ISIS के चंगुल में फंसने के बाद लड़की के साथ रोज होती थी ऐसी हैवानियत, आपबीती सुन कांप जाएगी रूह

ISIS के चंगुल में फंसने के बाद लड़की के साथ रोज होती थी ऐसी हैवानियत, आपबीती सुन कांप जाएगी रूह

Sunil Chaurasia | Publish: Aug, 21 2018 11:09:16 AM (IST) हॉट ऑन वेब

आईएस के लड़ाकों ने 100 डॉलर में अबू हुमाम के साथ उसका सौदा कर दिया।

नई दिल्ली। सीरिया और इराक में आईएस के ज़ुल्मों से ये पूरी दुनिया वाकिफ है। आज हम आपको एक ऐसी ही याजिदी लड़की के बारे में बताने जा रहे हैं जो आईएस आतंकियों के चंगुल में फंस गई थी। अश्वाक नाम की इस लड़की को आईएस के आतंकियों ने संघर्ष के दिनों सेक्स स्लेव बना लिया था। इतना ही नहीं अश्वाक के अलावा उसकी चार बहनों को भी दरिंदों ने अपना गुलाम बना लिया था। अश्वाक की उम्र उस वक्त महज़ 14 साल, जब आतंकियों ने उत्तरी इराक पर हमला कर दिया था। उस हमले के बाद आतंकियों ने हजारों महिलाओं को गंदी नीयत से अपना गुलाम बना लिया था।

लेकिन अश्वाक की ज़िंदगी में अभी और भी गम थे, आईएस के लड़ाकों ने 100 डॉलर में अबू हुमाम के साथ उसका सौदा कर दिया। आईएस के चंगुल से छूटने के बाद हुमाम के जाल में फंस चुकी अश्वाक के साथ रोजाना यौन दुराचार और अत्याचार होने लगे। लगातार तीन महीने तक असहनीय दर्द झेलने के बाद अश्वाक को मौका मिला तो वो हुमाम की कैद से छूटकर भाग निकली। हुमाम के चंगुल से निकलते ही अश्वाक अपनी मां और भाई के साथ जर्मनी जा पहुंची। लेकिन हुमाम उसका पीछा करते-करते जर्मनी भी पहुंच गया। एक दिन स्कूल जाते वक्त अश्वाक एक सुपरमार्केट के पास से गली के रास्ते गुज़र रही थी, तभी कार में सवार हुमाम वहां पहुंच गया और उसे आवाज़ लगाई।

अश्वाक ने हुमाम को पहचानने से इंकार कर दिया, लेकिन हुमाम ने जर्मनी में उसके परिवार की पूरी कुंडली बता डाली। हुमाम से ऐसी मुलाकात के करीब पांच दिन बाद अश्वाक ने पुलिस से शिकायक की। लेकिन हुमाम का कोई पता-ठिकाना नहीं पता चला। एक महीने तक इंतज़ार करने के बाद अश्वाक अपने परिवार के साथ इराक लौट गई। अश्वाक ने बताया कि उसकी ज़िंदगी का हर एक पल डर के साए में बीतता है कि कहीं दोबारा हुमाम उस तक न पहुंच जाए। दरिंदगी की कहानी को बयां करते हुए अश्वाक ने कहा कि वो अब दोबारा कभी उन दर्द भरे दिनों को नहीं देखना चाहती। अश्वाक अब अपने पूरे परिवार के साथ ऑस्ट्रेलिया जाना चाहती है।

Ad Block is Banned