स्टील का भाव बढ़ा, कंस्ट्रक्शन, ऑटो और कंज्यूमर गुड्स पर पड़ेगा असर

- भाव बढ़ाने के इस खेल का प्रतिकूल असर देश के कारोबार सहित अन्य क्षेत्रों पर भी पड़ेगा
- कंस्ट्रक्शन, ऑटो और कंज्यूमर गुड्स उद्योग पर प्रतिकूल असर

By: विकास गुप्ता

Published: 05 Jun 2021, 01:20 PM IST

मुंबई. कोरोना काल में अब स्टील के भाव में बढ़ोतरी भी झेलनी पड़ेगी। निर्माताओं ने हॉट रोल्ड क्वायल (एचआरसी) चार हजार रुपए प्रति टन और कोल्ड रोल्ड क्वायल (सीआरसी) 4,900 रुपए प्रति टन महंगा किया है। अब घर बनाने की लागत बढ़ जाएगी। रियल एस्टेट क्षेत्र की मुश्किलें बढ़ेंगी। वाहन निर्माता कार-ट्रैक्टर आदि का भाव बढ़ाने के लिए मजबूर हो जाएंगे। वहीं कंज्यूमर गुड्स भी महंगे होंगे। भाव बढ़ाने के इस खेल का प्रतिकूल असर देश के कारोबार सहित अन्य क्षेत्रों पर भी पड़ेगा।

बाजार पर निर्भर-
कंपनियों का कहना है कि दुनिया में स्टील की बहुत डिमांड है। यह भाव वृद्धि बाजार के रुझान पर निर्भर है। लौह अयस्क भी महंगा हुआ है। उत्पादन लागत बढ़ी है। भाव नहीं बढ़ाएंगे, तो निर्माताओं को घाटा होगा। घरेलू बाजार में मांग कमजोर है। विदेशों में स्टील का भाव 20त्न तक ऊंचा है। इससे निर्यात बढ़ाकर निर्माता मौके का फायदा उठा रहे हैं।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned