Patrika Fact Finder: क्या धरती पर हो चुकी है डायनासोर की वापसी? जानें सच

सोशल मीडिया (Social media) पर दावा किया जा रहा है कि दुनिया का सबसे खूखांर जानवर डायनासोर (dinosaur ) आ चुका है और साल 2020 के अंत तक हर जगह तबाही मचा देगा।

By: Vivhav Shukla

Published: 08 Jul 2020, 05:55 PM IST

Patrika Fact Finder: इन दिनों पूरी दुनिया थमी हुई है। वजह है कोरोनावायरस(Coronavirus)। साल 2020 आने से पहले ये वायरस चीन में आ चुका था। फिर साल 2020 जैसे बढ़ता गया वायरस का संक्रमण भी बढ़ गया। ताजे आकड़ें के मुताबिक दुनियाभर में 1.5 करोड़ लोग इस वायरस (Corona) से संक्रमित हैं। वहीं 5.5 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना वायरस (Coronavirus) के अलावा इस साल और भी कई मुसिबतें आ चुकी है। अब कहा जा रहा है इस साल दुनिया का सबसे खूखांर जानवर डायनासोर (dinosaur ) आ चुका है और साल अंत तक हर जगह तबाही मचा देगा।

इससे जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें एक नन्हा डायनासोर (dinosaur ) सड़क पर जमा हुए पानी में चहलकदमी करता नजर आ रहा है। वीडियो के साथ कहा जा रहा है कि, बस यही बाकी रह गया था, साल 2020 में डायनासोर भी वापस आ गए हैं।

 
kjnhbgv-png.jpgjhnb-png.jpg

क्या है सच?

Patrika Fact Finder ने जब इस वीडियो की जांच की तो पाया कि ये डायनासोर असली है ही नहीं। दरअसल, इस वीडियो को ऑगमेंटेड रियलिटी तकनीक (Augmented realit) की मदद से बनाया गया है। लेकिन डायनासोर के वीडियो को लोग सोशल मीडिया पर जमकर शेयर कर रहे हैं । वीडियो के साथ लोग दावा कर रहे हैं । 2020 बहुत खतरनाक साल है भाई कोरोना के बाद अब डायनासोर आ गया है। लेकिन लोगों को ये पता नहीं है कि ये एक ऑगमेंटेड रियलिटी (Augmented realit) से बना डायनासोर है।

अगर आप ध्यान से वीडियो को देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि नन्हे डायनासोर पर कुछ लोग पानी के छींटे, कंकड़ वगैरह डाल रहे हैं। इसके बावजूद वह विचलित नहीं हो रहा और एक खास दूरी तक चलकर वापस आ रहा है। ऐसे में आप आसानी से समझ सकते हैं कि ये एक फेक डायनासोर (dinosaur ) है।

kinreslt-png.jpg

कैसे बना वीडियो?

दरअसल, कुछ दिनों पहले Google ने अपने ‘एआर सर्च फीचर ’ (ar search google) में डायनासोर को जोड़ा है। ये वीडियो इसी फिचर की देन है। इस फीचर की मदद से कई अलग-अलग प्रजातियों के डायनासोर को अपने घर में देखा जा सकता है। इस तकनीक को ‘ऑगमेंटेड रियलिटी’ कहते हैं. इसकी मदद से आप भी वैसा वीडियो बना सकते हैं।

गूगल के एक कर्मचारी ने भी इसके बारे में 1 जुलाई, 2020 को ट्वीट किया था। जिसमें ‘एआर सर्च फीचर’ के बारे में बताया गया था।

सोशल मीडिया पर ऐसे हजारों वीडियो पोस्ट है ऐसे में ये नहीं पता चल सका है कि वायरल वीडियो कहां बनाया गया है. लेकिन वीडियो में नजर आ रहा डायनासोर असली नहीं है ये जान लें। जानकारी के लिए बता दें नेशनल ज्योग्रॉफिक की वेबसाइट के मुताबिक, डायनासोर तकरीबन 6.5 करोड़ साल पहले धरती से विलुप्त हो गए थे। इसके बाद से डायनासोर नहीं देखे गए।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned