Lockdown in Delhi: ट्रेडर एसोसिएशन ने उपराज्यपाल से की मांग, 15 मई तक बढ़ाया जाए लॉकडाउन

कैट के प्रदेश चैयरमैन सुशील गोयल ने बताया कि दिल्ली में आगामी 15 मई तक लॉक डाउन घोषित किया जाए जिसका स़ख्ती से पालन हो ताकि दिल्ली में तेजी से बाद रही कोरोना की चेन को किसी भी तरह तोड़ा जा सके।

By: Saurabh Sharma

Updated: 30 Apr 2021, 09:37 AM IST

Lockdown in Delhi। दिल्ली में कोरोना महामारी की वर्तमान स्थिति और जारी लॉकडाउन ( Lockdown in Delhi ) पर चर्चा करने के बाद कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने दिल्ली के प्रमुख व्यापारी नेताओं और संगठनों के साथ मिलकर दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से 15 मई तक लॉकडाउन को बढ़ाने की मांग की है। कैट ने दिल्ली के उपराजयपाल से आग्रह किया है कि दिल्ली की व्यापारी संस्थाओं के सहयोग के लिए वो एक नोडल ऑफिसर नियुक्त करें, जिसके साथ मिलकर दिल्ली के व्यापारी संगठन सरकार की मदद कर सकें।

यह भी पढ़ेंः- Tata-BigBasket Deal को CCI से मिली मंजूरी, Tata Digital खरीदेगी 64 फीसदी हिस्सेदारी

15 मई तक लॉकडाउन घोषित करने की मांग
कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल एवं प्रदेश अध्यक्ष विपिन आहूजा ने बताया कि दिल्ली के सभी प्रमुख व्यापारी संगठनों ने करोना से उपजी वर्तमान दर्दनाक स्तिथि और उपलब्ध मेडिकल ढांचा पर चर्चा की। इस बैठक में चर्चा कर सभी ने एक स्वर से कहा कि दिल्ली में करोना को लेकर हालात बहुत ही खराब हैं। कैट के प्रदेश चैयरमैन सुशील गोयल ने बताया कि दिल्ली में आगामी 15 मई तक लॉक डाउन घोषित किया जाए जिसका स़ख्ती से पालन हो ताकि दिल्ली में तेजी से बाद रही कोरोना की चेन को किसी भी तरह तोड़ा जा सके। अभी दिल्ली में ऐसे हालात नहीं है जिनके चलते बाजार खोले जा सकें। कैट अब इस विषय पर दिल्ली के व्यापारी संगठनों की एक वीडियो कांफ्रेंस 30 अप्रैल को होगी जिसमें 15 मई तक लॉकडाउन करने का अंतिम रूप से निर्णय लिया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः- Amazon Quiz दे रहा है घर बैठे हजारों रुपए के इनाम जीतने का मौका, बस करना होगा यह काम

दिल्ली में 3 मई सुबह तक है लॉकडाउन
आपको बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में सेकंड वेव आने के बाद दूसरे चरण का लॉकडाउन 3 मई सुबह 5 बजे तक जारी रहेगा। वैसे दिल्ली में कोरोना के मामलों में कोई खास कमी नहीं है। अगर बात आज की करें तो देश की राजधानी दिल्ली में बीते 24 घंटों में 24 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं। जिसके बाद प्रदेश में कुल केसों की संख्या 11.22 लाख पहुंच चुकी है। जबकि एक्टिव केसों की संख्या 97,977 पर आ गई है। 24 घंटों में मरने वाले लोगों की संख्या 395 है, जिसके बाद दिल्ली में मरने वालों की संख्या 15,722 हो गई है।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned