scriptRajasthan Politics : अशोक गहलोत ने अच्छे अच्छों को पानी पिला दिया, सचिन पायलट की यात्रा के बीच धारीवाल का बयान | Ashok Gehlot Has Dealt Many in Rajasthan Politics Who Is Sachin Pilot Shanti Dahriwal Remark | Patrika News

Rajasthan Politics : अशोक गहलोत ने अच्छे अच्छों को पानी पिला दिया, सचिन पायलट की यात्रा के बीच धारीवाल का बयान

locationजयपुरPublished: May 12, 2023 08:26:09 am

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

Ashok Gehlot v/s Sachin Pilot Fight In Congress: राजनीति में माहिर खिलाड़ी हर चाल को टाइमिंग देखकर चलता है। सीएम अशोक गहलाेत ने गुरुवार को बगैर नाम लिए सचिन पायलट पर निशाना साधा और कहा कि जो नेता पार्टी के प्रति लॉयल नहीं होते है, वे कभी कामयाब भी नहीं हो सकते है।

Ashok Gehlot v/s Sachin Pilot Fight In Congress

Ashok Gehlot v/s Sachin Pilot Fight In Congress


Ashok Gehlot v/s Sachin Pilot Fight In Congress: राजनीति में माहिर खिलाड़ी हर चाल को टाइमिंग देखकर चलता है। सीएम अशोक गहलाेत ने गुरुवार को बगैर नाम लिए सचिन पायलट पर निशाना साधा और कहा कि जो नेता पार्टी के प्रति लॉयल नहीं होते है, वे कभी कामयाब भी नहीं हो सकते है। मैं हमेशा सबको साथ लेकर चला हूं, कभी थारी म्हारी नहीं की और यहीं वजह है कि सोनिया गांधी ने तीन बार सीएम बनने का मौका दिया।

यह भी पढ़ें

सचिन पायलट की ढाई चाल, कांग्रेस कर सकती है बहुत बुरा हाल, जानिए जनसंघर्ष यात्रा की पांच बड़ी बातें



गहलोत ने मंत्री शांति धारीवाल की बात का भी खंडन करते हुए कहा कि मैनें किसी को पानी नहीं पिलाया, हमेशा छोटी लाइन काटने के बजाय बड़ी लाइन खींची। दरअसल धारीवाल ने घाट की गुणी चौराहे पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पंडित नवलकिशोर शर्मा की मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में कह दिया था कि गहलोत ने अच्छे अच्छों को पानी पिला दिया है।

धारीवाल का इशारा 1998 में मुख्यमंत्री बनने के मौके को लेकर था। इस बयान के बाद ही जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भाषण देने के लिए आए तो उन्होंने इसका खंडन कर दिया और कहा कि मैंनें सबका विश्वास जीता है। बस मेरे विचार और काम करने के तरीके अलग थे।

यह भी पढ़ें

सचिन पायलट का “खेला” शुरू, इन 35 सीटों पर होगा बड़ा उलटफेर




https://twitter.com/ashokgehlot51/status/1656581813610090497?ref_src=twsrc%5Etfw


एक जमाना था जब धारीवाल मेरे खिलाफ थे

अशोक गहलोत ने पुरानी बातें बताते हुए कहा कि एक जमाना था जब धारीवाल भी मेरे खिलाफ थे, लेकिन इस बात को मैनें दिल से नहीं लगाया था। साल 1998 में पहली बार अपना मंत्रिमंडल बनाया था तो ऐसे नेताओं को मंत्री बनने का मौका दिया जो पार्टी और आलाकमान के प्रति समर्पित थे और यही भावना हमेशा रखी है।

बाउजी ने कहा, आज से तेरा हैडमास्टर गहलोत

कार्यक्रम में नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने बाउ जी के नाम से मशहूर नवलकिशोर शर्मा का एक किस्सा सुनाते हुए कहा कि मैं उनका पक्का चेला था लेकिन गहलोत ने जब पहली बार मंत्री बनाने के लिए कहा तो मैं बाउजी के पास गया। उनको बताया तो मुझे कहा कि आज से तेरा हैड मास्टर अशोक गहलोत हैं। आगे से गहलोत का हर हुक्म मानना होगा। कार्यक्रम में कई मंत्री, विधायक और नवलकिशोर शर्मा के पुत्र खादी बोर्ड चेयरमैन बृजकिशोर शर्मा मौजूद थे।
https://youtu.be/sTsrLxAk5yc
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो