Railway मार्च में पूरा होगा विद्युतीकरण, रायपुर तक चलेगी ट्रेन

पश्चिम मध्य रेलवे के जीएम का दावा

जबलपुर. ‘सतना से मानिकपुर, इलाहाबाद, जबलपुर-कटनी और जबलपुर से इटारसी तक विद्युतीकरण का काम पूरा हो गया है। सतना से कटनी के बीच काम जारी है, जो 31 मार्च तक पूरा हो जाएगा। जबलपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज का काम पूरा होने पर जबलपुर से वाया नैनपुर, बालाघाट, गोंदिया होकर रायुपर के लिए नई ट्रेन चलाई जाएगी। इस पर विचार किया जा रहा है।’ यह दावा बुधवार को पश्चिम मध्य रेलवे के जीएम शैलेंद्र सिंह ने किया। वे पत्रकारवार्ता को सम्बोधित कर रहे थे। रायपुर तक सीधी टे्रन शुरू करने के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, रायपुर के लिए वर्तमान रूट वाया कटनी-बिलासपुर है। इस रूट पर अधिक दबाव होने से नई ट्रेन का संचालन काफी मुश्किल है।
आमदनी एक रुपए, खर्च कर रहे 68 पैसे
उन्होंने बताया कि पश्चिम मध्य रेल जोन की स्थिति देश के अन्य रेल जोन से बेहतर है। पमरे एक रुपए कमा रहा है, जबकि 68 पैसे उसका खर्च है। उन्होंने कहा कि शत -प्रतिशत आय के एवज में पमरे का व्यय 68 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने के लिए आधारभूत संरचनाओं को मजबूत किया जा रहा है। मुम्बई-दिल्ली वाया कोटा, जिसे राजधानी रूट भी कहा जाता है, के कुछ रेलखंडों में 130 किमी की स्पीड से ट्रेन चलाई जाती थीं। अब इस रूट पर सभी सभी ट्रेनों को 130 किमी प्रति घंटा की गति से चलाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए एलएचबी कोचों की संख्या बढ़ाई जा रही है। उन्होंने कहा कि इटारसी-जबलपुर-इलाहाबाद रेल मार्ग पर भी ट्रेनों की गति बढ़ाने के लिए आधारभूत ढांचे को मजबूत कर रहे हैं। काम पूरा होने पर 110 किमी की रफ्तार वाले इस खंड की भी स्पीड बढ़ाई जाएगी।
यह भी कहा
- शेड का काम पूरा होने पर होगा ईएमयू ट्रेन का संचालन
- पुणे-जबलपुर-पुणे को नियमित करने का फैसला बोर्ड करेगा
- गरीबरथ के कोच नहीं हैं, इसलिए उसे नियमित नहीं किया जा रहा है
- ट्रेनों में जनरल कोच बढ़ाना सम्भव नहीं है

virendra rajak Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned