scriptbuilder and another person started illegal plotting on army land | सेना की ही जमीन पर अवैध कब्जा कर शुरु कर दी अवैध प्लाॅटिंग | Patrika News

सेना की ही जमीन पर अवैध कब्जा कर शुरु कर दी अवैध प्लाॅटिंग

रक्षा संपदा विभाग के सर्वे में गड़बड़ी सामने आने पर दर्ज कराई आपत्ति

जबलपुर

Published: April 25, 2022 09:06:52 am

जबलपुर। देश के कई राज्यों सहित मध्यप्रदेश में भी एक ओर जहां सरकारें अवैध निर्माणों को लेकर सख्त होते हुए बुल्डोजरों से कार्रवाई कर रही हैं, वहीं दूसरी ओर देश की सुरक्षा के लिए हर स्थिति में डटकर दुश्मनों का सामने करने वाली सेना की फौजी पड़ाव मद की मध्यप्रदेश के सिहोरा में मौजूद जमीन पर देश के ही चंद लोगों द्वारा कब्जा कर लिया गया है। जिसके बाद इन कब्जाधारियों द्वारा सेना की इस जमीन पर अवैध प्लाटिंग तक शुरु की जा चुकी है।

illegal_occupation_of_army_land.jpg

दरअसल रक्षा संपदा विभाग के द्वारा किए गए सर्वे के दौरान सिहोरा में यह गड़बड़ी सामने आई है। इसमें कई लोगों के नाम सामने आए हैं। उन पर अब कार्रवाई की जाएगी। विभाग ने आम लोगों से भी रक्षा भूमि पर प्लाॅट खरीदने और बेचने में की प्रक्रिया में शामिल नहीं होने को लेकर बयान जारी किया है। माफियाओं के कब्जे की शिकायत जिला प्रशासन से की है। इसमें कब्जाधारियों पर कार्रवाई में सहयोग की बात कही है।

रक्षा संपदा विभाग की सिहोरा में फौजी पड़ाव मद की करीब 40.29 एकड़ जमीन है। रक्षा संपदा विभाग के अधिकारियों को शिकायत मिली थी कि रक्षा भूमि के एक बडे़ हिस्से में एक बिल्डर व अन्य व्यक्ति के द्वारा प्लाटिंग की जा रही है। इससे पहले इस जमीन पर गेहूं की फसल लगी थी। इस पर आपत्ति दर्ज कराते हुए कब्जेधारियों को नोटिस जारी किए जा रहे हैं। विभाग का कहना है कि यह भूमि इस कार्यालय के अंतर्गत प्रबंधाधीन भारत सरकार रक्षा मंत्रालय के स्वामित्व की रक्षा भूमि है।

अवैध रूप से किया जा रहा विक्रय
विभाग के सर्वे में यह बात सामने आई कि अवैध कब्जेधारियों के द्वारा प्लॉट की बिक्री की जा रही है। कुछ लोगों ने यहां पर प्लाट भी खरीद लिए हैं। विभाग के संज्ञान में आया है कि खसरा नंबर 19 से 24 तक को अवैध तरीके से बेचा जा रहा है।

इस पर आपत्ति भी दर्ज कराई गई है। इस जगह पर कब्जा हटवाने के लिए इसकी शिकायत जिला प्रशासन से की जा रही है।

पहले भी कब्जा, पर अभी तक कोई योजना नहीं
फौजी पड़ाव की भूमि वह होती है जहां पूर्व में फौजी ठहरते थे। सूत्रों ने बताया कि सिहोरा में फौजी पड़ाव की जमीन पर पहले भी कब्जा हुए हैं। इनमें कुछ शासकीय भवन तक बने हुए हैं। शेष भूमि की सुरक्षा भी सवालों के घेरे में रहती है। क्योंकि अभी तक इस जमीन के उपयोग की कोई योजना नहीं बनी है। ऐसे में आए दिन खाली भूमि पर कब्जे की घटनाएं सामने आती हैं।

खास बात:
इस संबंध में कुछ जानकारों का कहना है कि केंद्र सरकार या किसी भी केंद्रीय संस्था द्वारा किसी प्रदेश में ली गई जमीन का संपूर्ण ब्योरा वहां की राज्य सरकार के पास भी होता है। भले ही केंद्र की जमीन पर किसी भी तरह के अतिक्रमण के विरुद्ध केंद्र की ओर से ही कार्यवाही की जाती है, लेकिन वर्तमान में बन रहीं स्थितियां को देखते हुए लोगों का कहना है कि जैसे देश में कई जगहों पर बुलडोजर के माध्यम से अवैध निर्माण हटाए जा रहे हैं। और ऐसी ही प्रक्रिया मध्यप्रदेश में भी अपनाई जा रही है तो क्या देश के सैनिकों की जमीन दिलाने के लिए भी प्रदेश के बच्चों के मामा यानि सीएम शिवराज ऐसा कोई बड़ा कदम उठाएंगे कि प्रदेश में फिर कोई देश के पहरेदारों की जमीन पर कब्जा करना तो दूर इस संबंध में सोचेगा तक नहीं!

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का पहला बयान, केंद्रीय मंत्री भी बोलेज्ञानवापी मामले को लेकर अखिलेश यादव ने हिंदू देवी-देवताओं पर की विवादित टिप्पणीअमरीकी शेयर बाजार धड़ाम, मंदी की आशंका के बीच दो साल की सबसे बड़ी गिरावटIPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डकर्क सहित इन राशि वालों के लिए धन-कारोबार की दृष्टि से अनुकूल है आज का दिन, पेशेवर यात्राएं होंगी सफल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.