आपके शहर का बीआरटीएस होगा हाई सिक्योरिटी जोन

amit mandloi

Publish: Nov, 14 2017 05:38:08 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
आपके शहर का बीआरटीएस होगा हाई सिक्योरिटी जोन

सिटी बस कंपनी देने जा रही ४० लाख रुपए साल का ठेका, 24 घंटे सिक्योरिटी गार्ड तैनात, 380 लोगों का स्टाफ रखा जाएगा

पवन सिंह राठौर. इंदौर
बीआरटीएस हाईसिक्योरिटी जोन हो जाएगा। बस स्टॉप के साथ सिटी बस कंपनी के डिपो में आने-जाने वालों की जान-माल की सुरक्षा के लिए खास इंतजाम किए जा रहे हैं। यहां 24 घंटे सिक्योरिटी गार्ड तैनात रहेंगे। सिक्योरिटी का ठेका करीब 40 लाख रुपए सालाना में देने की तैयारी है। आने-जाने वालों पर नजर रखने के साथ चोरी की दशा में एजेंसी ही जवाबदार होगी।


बीआरटीएस के सिटी बस स्टॉप और बस डिपो की सुरक्षा और मैनेजमेंट के लिए नए सिरे से सिक्योरिटी ठेका देने की तैयारी है। इसमें करीब 380 लोगों का स्टाफ रखा जाएगा, जिसमें सिक्योरिटी गार्ड से लेकर अन्य सेवाएं देने वाले जैसे टिकट जारी करने वाले, टिकट चेकर, ट्रैफिक वार्डन, बस वार्डन भी रहेंगे। यात्रियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी के साथ सिटी बस कंपनी की संपत्ति की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी सिक्योरिटी कंपनी की होगी। चोरी होने की दशा में उसकी रिपोर्ट करना भी एजेंसी के ही जिम्मे रहेगी। चोरी की एफआईआर करवाने के साथ उसे अपने स्तर पर भी इसकी जांच करना होगी और पुलिस के संपर्क में रहकर जांच पर नजर रखना होगी। चोरी गए माल की कीमत एजेंसी के भुगतान से काटी जाएगी।
24 घंटे की ड्यूटी
सिक्यूरिटी गाड्र्स और वार्डन की ड्यूटी 24 घंटे की होगी। इसमें आने-जाने वालों की एंट्री रजिस्टर में करने के साथ इस बात पर भी नजर रखना होगी कि परिसर में कोई धूम्रपान या मद्यपान ना करे। किसी भी तरह के संदेहास्पद व्यक्ति को रोकना और किसी तरह की अवांछित गतिविधि की स्थिति में तत्काल पुलिस को सूचना देना होगी।
तीन शिफ्ट में काम
बीआरटीएस का सिक्योरिटी सिस्टम तीन शिफ्ट में चलेगा। 380 लोगों के स्टाफ में सबसे ज्यादा गाड्र्स तैनात किए जाएंगे। कुल 100 गार्ड, 10 गनमैन, 40 सुपरवाइजर रहेंगे। इनके साथ 80 टिकट इशु करने वाले, 20 टिकट चेकर, 70 ट्रैफिक वार्डन और 60 बस वार्डन तैनात किए जाएंगे। एजेंसी को दैनिक आधार पर भुगतान किया जाएगा, जो कम से कम सवा तीन सौ और अधिकतम पौने पांच सौ रुपए प्रति व्यक्ति होगा।
हर सेवा चाक-चौबंद
ठ्ठ ट्रैफिक वार्डन्स, ट्रैफिक पुलिस के साथ मिलकर बीआरटीएस की ट्रैफिक व्यवस्था संभालेंगे। पदयात्रियों की सुरक्षा और फुटपाथ पर चलना सुनिश्चित करेंगे और बस स्टॉप की व्यस्था बनाएं रखेंगे।
ठ्ठ टिकट जारी करने वाले टिकट मशीन से टिकट काटेंगे। यात्रियों का मार्गदर्शन करेंगे, लेकिन टिकट चेक नहीं करेंगे, ताकि पूर्व में जारी टिकट को दोबारा ना दे सकें।
ठ्ठ टिकट चेकर अब केवल बस स्टॉप पर ही नहीं, बल्कि बसों के अंदर भी टिकट चेक करेंगे। महिला और पुरुषों के बैठने की व्यवस्था में अंतर बनाए रखेंगे।
ठ्ठ बस वार्डन हमेशा बस में रहेंगे। पंचिंग मशीन से टिकट चेकिंग करेंगे और महिलाओं के लिए आरक्षित स्थान में पुरुषों की एंट्री को निषेध करेंगे।
ठ्ठ सुरक्षा गार्ड 24 घंटे तैनात रहेंगे। चोरी, शराबखोरी, आपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए जवाबदार होंगे। बस स्टॉप और डिपो की संपत्तियों और उपकरणों की सुरक्षा करेंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned