लेट होगी यह ट्रेन तो आपको मिलेंगे पैसे, साथ में इन सुविधाओं के भी ले सकेंगे मजे

लेट होगी यह ट्रेन तो आपको मिलेंगे पैसे, साथ में इन सुविधाओं के भी ले सकेंगे मजे

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 26 Aug 2019, 03:08:19 PM (IST) इंडस्‍ट्री

  • एक घंट से अधिक की देरी में रिफंड हो सकता है पैसा।
  • एक की जगह मिलेंगे दो मील।

नई दिल्ली। बहुत जल्द ही आपको प्राइवेट ट्रेन में सफर करने का मौका मिल सकेगा। खास बात है कि यदि आप इस ट्रेन से सफर करते हैं और एक ट्रेन के रनिंग टाइम में एक घंटे से अधिक की देरी होती है तो आप फ्री में सफर कर सकते हैं।

आईआरसीटीसी आगामी अक्टूबर माह से दिल्ली और लखनउ के बीच दो प्राइवेट ट्रेन चलाने की तैयारी कर रही है। इस ट्रेन का नाम तेजस होगा। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, इस ट्रेन का किराया शताब्दी ट्रेन के बराबर ही होगा।

यह भी पढ़ें - ग्लोबलाइजेशन के बाद सबसे बुरे दौर में पहुंची देसी कंपनियां

मिलेंगी ये खास सुविधायें

इस ट्रेन में सफर के दौरान आपको शताब्दी से कहीं अधिक सुविधायें मिलेंगी। इस ट्रेन में सफर के दौरान आपको एक अतिरिक्त मील के साथ-साथ हर कोच में वेंडिंग मशीन होगा, जिसमें फ्री में आप चाय व कॉफी का मजा ले सकते हैं।

द इकोनॉमिक टाइम्स ने अपनी एक रिपोर्ट में आईआरसीटीसी के हवाले से लिखा है, "आमतौर पर रेलवे इस रूट पर यात्रियों को ब्रेकफास्ट तो देता है कि लेकिन गंतव्य तक पहुंचते-पहुंचते लंच का समय हो जाता है। ऐसे में यात्रियों को अतिरिक्त मील से फायदा होगा।"

मिलेगा 50 लाख इंश्योरेंस

इसके अलावा, यह कंपनी सीनियर सिटिजन के लिए भी अतिरिक्त डिस्काउंट देने का प्रावधान करेगा। आगामी नवंबर माह में यह इसी मॉडल के तहत मुंबई-अहमदाबाद रूट पर नई ट्रेनें चलाई जायेंगी। इस ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को 50 लाख रुपये तक ट्रैवल इंश्योरेंस मुफ्त में किया जायेगा। अधिकारी के मुताबिक, "कई इंश्योरेंस कंपनियों इसके लिए विकल्प मुहैया करायेंगी।"

यह भी पढ़ें - 5 मिनट में ऐसे फाइल करें इनकम टैक्स रिटर्न, 31 अगस्त है अंतिम तारीख

केवल दो टॉयलेट से ही चलाना होगा काम

हालांकि, इस ट्रेन के हर एक कोच में चार की जगह केवल दो ही टॉयलेट होंगे। कंपनी ने यह फैसला इसलिये लिया है ताकि खाने का बेहतर प्रबंधन किया जा सके क्योंकि इस ट्रेन में पैंट्री की डिजाइन में भी बदलाव किया जायेगा। कंपनी का कहना है कि एयरलाइन्स में भी 190 यात्रियों के लिए केवल 2 टॉयलेट ही उपलब्ध होता है। एक तरफ सरकार चाहती है कि इस ट्रेन का किराया भी शताब्दी के बराबर ही हो लेकिन, कंपनी ने इसके डाइनैमिक प्राइसिंग सिस्टम चाहती है, ताकि त्योहारी सीजन में उसे फायदा हो सके।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned