scriptBaba ka dhaba को मशहूर करने वाले यू-ट्यूबर के खिलाफ IPC की धारा 420 के तहत केस हुआ दर्ज, लगे धोखाधड़ी के आरोप | Case filed against u-tuber who made Baba ka dhaba famous | Patrika News
हॉट ऑन वेब

Baba ka dhaba को मशहूर करने वाले यू-ट्यूबर के खिलाफ IPC की धारा 420 के तहत केस हुआ दर्ज, लगे धोखाधड़ी के आरोप

‘बाबा के ढाबा’ को मशहूर करने वाले यू-ट्यूबर गौरव वासन पर लगा धोखाधड़ी का आरोप केस दर्ज
‘बाबा का ढाबा’ के मालिक ने वासन के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत FIR दर्ज

Nov 07, 2020 / 06:14 pm

Pratibha Tripathi

Baba ka dhaba

Baba ka dhaba

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर इन दिनों बाबा का ढाबा काफी सुर्खियां बटोर रहा है। एक समय ऐसा भी था जब लोग बाबा का ढाबें पर आने को तैयार नही थे जिससे उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा रहा था। ऐसी परिस्थिति में बाबा के ढाबे का सहारा बने यू-ट्यूबर गौरव वासन । जिसने सोशल मीडिया के जरिए बाबा के दर्द को जगह जगह पहुंचाया। और बाबा का ढाबा रातों रात एक बड़ा स्टार बन गया। लेकिन अब तेजी से लोकप्रिय हुए ‘बाबा का ढाबा’ के मालिक कांता प्रसाद ने फूड ब्लॉगर और यू-ट्यूबर गौरव वासन के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है। दिल्ली के मालवीय नगर पुलिस स्टेशन में वासन के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत केस दर्ज किया गया है।

बाबा ने धोखाधड़ी का लगाया आरोप

कांता प्रसाद ने 31 अक्टूबर को गौरव वासन नाम के शख्स के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत दी थी बाबा ने अपनी शिकायत में कहा है कि गौरव वासन ने डोनेशन के लिए जानबूझकर अपने और अपने परिवार वालों के बैंक डीटेल और मोबाइल नंबर डाले थे और उन्होंने मदद के नाम पर बड़ी रकम इकट्ठा की और बाद में उनके साथ धोखाधड़ी की।

बाबा ने, कहा- मुझे गालियां दी जा रहीं

वासन पर लगाए आरोपों के बाद से यूजर्स सोशल मीडिया के जरिए बाबा पर तीखी प्रतिक्रिया कर रहे है। तमाम यूजर्स बाबा की यह कहकर आलोचना कर रहे हैं जिससे आहत होकर बुजुर्ग बाबा ने कहा कि 80 साल की उम्र में मुझे गालियां दी जा रही हैं। मैं बहुत गरीब आदमी हूं। कोई कह रहा है कि ‘बाबा लालची’ है, कोई गाली दे रहा है। कोई कहता है मैनेजर रख लिए। 80 साल की उम्र में गाली सुन रहा हूं। आज भी खुद मैं सुबह 6 बजे उठ कर दुकान चलाता हूं, मुझे कोई लालच नहीं है।’

यू-ट्यूबर ने आरोपों से किया इनकार, कहा- कोर्ट में मानहानि का मुकदमा दायर
धोखाधड़ी और हेराफेरी के लगे आरोपों को झूठा बताते हुए यू-ट्यूबर गौरव वासन ने कहा है कि मुझे बदनाम किया जा रहा है। मेरे बैंक खाते में बाबा की मदद के नाम से 25 लाख रुपये नही बल्कि 3.78 लाख रुपये आए थे जिसमें पेटीएम से मिली राशि भी शामिल है। उन्होंने दावा किया कि उन्होंने दो चेक उन्हें (कांता प्रसाद) दिए। एक चेक एक लाख रुपये जबकि दूसरा चेक 2.33 लाख रुपये का था जबकि 45,000 रुपये प्रसाद को पेटीएम के जरिए दिए। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वासन ने कहा है कि वह कोर्ट में मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे।

Hindi News/ Hot On Web / Baba ka dhaba को मशहूर करने वाले यू-ट्यूबर के खिलाफ IPC की धारा 420 के तहत केस हुआ दर्ज, लगे धोखाधड़ी के आरोप

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो