जन्माष्टमी पर करें श्री कृष्ण को प्रसन्न, जानें वैदिक पूजा विधि

जन्माष्टमी पर करें श्री कृष्ण को प्रसन्न, जानें वैदिक पूजा विधि
janmashtami

Lalit Kumar Kosta | Publish: Aug, 16 2018 03:53:24 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

जन्माष्टमी पर करें श्री कृष्ण को प्रसन्न, जानें वैदिक पूजा विधि

 

जबलपुर। शास्त्रों के अनुसार किसी भी सिद्धि या मनोकामना को पूरा करने के लिए चार रात्रियां सबसे उत्तम मानी गई है। इनमें पहली कालरात्रि है, जिसे नरक चतुर्दशी या दीपावली भी कहा जाता है। दूसरी अहोरात्रि या शिवरात्रि है। तीसरी दारुणरात्रि या होली है। चौथी मोहरात्रि या जन्माष्टमी है।

जन्माष्टमी 2018: एक घंटे से भी कम पूजा मुहूर्त, जानें शुभ समय व तिथि
ज्योतिषाचार्य पंडित जनार्दन शुक्ला के अनुसार श्री कृष्ण की पत्नी रुक्मणी माँ लक्ष्मी का अवतार थी अत: अगर इस दिन भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न करने के लिए विशेष उपाय किए जाएं तो माता लक्ष्मी भी प्रसन्न हो जाती हैं और भक्तों पर कृपा बरसाती हैं। यदि आप जन्माष्टमी के दिन ये उपाय पूर्ण श्रद्धा एवं विश्वास से करेंगे तो आपको विशिष्ट फल की प्राप्ति होगी।

news fact- चार रात्रियां सबसे उत्तम मानी गई है, जन्माष्टमी के दिन ये उपाय पूर्ण श्रद्धा एवं विश्वास से करेंगे तो आपको विशिष्ट फल की प्राप्ति होगी

ऐसे करें पूजा -
1. यदि आपकी आमदनी में कोई इज़ाफा नही हो रहा हो और नौकरी में प्रमोशन भी नहीं हो रहा हो तो जन्माष्टमी के दिन सात कन्याओं को घर बुलाकर खीर खिलाएं। यह काम पांच शुक्रवार तक लगातार करें।
2. आर्थिक संकट के निवारण और धन लाभ के लिए जन्माष्टमी के दिन प्रात: स्नान आदि करने के बाद किसी भी राधा-कृष्ण मंदिर में जाकर प्रभु श्रीकृष्ण जी को पीले फूलों की माला अर्पण करें। इससे आर्थिक संकट दूर होने लगते है और धन लाभ के योग प्रबल बनते है ।

गणेश चतुर्थी 2018: सिद्ध योग में घर आएंगे गणेश जी, इस शुभ मुहूर्त में होगी स्थापना

2018 puja vidhi at home in hindi,  <a href=Janmashtami 2018 muhurat, janmashtami 2018 date and time, janmashtami 2018 kab hai, janmashtami 2018 wishes,जन्माष्टमी वैदिक पूजा विधि" src="https://new-img.patrika.com/upload/2018/08/01/janmashtami_3263892-m.jpg">

3. जन्माष्टमी के दिन प्रात: दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर भगवान श्रीकृष्ण का अभिषेक करें । इसके बाद यह उपाय हर शुक्रवार को करें । इस उपाय को करने वाले जातक से मां लक्ष्मी शीघ्र प्रसन्न होती हैं। इस उपाय को करने से समस्त मनोकामनाएँ पूर्ण होती है।
4. जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण को सफेद मिठाई, साबुतदाने अथवा चावल की खीर यथाशक्ति मेवे डालकर बनाकर उसका भोग लगाएं उसमें चीनी की जगह मिश्री डाले , एवं तुलसी के पत्ते भी अवश्य डालें। इससे भगवान श्री कृष्ण की कृपा से ऐश्वर्य प्राप्ति के योग बनते है।
5. भगवान श्रीकृष्ण को पीतांबर धारी भी कहलाते हैं, पीतांबर धारी का अर्थ है जो पीले रंग के वस्त्र पहनने धारण करता हो। इसलिए श्री कृष्ण जन्माष्टमी के दिन किसी मंदिर में भगवान के पीले रंग के कपड़े, पीले फल, पीला अनाज व पीली मिठाई दान करने से भगवान श्रीकृष्ण व माता लक्ष्मी दोनों प्रसन्न रहते हैं, उस जातक को जीवन में धन और यश की कोई भी कमी नहीं रहती है ।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned