Corona Impact: HSBC BANK के 35 हजार कर्मचारियों की नौकरी खतरे में...

HSBC BANK ने कोरोना की वजह से 35000 कर्मचारियों को निकालने का ऐलान किया है । बैंक ये छंटनी यूरोप और अमेरिका में करेगा।

By: Pragati Bajpai

Published: 17 Jun 2020, 09:04 PM IST

नई दिल्ली: कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां तक कि जो सेक्टर लॉकडाउन में भी खुले थे वो भी इसके असर से अछूते नहीं है। दरअसल कोविड-19 के प्रभावों के तहत हांगकांग शंघाई बैंकिंग कॉरपोरेशन यानि HSBC BANK ने अब किसी भी प्रकार की हायरिंग पर रोक लगा दी है । इसके साथ ही बैंक ने 35 हजार कर्मचारियों की छंटनी ( HSBC LAY OFF EMPLOYEES ) का भी ऐलान किया है। बैंक ने अपने दुनियाभर के अपने 235,000 कर्मचारियों को आधिकारिक रूप से इस बात की जानकारी दी है।

मात्र 3 दिन में Withdraw कर सकते हैं PF का पैसा, जानें पूरा प्रोसेस

बैंक का कहना है कि पिछले 3 सालों से बैंक को नुकसान उठाना पड़ रहा है और कोविड-19 ( COBID-19 ) की वजह से ये और भी अधिक हो गया है । जिसकी वजह से बैंक को मजबूरी में ये फैसला लेना पड़ा रहा है।

एचएसबीसी के मुख्य कार्यकारी नोएल क्विन (Noel Quinnn) ने कहा है कि वो निवेशकों को बेहतर रिटर्न देने के लिए बैंक की स्ट्रेटेजी पर दोबारा से विचार कर रहे हैं, इसीलिए हायरिंग को कुछ समय के लिए रोका गया है। इससे पहले भी बैंक अपने बयान में यूरोप और अमेरिका के कारोबार का दायरा घटाने को लेकर कह चुकी है।

फरवरी में किया था छंटनी का ऐलान-

जैसा कि बैंक ने खुद ही कहा है कि उनकी हालत फिलहाल ठीक नहीं है और कोरोना वायरस ( CORONAVIRUS ) की वजह से बैंक को गहन वित्तीय अनिश्चितताओं का सामना करना पड़ता है। इसके चलते अभी ये फैसला लिया गया है वैसे बैंक ने नौकरी में कटौती का ऐलान इसी साल फरवरी में किया था लेकिन बाद में उसे टाल दिया गया था। अब संकट बढ़ने के चलते बैंक अपना लागत को कम करेगा और कर्मचारियों की संख्या 2.35 लाख से घटाकर 2 लाख करेगी। इसके लिए छंटनी अमेरिका और यूरोप में सबसे पहले होगी

COVID-19
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned