scriptLoksabha election 2024: अलवर लोकसभा क्षेत्र: यादव बाहुल्य सीट, अब तक दस सांसद यादव ही बने | Alwar Lok Sabha constituency: Yadav dominated seat, till now ten MPs h | Patrika News

Loksabha election 2024: अलवर लोकसभा क्षेत्र: यादव बाहुल्य सीट, अब तक दस सांसद यादव ही बने

locationजयपुरPublished: Mar 04, 2024 02:09:46 pm

Submitted by:

rajesh dixit

वर्तमान सांसद बालकनाथ ने लड़ा था विधानसभा का चुनाव और जीते
पिछले दो चुनाव में भाजपा खेल रही हिंदुत्व कार्ड
अब भूपेन्द्र यादव को टिकट देकर भाजपा ने खोले पत्ते

Loksabha election 2024: अलवर लोकसभा क्षेत्र: यादव बाहुल्य सीट, अब तक दस सांसद यादव ही बने

Loksabha election 2024: अलवर लोकसभा क्षेत्र: यादव बाहुल्य सीट, अब तक दस सांसद यादव ही बने

राजेश दीक्षित
Loksabha election 2024: जयपुर। राजस्थान का सिंहद्वार कहे जाने वाली अलवर लोकसभा सीट यादव बाहुल्य सीट रही है। यहां अब तक दस सांसद यादव ही बने हैं। पिछले दो चुनाव से मोदी लहर में हिन्दुत्व कार्ड ही खेला जा रहा है। यहां वर्ष 2014 में महंत चांदनाथ को टिकट दिया गया था तो पिछली बार महंत बालकनाथ जीते थे। जबकि कांग्रेस दो बार से लगातार पूर्व राजपरिवार के सदस्य रहे जितेन्द्र सिंह को ही टिकट दे रही है। वे लगातार दो बार हार चुके हैं। इस बार बालकनाथ को विधानसभा का चुनाव लड़ाया गया था। ऐसे में भाजपा ने नए प्रत्याशी के रूप में राज्यसभा सांसद रहे भूपेन्द्र सिंह यादव को मैदान में उतारा है। भूपेन्द्र सिंह पहली बार लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे। वे दो बार से राज्यसभा सदस्य हैं। इनका कार्यकाल अभी पूरा हुआ है। इन्हें दुबारा राज्यसभा का टिकट नहीं मिला तो इनके लोकसभा चुनाव लडऩे की चर्चाएं चल रही थी।

रोचक तत्थ: मां भाजपा में बेटा कांग्रेस में
अलवर लोकसभा सीट पर पूर्व राजपरिवार के सदस्य भी सांसद रहे हैं। सबसे पहले पूर्व राजपरिवार की सदस्य महेन्द्र कुमारी यहां से सांसद बनी थी। वे अब तक एक मात्र महिला सांसद बनी हैं। वे भाजपा में थी। लेकिन इनके बेटे जितेन्द्र सिंह कांग्रेस में हैं। ये भी एक बार चुनाव जीते हैं। हरियाणाा से सटी अलवर लोकसभा सीट यादव बाहुल्य होने के बावजूद दोनों ने ही यहां से जीत दर्ज कराई थी। जितेन्द्र सिंह जब सांसद बने तो वे केन्द्र सरकार में मंत्री भी बने।

उपचुनाव में भाजपा से छीन ली थी सीट
इस सीट पर अब तक केवल एक ही उपचुनाव हुआ है। मोदी लहर वर्ष 2014 से शुरू हुई। उस समय महंत चांदनाथ को भाजपा ने टिकट दिया और वे जीत गए। इनके निधन के बाद वर्ष 2018 में यहां पर उपचुनाव हुए। इस उपचुनाव में भाजपा ने जसवंत सिंह यादव को मैदान में उतारा था, लेकिन वे कांग्रेस के प्रत्याशी करणसिंह यादव से पराजित हो गए थे। ऐसे में इस उपचुनाव में कांग्रेस ने भाजपा से यह सीट जीत ली थी। यह बात अलग है कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में वापस यह सीट भाजपा के खाते में चली गई। महंत बालकनाथ यहां से भाजपा के टिकट से खड़े हुए और सांसद बने।

यहां पर कांग्रेस रही मजबूत
भाजपा भले ही देा बार से यहां पर जीत दर्ज करा रही है। लेकिन इस सीट पर कांग्रेस मजबूत रही है। अब तक यहां उपचुनाव सहित कुल 17 चुनाव हुए हैं। इनमें से कांग्रेस 11 बार जीती हैं, जबकि भाजपा चार बार जीती है।
अलवर लोकसभा क्षेत्र में आठ विधानसभा क्षेत्र आते हैं। वर्तमान में यहां पर पांच विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस तो तीन पर भाजपा का कब्जा है।
भाजपा ने बदला प्रत्याशी, क्या कांग्रेस भी बदलेगी
अलवर सीट से कांग्रेस लगातार जितेन्द्र सिंह पर ही दांव खेल रही हैं। लेकिन वे लगातार दो बार से हार रहे हैं।
ऐसे में क्या उन्हें तीसरी बार भी टिकट मिलेगा? इसी तरह भाजपा ने बालकनाथ को विधायक का चुनाव लड़ाया था। वे जीते भी हैं। इस बार भाजपा ने भूपेन्द्र सिंह टिकट दिया है।
———————————————————
अलवर लोकसभा क्षेत्र में आने वाली विधानसभा सीटें :
विधानसभाा क्षेत्र—विधायक— पार्टी
तिजारा- बाबा बालकनाथ -भाजपा
किशनगढ़बास-दीपचंद खैरिया-कांग्रेस
मुंडावर-ललित यादव-कांग्रेस
बहरोड-जसवंत सिंह यादव-भाजपा
अलवर-संजय शर्मा-भाजपा
अलवर ग्रामीण-टीकाराम जूली-कांग्रेस
रामगढ़-जुबैरखान-कांग्रेस
राजगढ़-लक्ष्मणगढ़-मांगेलाल मीना-कांग्रेस

———————————————————————
अलवर के अब तक के सांसद
वर्ष सदस्य दल
1952 शोभा राम कुमावत कांग्रेस
1957 शोभा राम कुमावत कांग्रेस
1962 काशी राम गुप्ता स्वतंत्र
1967 भोलानाथ मास्टर कांग्रेस
1971 हरि प्रसाद शर्मा कांग्रेस
1977 रामजी लाल यादव जनता पार्टी
1980 राम सिंह यादव कांग्रेस (आई)
1984 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
1989 रामजी लाल यादव जनता दल
1991 महेंद्र कुमारी भाजपा
1996 नवल किशोर शर्मा कांग्रेस
1998 घासी राम यादव कांग्रेस
1999 जसवन्त सिंह यादव भाजपा
2004 करण सिंह यादव कांग्रेस
2009 जीतेन्द्र सिंह कांग्रेस
2014 महंत चांदनाथ भाजपा
2018 करण सिंह यादव(उपचुनाव) कांग्रेस
2019 महंत बालकनाथ भाजपा

पिछले चार लोकसभा चुनावों में यह रहा चुनावी गणित
वर्ष-2019
पार्टी प्रत्याशी वोट मिले प्रतिशत
बीजेपी महंत बालकनाथ 760,201 60.06
कांग्रेस भंवर जीतेन्द्र सिंह 4,30,230 33.99

2018 उपचुनाव
कांग्रेस करण सिंह यादव 642,416 57.43
बी जे पी जसवन्त सिंह यादव 4,45,920 40.07
वर्ष – 2014
बीजेपी महंत चांदनाथ 642,278 60.46
कांग्रेस भंवर जीतेन्द्र सिंह 3,58,383 33.74

2009
कांग्रेस जितेन्द्र सिंह 450119 59.02
भाजपा किरण यादव 293500 38.48
—————————————————————–

ट्रेंडिंग वीडियो