10 रुपए की चाय से मिलेगा कोरोनावायरस से छुटकारा, मेरठ के चायवाले ने किया अनोखा दावा

  • Corona Tea : मेरठ के कलेक्ट्रेट दफ्तर के पास चाय बेचने वाले शख्स ने लगाया जुगाड़
  • कोरोना के नाम पर लोगों को बेच रहा था चाय, पूछताछ में खुला राज

By: Soma Roy

Published: 18 Mar 2020, 10:05 AM IST

नई दिल्ली। कोरोनावायरस (Coronavirus) के आतंक से लोग इतने ज्यादा खौफजदा हैं कि वे इसके बचाव के लिए तरह-तरह की जुगत लगा रहे हैं। फिर चाहे वो दोगुने दाम में हैंड सैनेटाइजर खरीदना हो या महंगे मास्क। लोग किसी भी कीमत पर इससे बचना चाहते हैं। लोगों के इसी डर का फायदा कुछ मुनाफा कमाने वाले लोग भी उठा रहे हैं। हाल ही में कोरोनावायरस से छुटकारा दिलाने के नाम पर एक बाबा ठगी कर रहा था। अब मेरठ में एक ऐसा शख्स सामने आया है जो कोरोना से लोगों को बचाने का दावा कर रहा है। ये व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि वहां कलेक्ट्रेट (Collectorate office) दफ्तर के पास चाय का ठेला लगाने वाला है।

ब्लड ग्रुप ए वालों को है कोरोना का सबसे ज्यादा खतरा, रिसर्च में हुआ खुलासा

शख्स का नाम भूरे है। वह 10 रुपए की लेमन टी से कोरोनावायरस से बचाव का दावा कर रहा है। वह मेरठ के कलेक्ट्रेट के पास अपनी स्टाल (tea seller) लगाता है। भूरे इस बात का दावा करता है क‍ि इस चाय में जो मसाला और नींबू है, उससे कोरोना वायरस अटैक नहीं कर सकता है। उसके इस अनोखी बात को सुनकर चाय पीने वालों की भीड़ लग गई। हर कोई खुद को संक्रमण से बचाना चाहता है।

tea1.jpg

हालांकि बाद में चायवाले से इस बारे में पूछताछ करने पर पता चला कि ये महज एक मार्केटिंग तकनीक थी। उसने रोते हुए बताया कि उसकी बिक्री नहीं हो रही थी। उसे रुपयों की बहुत जरूरत थी। ऐसे में लोगों को चाय खरीदने पर मजबूर करने के लिए उसने कोरोना का नाम लिया। उसने सैनेटाइजर बेचने वाली कंपनियों से प्रेरित होकर ये काम किया। मालूम हो कि इसी तरह कुछ दिनों पहले कोरोना बाबा नाम का एक शख्स सामने आया था। जो लोगों को 11 रुपए में एक ताबीज बनाकर देता था। जिसमें दावा किया गया था कि इसे बांधने पर कोरोना उनका कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा।

Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned