चार सालों में 100 अरब डॉलर का हो सकता है E-Commerce Market

  • 2019 में 30 अरब डॉलर का था E-Commerce Market
  • दुकानदार भी Online बिक्री को दे रहे तरजीह
  • पांच साल में Category Growth बढ़ सकता है 5 गुना

By: Saurabh Sharma

Published: 28 Aug 2020, 02:09 PM IST

नई दिल्ली। अमेजन, फ्लिपकार्ट, जियो के बाद अब टाटा सुपर एप भी ई-कॉमर्स मार्केट में कदम रखने जा रहा है। मतलब साफ है कि देश में ई-कॉमर्स को लेकर देश के बड़े प्लेयर्स बड़ा भविष्य देख रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार देश में ई-कॉमर्स रिटेल मार्केट 2024 तक 100 अरब डॉलर के पार पहुंच सकता है। जबकि 2019 में यह 30 अरब डॉलर का था। इसका कारण है कि अब देश के कंज्यूमर के अजावा दुकान भी ऑनलाइन बिक्री को प्रमुखता देने लगे हैं।

यह भी पढ़ेंः- Amrapali Home Buyers को बकाया चुकाने पर मिली मोहलत, 15 सितंबर तक जमा करा सकते हैं पहली किस्त

पांच साल में पांच गुना ग्रोथ
ग्लोबल प्रोफेशनल सर्विसेज फर्म अलवारेज एंड मार्सल इंडिया और सीआईआई इंस्टीट्यूट ऑफ लॉजिस्टिक्स द्वारा तैयार रिपोर्ट में दी गई जानकारी के अनुसार ऑनलाइन ग्रॉसरी सेल्स में तेजी देखने को मिली है। वहीं फूड डिलीवरी कंपनियों की संख्या में इजाफा देखने को मिला है। जिसके अगले पांच साल में पांच गुना कैटगरी ग्रोथ देखने को मिल सकता है।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today: 13 दिनों में 1.50 रुपए तक महंगा हुआ Petrol, जानिए आज कितना हुआ इजाफा

10 साल में पूरी तरह से बदल गया कारोबार
रिपोर्ट के अनुसार इंडियन रिटेल कारोबार में पिछले 10 सालों में काफी बदलाव देखने को मिला है। रिटेल इंडस्ट्री 2019 में 915 अरब डॉलर की थी। ई-कॉमर्स रिटेल कारोबार का आकार 2010 में 1 अरब डॉलर से भी कम था, जो 2019 में बढ़कर 30 अरब डॉलर पहुंचा। रिपोर्ट के अनुसार पिछले एक दशक में इंटरनेट सर्विस बढऩे, स्मार्टफोन के आने और कैटगरी एक्सपेंशन से ई-कॉमर्स कारोबार में तेजी देखने को मिली है। रिपोर्ट की मानें तो अमरीका और चीन जैसे देशों में ई-कॉमर्स की पहुंच 2019 में क्रमश: 15 और 20 फीसदी है, लेकिन भारत में 2024 तक यह 6 फीसदी तक पहुंच सकता है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned