scriptHanuman birth anniversary celebrated with pomp | धूमधाम से मना हनुमान जन्मोत्सव | Patrika News

धूमधाम से मना हनुमान जन्मोत्सव

मंदिरों में अलसुबह से पूजा-अर्चना शुरू- शाम को होंगे भव्य भंडारे, लाखों लोग प्रसादी करेंगे ग्रहण

इंदौर

Published: April 16, 2022 11:12:40 am

इंदौर। सब सुख लहै तु्हारी सरना, तुम रक्षक काहू को डरना... इसका अर्थ है कि जो भी आपकी शरण में आता है, उन सब लोगों को आनन्द की प्राप्ति होती है। जब आप किसी व्यक्ति के रक्षक बन गए हैं तो फिर उसे किसी और से डरने की क्या जरूरत है। ऐसे रामभक्त हनुमान का आज जन्मोत्सव है, जिसे धूमधाम से मनाया जा रहा है। बजरंग बली के मंदिरों में सुबह से भक्तों की भीड़ लगी हुई है तो शाम को भंडारों के आयोजन हैं, जिसमें लाखों लोग प्रसादी ग्रहण करेंगे।
धूमधाम से मना हनुमान जन्मोत्सव
धूमधाम से मना हनुमान जन्मोत्सव
आज अलसुबह 4.30 बजे शहर के मंदिरों में हनुमानजी जन्मोत्सव की हलचल शुरू हो गई थी। मंदिर में विशेष श्रंगार तो कल रात तक पूरा हो गया था पर सुबह बाबा का अभिषेक किया गया। बाद में चोला चढ़ाकर आकर्षक श्रंगार कर सुंदर-सुंदर पोषाक पहनाई गई। साथ में फल और मिठाइयों से भोग लगाया गया। माना जाता है कि जन्मोत्सव पर पूजा करने से संकट, भय, रोग, दोष आदि सब दूर होते हैं और मनोकामनाएं पूरी होती हैं।
हनुमान चालीसा और बजरंग बाण का पाठ करना बहुत ही लाभकारी होता है। इसके चलते मंदिरों में भक्तों की भीड़ नजर आ रही है। दर्शन करने के बाद में पाठ करते नजर आए। मंदिरों में श्रद्धालुओं के संगम का अद्भूत नजारा था, जो कि तीन साल बाद देखने को मिला। दो साल कोरोना की वजह से मंदिरों में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगाई गई थी।
शहर के इन मंदिरों पर लगी भक्तों की कतार
शहर के प्रमुख मंदिरों में से एक रणजीत हनुमान मंदिर को आकर्षक सजाया गया। बाबा का श्रृंगार कर महाराष्ट्रीयन पोशाक पहनाई गई। सुबह 6 बजे आरती की गई। भीड़ की वजह से दर्शन के लिए भक्तों को मशक्कत करना पड़ी। पितृ पर्वत पर विराजित पितरेश्वर हनुमान की 72 फीट ऊंची प्रतिमा का फायर ब्रिगेड के वाहन की मदद से अभिषेक किया गया। शाम को लाइट एंड साउंड शो होगा। पंचकुइया स्थित वीर अलीजा सरकार को स्वर्णाभूषणों से सजाया गया।
सुबह 5 बजे महाआरती की गई, जिसके बाद प्रसाद वितरण का सिलसिला शुरू हुआ। बड़ा गणपति स्थित हंसदास मठ पर पंचमुखी चिंताहरण हनुमान की 6 बजे महाआरती हुई तो चिंताहरण कवच का वितरण किया गया। छावनी स्थित बालाजी हनुमान का विशेष श्रृंगार किया गया। महाआरती की गई, जिसमें सुबह-सुबह भक्तों की भारी भीड़ हो गई। उनकी की वजह से बीआरटीएस पर यातायात के जाम होने जैसी स्थिति बनी। विजय नगर स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर में भी सुबह अभिषेक के बाद महाआरती हुई। रूपराम नगर स्थित मारुतिनंदन हनुमान का विशेष श्रंगार किया गया। राजबाड़ा और सुभाष चौक स्थित बाल हनुमान को भी विशेष सजाया गया।
पुलिस के साये में पूजा
कर्बला मैदान (धोबी घाट) स्थित हनुमान मंदिर पर आज सुबह अभिषेक कर भगवान का आकर्षक श्रंगार किया गया। वहीं, मंदिर के आसपास भगवा पताकाएं लगाकर विशेष रूप से सजाया गया। हिंदू जागरण मंच के संयोजक धीरज यादव व उनकी टीम की मौजूदगी में अखण्ड रामायण पाठ शुरू किया। शाम को महाआरती के बाद में प्रसादी का वितरण किया जाएगा। एहतियात के चलते मंदिर के आसपास पुलिस बल लगाया गया।
जगह-जगह भंडारे, लाखों लोग ग्रहण करेंगे प्रसाद
शहर में हनुमान मंदिरों की संख्या एक हजार से अधिक है। कई जगहों पर आज भंडारे का आयोजन भी रखा गया है, जिसमें हजारों लोगों को प्रसाद वितरण की तैयारी सुबह से शुरू हो गई है। आमतौर पर सभी में राम भाजी और पूरी का प्रसाद वितरित किया जाएगा। कुछ भंडारे ऐसे हैं, जो अलग हटकर हैं। पितृ पर्वत पर पितरेश्वर हनुमान को दाल-बाटी और चूरमा का भोग लगाया जाएगा।
इसी प्रकार वीर सावरकर मार्केट में राम भक्त हनुमान मंदिर पर दीपेश पचौरी ने अन्नकूट महोत्सव रखा है, जिसमें शुद्ध घी से बने दाल-बाफले, चावल, लड्डू, आलू की सब्जी, खोपरे की चटनी सहित अन्य स्वादिष्ट महाप्रसादी वितरित की जाएगी। इधर, इंद्रपुरी शिव मंदिर पर हनुमानजी के जन्मोत्सव पर संगीतमय महाआरती की जाएगी। भाजपा नेता प्रमोद टंडन के मुताबिक 6 बजे से महाप्रसादी का वितरण होगा, जिसमें 40 से 50 हजार भक्तगण की व्यवस्था जुटाई गई है।
मंदिर व भंडारे स्थल पर विशेष सफाई के आदेश
आज हनुमान जयंती पर शहर में जहां सुबह से मंदिरों में भ?तों की भीड़ उमड़ रही है, वहीं शाम को शहर में अनेकों जगहों पर भंडारे होंगे। यह देखते हुए निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने नगर निगम के 19 जोन पर तैनात समस्त स्वास्थ्य अधिकारियों और सीएसआई को अपने-अपने क्षेत्र में विशेष सफाई व्यवस्था करने के आदेश दिए। मंदिरों पर भंडारे के बाद सफाई व्यवस्था के लिए कर्मचारियों की और अन्य संसाधनों की समुचित व्यवस्था रखने का कहा है। भंडारे होने के उपरांत तत्काल सफाई करने के आदेश दिए गए हैं। मंदिरों में होने वाले भंडारे के आयोजन में डस्टबिन आदि की व्यवस्था आयोजक से चर्चा कर रखवाने को कहा गया है, ताकि कचरा डस्टबिन में ही एकत्रित किया जा सके और कचरा इधर-उधर नहीं फैले।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

पेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलानArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दलंदन में राहुल गांधी के दिए बयान पर BJP हमलावर, बोली- 1984 से केरोसिन लेकर घूम रही कांग्रेसThailand Open 2022: सेमीफाइनल मुक़ाबले में ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट से हारीं सिंधु, टूर्नामेंट से हुई बाहरपैंगोंग झील पर जारी गतिरोध के बीच रेलवे ने सुपरफास्ट ट्रेनों के लिए चीनी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट क्यों दिया?Rajiv Gandhi 31st Death Anniversary: अधीर रंजन ने ये क्या कह दिया, Tweet डिलीट कर देनी पड़ रही सफाई, FIR तक पहुंची बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.