scriptसेना और पुनीत बालन ग्रुप ने कश्मीर में पहली बार कराया लेजर लाइट शो | Army and Punit Balan Group conducted laser light show for first time in Kashmir | Patrika News
जयपुर

सेना और पुनीत बालन ग्रुप ने कश्मीर में पहली बार कराया लेजर लाइट शो

अपनी तरह का पहला और अनूठा लेजर, लाइट और साउंड शो है, जो पर्यटकों और स्थानीय लोगों के लिए उपहार से कम नहीं है। यह शो दर्शकों को कश्मीर घाटी के सदियों पुराने इतिहास से लेकर आज के ‘प्रगतिशील कश्मीर’ की यात्रा पर ले जाता है। इस इतिहास का वाचन प्राचीन बोनियार मंदिर के माध्यम से किया गया है।

जयपुरJun 24, 2024 / 10:16 pm

Gaurav Mayank

जयपुर। भारतीय सेना के चिनार कोर, डागर डिवीज़न और पीर पंजाल ब्रिगेड द्वारा पुनीत बालन ग्रुप के सहयोग से बोनियार में लेजर, लाइट और साउंड शो की शुरुआत की गई। शो का उद्देश्य कश्मीर की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत को दर्शाना एवं भारतीय सेना की वीरता को प्रदर्शित करना है।
इस मौके पर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा बोनियार में शो का उद्घाटन जीओसी चिनार कोर, लेफ्टिनेंट जनरल राजीव घई (एवीएसएम, एसएम और जीओसी डागर डिवीज़न), मेजर जनरल राजेश सेठी (एसएम, वीएसएम) और पुनीत बालन (सीएमडी, पुनीत बालन ग्रुप) की उपस्थिति में किया। शो का उद्घाटन ‘डागर हेरिटेज कॉम्प्लेक्स’ के हिस्से के रूप में किया गया है।
पर्यटकों को दिखेगा अनूठा रोमांच

यह अपनी तरह का पहला और अनूठा लेजर, लाइट और साउंड शो है, जो पर्यटकों और स्थानीय लोगों के लिए उपहार से कम नहीं है। यह शो दर्शकों को कश्मीर घाटी के सदियों पुराने इतिहास से लेकर आज के ‘प्रगतिशील कश्मीर’ की यात्रा पर ले जाता है। इस इतिहास का वाचन प्राचीन बोनियार मंदिर के माध्यम से किया गया है। बोनियार मंदिर का निर्माण कश्मीर के प्राचीन अवंतिवर्मन शासकों ने 12वीं शताब्दी ईस्वी में करवाया था। 28 मिनट के शो में धरती पर स्वर्ग कही जाने वाली कश्मीर घाटी के भूवैज्ञानिक और रहस्यमय विकास को प्रदर्शित किया गया है।
यह दिखाया शो में

शो में दर्शकों को कश्मीर पर शासन करने वाले और सदियों तक इसकी सांस्कृतिक और धार्मिक विकास में भूमिका निभाने वाले विभिन्न राजवंशों के बारे में अवगत कराया जाता है। साथ ही यह शो भारतीय सेना की वीरता और बलिदान को भी दर्शाता है, जिसने कश्मीर में अशांति फैलाने वाले भारत के विरोधी देशों के बुरे इरादों को हमेशा नाकाम करने में अहम् भूमिका निभाई है। अंत में शो में कश्मीर की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को बरकरार रखने और शांति व सामंजस्यपूर्ण सह-अस्तित्व बनाए रखने के साथ-साथ विकास की और आगे बढ़ने की आशा व्यक्त की गई है।
ऐसे साकार हुआ लेजर, लाइट और साउंड शो

पुनित बालन ग्रुप के सहयोग से लेजर, लाइट और साउंड शो संभव हुआ है। इस शो का कांसेप्ट और डिजाइन पीर पंजाल ब्रिगेड ने तैयार किया है। बेंगलुरु के क्रिएटिव लेजर सिस्टम ने शो के रूप में इसे आकार दिया है। इस आकर्षक और मंत्रमुग्ध शो के जरिए आगामी समय में स्थानीय आबादी और पर्यटकों की संख्या बढ़ाने में मदद मिलेगी। बारामुला-उरी हाईवे के चौड़ीकरण और उरी तक रेलवे लाइन बनाने से बोनियार तक अधिक अच्छी स्थिति में पर्यटकों के लिए प्रवेश करना संभव होगा।
सही अर्थों में दुनिया के सामने आएगा घाटी का इतिहास

पुनीत बालन ग्रुप के अध्यक्ष पुनीत बालन ने कहा कि कश्मीर भारत का अविभाज्य अंग है। पृथ्वी के इस स्वर्ग भूमि का सांस्कृतिक, धार्मिक परंपरा का बड़ा इतिहास है। केवल भारतीयों को ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व को इसका पता चले और वे कश्मीर घाटी के इस इतिहास का दर्शन कर सकें, इसलिए भारतीय सेना की मदद से यह लेजर, लाइट, साउंड तैयार किया गया है। इसके जरिए कश्मीर घाटी का इतिहास सही अर्थों में दुनिया के सामने आएगा।

Hindi News/ Jaipur / सेना और पुनीत बालन ग्रुप ने कश्मीर में पहली बार कराया लेजर लाइट शो

ट्रेंडिंग वीडियो