिछले दो-तीन दिनों से घाटों पर भारी भीड़ वाहनों से पहुंच रही है। रविवार की शाम को शिकायत मिलने पर कोतवाली पुलिस की टीम, निर्भया मोबाइल कलेक्टे्रट के पीछे स्थित हर्बल पार्क तट और कोठीबाजार स्थित विवेकानंद घाट पर पहुंची। पुलिस ने नर्मदा स्नान कर रहे और यहां घूमने व सोशल डिस्टेंस को तोडने वाले लोगों को खदेड़ा और दुपहिया एवं चार पहिया चालकों के चालान भी बनाए गए। अधिकांश लोग मुंह पर मास्क भी नहीं लगाए हुए थे। हद तो तब हो गई जब जिला कांग्रेस अध्यक्ष का बेटा निशांत फौजदार कार लेकर हर्बल पार्क पर घूमने पहुंच गया था। जब लौटते समय पुलिस कर्मियों ने रोका तो बोला-गाड़ी का नंबर नोट कर लो और चालान घर पहुंचा देना। इसके बाद रौब दिखाते हुए वह कार लेकर निकल गया। वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस संबंध में निशांत का कहना है कि वह कार से पत्नी-बच्चों के साथ घूमने गए थे, शाम 7 बजे के पहले घर आए थे। पुलिस कर्मियों से उन्होंने ऐसी कोई बात नहीं की है।

Read this also: एमपी में ये शिक्षक आखिर तेंदू पत्ता एकत्र कर क्यों गुजारा करने को हैं मजबूर

पुलिस रोकी तो जिलाध्यक्ष का बेटा बोला, गाड़ी नंबर नोट कर लो, चालान घर पहुंचा देना!

नर्मदा को कर रहे फिर प्रदूषित

नगर पालिका व जिला प्रशासन ने नर्मदा घाटों पर लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंस का पालन कराने और नर्मदा जल को स्वच्छ बनाए रखने के लिए अनावश्यक आवाजाही, साबुन-शेंपू से स्नान आदि रोक लगा रखी है, लेकिन लोग इसका उल्लंघन कर परिवार व बच्चों को भी घाटों पर ले जाकर पिकनिक और घूमने के नाम पर धमाचैकड़ी मचा रहे हैं।

Read this also: साहब...कोरोना से तो बच गए लेकिन भूख को कैसे देंगे मात

पुलिस रोकी तो जिलाध्यक्ष का बेटा बोला, गाड़ी नंबर नोट कर लो, चालान घर पहुंचा देना!

लगातार शिकायत के बाद रविवार की शाम को कोतवाली टीआई विक्रम रजक ने टीम भेजकर कार्रवाई के निर्देश दिए। आरक्षक महेंद्र सिंह चौहान, अनूप सिंह रघुवंशी सहित निर्भया मोबाइल की टीम ने पहुंचकर हर्बल पार्क तट एवं विवेकानंद घाट एवं कोरीघाट पर जमा हुई लोगों की भीड़ को हटाया और वाहन से पहुंचे लोगों के चालान भी काटे। हर्बल पार्क तट पर 30-40 चार पहिया वाहन (कार-जीप) एवं करीब सौ से डेढ़ सौ बाइक से लोग पहुंचे थे। इधर, समाजसेवी गजेंद्र चौहान गज्जू ने नपा, जिला एवं पुलिस प्रशासन से मांग की है कि मां नर्मदा को स्वच्छ बनाए रखने एवं संक्रमण को रोकने सोशल डिस्टेंस का कड़ाई से पालन कराया जाए।

Read this also: शर्मनाकः पुलिस ने कचरा गाड़ी में शव को भेजवाया अस्पताल

Congress
Show More
धीरेन्द्र विक्रमादित्य
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned