कंटेनर ड्राइवर ने RTO आरक्षक पर चढाया कंटेनर

-चेकिंग को रोकने पर ड्राइवर ने RTO आरक्षक को कुचलने की कोशिश की
-आरक्षक गंभीर हाल में निजी अस्पताल में चल रहा इलाज

 

By: Ajay Chaturvedi

Published: 03 Apr 2021, 02:14 PM IST

जबलपुर. चेकिंग से बचने के लिए कंटेनर ड्राइवर ने RTO आरक्षक पर चढा दिया कंटेनर। आरक्षक बुरी तरह से जख्मी। आरक्षक की चीख सुन आसपास के लोग जब तक मौके पर पहुंचते ड्राइवर कंटेनर छोड़ कर भाग निकला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने नागरिकों की मदद से आरटीओ आरक्षक को समीप के निजी अस्पताल पहुंचाया जहां उनकी हालत स्थित बनी है। पुलिस ने मौके से कंटेनर को जब्त कर लिया है।

जानकारी के अनुसार आरटीओ उड़न दस्ता प्रभारी एसआई राजेंद्र साहू के साथ आरक्षक प्रकाश चौधरी (40वर्ष) कालादेही व सुकरी के बीच वाहनों की चैकिंग कर रहा था। उसके साथ आरक्षक पीयूष मरावी भी था। प्रकाश चौधरी वाहन का ड्राइवर भी है। प्रत्क्षदर्शियों के अनुसार प्रकाश चौधरी वाहनों को चेक करने के लिए रोक रहा था। सुबह नौ बजे के लगभग सिवनी की ओर से आ रहे एक कंटेनर को आरक्षक चौधरी ने रुकने का इशारा किया। लेकिन ड्राइवर ने कंट्रेनर रोकने की बजाय उसके ऊपर ही चढ़ा दिया। इससे कंटेनर के आगे के पहिए में फंसकर वह लगभग 10 मीटर तक घिसटता चला गया। उसके जांघ के चीथड़े उड़ गए। घटना को अंजाम देने के बाद ड्राइवर कंटेनर छोड़कर मौके से भागने में सफल रहा।

आरटीओ आरक्षक के साथ हुई इस हादसे के बाद हड़कंप मच गया। सिवनी-जबलपुर रोड पर जाम लग गया। खून बहने से आरक्षक बेहोश हो गया। उसे आनन-फानन में शहर के गोलबाजार स्थित निजी अस्पताल पहुंचाया गया। वहां उसका ऑपरेशन चल रहा है। चिकित्सकों ने तुरंत ओ पॉजिटिव ब्लड चढ़ाने की जरूरत बताई है। बरगी टीआई के अनुसार कंटेनर ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

प्रकाश चौधरी को लेकर दो बातें सामने आई हैं। बरगी टीआई के मुताबिक प्रकाश चौधरी फ्लाइंग स्क्वॉड में ड्राइवर है और ट्रक व कंटेनर को चैकिंग के लिए रोक रहा था। वहीं आरटीओ संतोष पाल के मुताबिक आरक्षक प्रकाश चौधरी चाकघाट में तैनात है, उसकी ड्यूटी यहां नहीं थी। वह छुट्‌टी पर अपने घर आया हुआ है। कालादेही व सुकरी के बीच चल रही चैकिंग में शामिल आरक्षक पीयूष मरावी का दोस्त है। उसी से मिलने जा रहा था। रोड क्रॉस करते समय अचानक कंटेनर की चपेट में आ गया। पर प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक आरक्षक कंटेनर को रोक रहा था। तब ये हादसा हुआ। अब पुलिस की जांच में प्रकरण स्पष्ट हो पाएगा।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned