लॉकडाउन : पीजी में कैद हुई छात्रा, 24 घंटे रही भूखी प्यासी, जानें कैसे मिली मदद

  • Lockdown Impact : ग्रेटर नोएडा के बीटा 2 स्थित एक पीजी में रहती थी छात्रा
  • 24 घंटे से खाना-पीना व ट्रांसपोर्ट का साधन न मिलने पर छात्रा ने पुलिस से मांगी मदद

Soma Roy

March, 2610:08 AM

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) के आतंक को कम करने के लिए सरकार ने पूरे देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन (Lockdown) कर दिया है। ऐसे में जरूरी चीजों को छोड़कर बाकी सभी चीजें बंद हैं। इस दौरान कई लोगों को ट्रांसपोर्ट (Transportation) और खाने का सामान मिलने में दिक्कतें आ रही हैंं। ऐसी ही परेशानी का सामााना ग्रेटर नोएडा स्थित एक पीजी (stuck in PG) में रह रही छात्रा को भी झेलनी पड़ी। ज्यादातर लड़कियों के घर लौट जाने और आस-पास मूलभूत सुविधाओं के न मिल पाने के चलते लड़की को 24 घंटे तक पीजी में भूखे प्यासे रहना पड़ा।

हिना खान से लेकर कटरीना कैफ बनीं 'गंगूबाई', झाडू-पोंछे से लेकर कर रहीं सारे काम

बताया जाता है कि ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के बीटा 2 के एक पीजी में एक छात्रा पिछले 24 घंटे से अकेले पीजी में फंसी हुई थी। उसके माता-पिता गुरुग्राम (Gurugram) में रहते हैं। वह घर जाना चाहती थी, लेकिन कोई वाहन न मिल पाने के चलते वह पीजी में रहने को मजबूर थी। उसके पास खाने-पीने का भी सामान नहीं था। मजबूरी में उसने 24 घंटे महज पानी पीकर ही गुजारा। जब स्थिति ज्यादा बिगड़ गई तब छात्रा ने हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके मदद मांगी।

girl1.jpg

इस बात की जानकारी होते ही तुरंत मौके पर पुलिस पहुंची और उसे गुरुग्राम स्थित उसके घर के लिए रवाना हुए। ग्रेटर नोएडा की तरह कई छात्र—छात्राएं ऐसी हैं जो पढ़ाई के सिलसिले में घर से दूर रह रहे हैं। मगर लॉकडाउन होने पर वे अपने घर नहीं जा पा रहे हैं। जिसकी वजह से वे दहशत में हैं।

फंस गए हैं पीजी में तो क्या करें
लॉकडाउन की स्थिति में कोशिश करें कि जिस जगह आप हैं, वहीं रहे। वहां आस-पास जरूरी चीजों की दुकान खुली हो तो कुछ सामान खरीदकर अपने पास रख लें। फोन के जरिए अपने घरवालों से संपर्क में रहें, इससे आपको हौंसला मिलेगा। अगर इसके बावजूद आपको कोई परेशानी हो तो हेल्पलाइन नंबर या पुलिस से मदद मांग सकते हैं।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned