scriptआंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव : तेलुगु देशम पार्टी, जन सेना ने उम्मीदवारों की पहली सूची घोषित की | TDP, Jana Sena declare first list of candidates for assembly elections | Patrika News

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव : तेलुगु देशम पार्टी, जन सेना ने उम्मीदवारों की पहली सूची घोषित की

locationहैदराबादPublished: Feb 24, 2024 06:15:07 pm

Submitted by:

Rohit Saini

जन सेना ने 5 और टीडीपी ने 94 उम्मीदवारों की सूची की घोषणा की

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव : तेलुगु देशम पार्टी, जन सेना ने उम्मीदवारों की पहली सूची घोषित की

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव : तेलुगु देशम पार्टी, जन सेना ने उम्मीदवारों की पहली सूची घोषित की

विजयवाड़ा . तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) और जन सेना ने शनिवार को आंध्र प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए अपने उम्मीदवारों की पहली सूची घोषित की। जन सेना ने पांच उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की। दूसरी ओर टीडीपी ने 94 उम्मीदवारों की सूची की घोषणा की। पवन कल्याण के नेतृत्व वाली जन सेना 24 विधानसभा और 3 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी।
टीडीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू ने जन सेना प्रमुख कल्याण के साथ सूची घोषित करने के लिए एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। नायडू ने कहा कि सूची शुभ माघ पूर्णिमा के दिन घोषित की गई थी।
पूर्व मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि टीडीपी-जनसेना गठबंधन समय की जरूरत है और दोनों पार्टियों ने राज्य के व्यापक हित के लिए बलिदान दिया है। नायडू ने आगे कहा कि यह सूची गहन अभ्यास के बाद और राज्य के लगभग 1.05 करोड़ लोगों की राय को ध्यान में रखते हुए तैयार की गई थी।
पवन कल्याण ने कहा कि जन सेना को ज्यादा सीटों पर चुनाव लडऩे से ज्यादा दिलचस्पी जीत के प्रतिशत को लेकर है।
पवन कल्याण ने कहा कि कई दिग्गज नेता और मेरे शुभचिंतक मुझसे कम से कम 70 सीटों पर चुनाव लडऩे की मांग कर रहे हैं। अगर जन सेना 2019 में कम से कम 20 सीटें जीतती तो मैं ऐसा करता। लेकिन हम केवल एक सीट ही जीत सके और मैं भी अपनी सीट से हार गया। अधिक सीटों के लिए सौदेबाजी करने के बजाय, मैं अपने कोटे से अधिकतम सीटें जीतने के लिए प्रतिबद्ध हूं। हम 98त्न स्ट्राइक रेट हासिल करने की दिशा में काम कर रहे हैं और उम्मीदवारों का चयन इसी को ध्यान में रखकर किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ गठबंधन भी सीटों का त्याग करने का एक कारण था। उन्होंने जोर देकर कहा कि वोटों का हस्तांतरण बहुत महत्वपूर्ण है और प्रत्येक जन सेना और टीडीपी नेता जो इस मिशन पर काम करेंगे, उन्हें चुनाव के बाद सम्मानजनक पद मिलेगा।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो