कोविड-19 वैक्सीनेशन: प्राइवेट अस्पतालों में आधे भी नहीं लगे टीके

कोविड-19 वैक्सीनेशन: प्राइवेट अस्पतालों में आधे भी नहीं लगे टीके

By: Lalit kostha

Updated: 26 Jan 2021, 01:50 PM IST

जबलपुर। प्राइवेट अस्पताल लक्ष्य के आधे कर्मियों को भी टीका नहीं लगा सके। वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए 10 अस्पतालों में टीकाकरण का औसत 49 प्रतिशत पर सिमट गया। स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार से वैक्सीनेशन सेंटर की संख्या बढ़ाकर 20 की थी। ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन सेंटर में 84.43 प्रतिशत तक लोगों ने टीका लगवाया। टीकाकरण के दूसरे सप्ताह के पहले दिन टीका लगाने के लक्ष्य से जिला काफी पीछे रहा। औसतन 60 फीसदी ही टीकाकरण हो सका।

कम दिखा रुझान: जिले में सोमवार को लक्ष्य का औसतन 60 फीसदी टीकाकरण

स्वास्थ्य विभाग ने जिन अस्पतालों को कर्मियों की ज्यादा संख्या होने के कारण एक दिन में दो सेशन (दो सौ कोरोना डोज) की अनुमति दी, वे ही टीकाकरण में सबसे पीछे रहे। दो सेशन वाले पांच में से तीन अस्पताल में टीका लगाने वाले कर्मियों का संख्या सौ पर भी नहीं पहुंच सका। इसे देखते हुए अब स्वास्थ्य विभाग वैक्सीनेशन सेंटर में सेशन देने की समीक्षा कर रहा है।

बुधवार से छह और सेंटर बढ़ेंगे
कोविड वैक्सीनेशन की गति बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य विभाग छह और नए सेंटर बनाने की योजना पर काम कर रहा है।

 

Covid-19 Vaccination

ये है स्थिति
2500 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगने का लक्ष्य था।
20 अस्पतालों को वैक्सीनेशन सेंटर बनाया गया था।
07 अस्पताल इसमें निजी और 13 सरकारी क्षेत्र के।
1503 स्वास्थ्य कर्मियों को सोमवार को टीका लगाया।
104 टीका लगे कटंगी स्वास्थ्य केन्द्र में, लक्ष्य से आगे।

वैक्सीनेशन सेंटर में क्षेत्र वार स्थिति
शहरी क्षेत्र की स्थिति
6 सरकारी अस्पताल में 800 कर्मियों को टीका लगना था। 422 ने लगवाया।
6 प्राइवेट अस्पताल में 900 कर्मियों को टीका लगना था। 443 ने लगवाया।

ग्रामीण क्षेत्र की स्थिति
7 सरकारी अस्पताल में 700 कर्मियों को टीका लगना था। 422 ने लगवाया।
1 प्राइवेट अस्पताल में 100 कर्मियों को टीका लगना था। 47 ने लगवाया।

COVID-19 Covid-19 in india
Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned