चालान कटने पर कांग्रेस नेता बोला- सस्पेंड कराऊंगा, सब इंस्पेक्टर बोली- मैं मंत्री की भतीजी हूं, कराओ

वीडियो में खुद सब इंस्पेक्टर बता रही है मंत्री की भतीजी, विवाद बढ़ने पर गई पलट

By: Muneshwar Kumar

Updated: 09 Sep 2019, 03:13 PM IST

इंदौर/ मध्यप्रदेश में भले ही नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू नहीं हुआ है। लेकिन चालान कटने पर झंझट की खबरें आए दिन सामने आती है। अब इंदौर शहर में कांग्रेस नेता का चालान कटने के बाद रौब झाड़ने का वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें वह पुलिसकर्मियों सस्पेंड करवाने की धमकी दे रहा है। ट्रैफिक पुलिस से नेता को भिड़े देख वहां मौजूद सब इंस्पेक्टर ने नेताजी की हेकड़ी निकाल दी।

दरअसल, इंदौर एयरपोर्ट के सामने वाहन चेकिंग के दौरान कांग्रेस नेता की भिड़त पुलिस के लोगों से हो गई। सब इंस्पेक्टर उज्मा खान सिपाही आशीष सोनी और अन्य पुलिसकर्मियों के साथ वहां चेकिंग कर रही थीं। इस दौरान एक बाइक चालक का हेलमेट नहीं होने पर चालान कट गया। बाइक चालक ने फोनकर वहां कांग्रेस नेता देवेंद्र सिंह यादव को बुला लिया।

02_2.png

कांग्रेस नेता दिखाने लगे हेकड़ी
सुबह ग्यारह बजे कांग्रेस नेता देवेंद्र सिंह यादव वहां पहुंच गए। उसके बाद पुलिसकर्मियों पर रौब झाड़ने लगे। पहले कांग्रेस नेता ने ट्रैफिक पुलिस को हड़काना शुरू कर दिया। वायरल वीडियो में आप सुन सकते हैं कि कैसे नेताजी जवान को कह रहे हैं कि तुम्हें बात करने की तमीज नहीं है। मैं तुम्हें आप कह रहा हूं और तुम मुझे तुम बोल रहे हो। इस पर पुलिसकर्मी कहता है कि मैं तमीज से बात कर रहा हूं, आप बदतमीजी कर रहे हो। उस पर नेता बोलता है कि मैं तुम्हें सस्पेंड करवा दूंगा। दोनों में काफी बहस होती है।

50.jpg

सस्पेंड कराओगे तो ये इतना भी न बोले
पुलिसकर्मी के साथ बहस होते देख सब इंस्पेक्टर उज्मा खान वहां पहुंच गई। उसने कहा कि आप इसे सस्पेंड करवाने की बात कर रहे हो तो ये इतना भी न बोले। करवाओ सस्पेंड, मैं जाकर सब बताऊंगी। उसके बाद सब इंस्पेक्टर बोलती है कि आरिफ अकील को जानते हो, जवाब में कांग्रेस नेता बोलता है कि हां, जानता हूं, मेरे परिवार के हैं। उस पर सब इंस्पेक्टर बोलती है कि मैं मंत्री आरिफ अकील की भतीजी हूं। करवाओ सस्पेंड, मैं भी देखती हूं।

अवैध वसूली कर रहे ये लोग
वहीं, कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया है कि पुलिस यहां दो-तीन महीने से वाहन चालकों को रोककर अवैध वसूली कर रहे हैं। लोगों की शिकायत पर गया तो पुलिसकर्मियों ने अभ्रदता की। सब इंस्पेक्टर ने खुद को मंत्री आरिफ अकील की भतीजी बताया। मैंने अकील से बात की तो उन्होंने कोई भी रिश्तेदार होने से इनकार कर दिया।

51.jpg

वहीं, विवाद बढ़ने के बाद कांग्रेस नेता ने एएसपी रणजीत सिंह देवके को शिकायत की तो उन्होंने डीएसपी हरि सिंह रघुवंशी को मौके पर भेजा, जिसके बाद विवाद शांत हुआ। जबकि आरोपों पर सब इंस्पेक्टर उज्मा खान बोली कि चेकिंग के दौरान कुछ गलतफहमी हो गई थी, जिसके कारण यादव यहां पहुंचे थे। वसूली की बात गलत है। मैंने आरिफ अकील का नाम भी नहीं लिया।

Congress leader
Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned