script रिश्तों का क़त्ल... जादू-टोना के शक में बुजुर्ग को उतारा मौत के घाट, फैली सनसनी | Elderly man killed on suspicion of witchcraft | Patrika News

रिश्तों का क़त्ल... जादू-टोना के शक में बुजुर्ग को उतारा मौत के घाट, फैली सनसनी

locationजगदलपुरPublished: Dec 01, 2023 10:51:16 am

Submitted by:

Kanakdurga jha

Crime News : कोड़ेनार थाना क्षेत्र के बाटकोंटा में रहने वाला बुजुर्ग अपनी बहन के घर गया हुआ था।

जादू-टोना के शक में बुजुर्ग को उतारा मौत के घाट
जादू-टोना के शक में बुजुर्ग को उतारा मौत के घाट
जगदलपुर। Crime News : कोड़ेनार थाना क्षेत्र के बाटकोंटा में रहने वाला बुजुर्ग अपनी बहन के घर गया हुआ था। जहां उसके रिश्तेदारों ने जादू टोना के शक पर बीती रात घर में घुसकर कुल्हाड़ी और डंडे से पीटकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को खेत में फेंक फरार हो गए।
यह भी पढ़ें

Train Cancelled : रेलवे यात्रियों की बड़ी मुसीबत... 48 स्पेशल ट्रेेनें कल से 14 तक कैंसिल, टिकट कटाने से पहले देखें ये लिस्ट...



परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेज दिया। वहीं आरोपियों की तलाश की जा रही है। मामले के बारे में जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि बाटकोंटा निवासी हिड़मो पोयाम 58 वर्ष अपनी बहन बुधो मुचाकी के घर आए हुए थे। जहां उसके रिश्तेदारों से लगातार कई वर्षों से विवाद हो गया। तभी रिश्तेदार सुखराम पोयाम, मिट्ठू पोयाम, बुधराम, सोमडू, सन्नू, सायबो सभी निवासी बाटकोंटा पहुंचे और पुराने विवाद के अलावा सिरहा गुनिया से जादू टोना करवाते हो कहकर हिड़मो के सिर पर कुल्हाड़ी और डंडे से हमला कर दिया। जिससे घटना स्थल पर ही हिड़मो की मौत हो गई।
यह भी पढ़ें

CG Exit Poll 2023 : किसकी जीत... किसकी हार... छत्तीसगढ़ को रिजल्ट का इंतजार, भाजपा-कांग्रेस दोनों कर रही बड़े दावे



इसके बाद आरोपियों ने शव को घटनास्थल से दो किमी दूर मृतक के खेत में ले जाकर फेंक फरार हो गए। घटना की जानकारी परिजनों ने सुबह पुलिस को दी। बताया गया कि हिड़मो के बेटे बामन पोयाम की 21 अक्टूबर माह में सड़क हादसे में मौत हो चुकी है। इधर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 147, 294, 302, 450, 506 के एफआइआर दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है।
शांति एवं सुरक्षा हेतु मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी

नारायणपुर। 3 दिसंबर को शा स्वामी आत्मानंद स्नातकोत्तर महाविद्यालय नारायणपुर में मतगणना होगी। इस दौरान शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था पर नियंत्रण रखा जाना आवश्यक है। इसके लिए मतगणना के दौरान तथा परिणाम की घोषणा के पश्चात शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने नायब तहसीलदार की मजिस्ट्रीयल ड्यूटी लगाई गई।

ट्रेंडिंग वीडियो