script राजस्थान सीएम भजनलाल शर्मा को जान से मारने की धमकी देने के मामले में आया बड़ा अपडेट | Big update in case of threatening to kill Rajasthan CM Bhajanlal Sharma | Patrika News

राजस्थान सीएम भजनलाल शर्मा को जान से मारने की धमकी देने के मामले में आया बड़ा अपडेट

locationजयपुरPublished: Jan 20, 2024 07:48:14 am

Submitted by:

Kirti Verma

Rajasthan : पुलिस कन्ट्रोल रूम 100 नंबर पर मोबाइल से कॉल कर मुख्यमंत्री को शूट करने की धमकी देने के मामले में सेंट्रल जेल से शुक्रवार को दो और बंदियों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस कमिश्नर बीजू जॉर्ज जोसफ ने बताया कि धोखाधड़ी मामले में जेल में बंद राकेश जैन व मादक पदार्थ तस्करी के मामले में बंद हनुमानराम बिश्नोई को शुक्रवार को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया।

bhajanlal_sharma.jpg

Rajasthan : पुलिस कन्ट्रोल रूम 100 नंबर पर मोबाइल से कॉल कर मुख्यमंत्री को शूट करने की धमकी देने के मामले में सेंट्रल जेल से शुक्रवार को दो और बंदियों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस कमिश्नर बीजू जॉर्ज जोसफ ने बताया कि धोखाधड़ी मामले में जेल में बंद राकेश जैन व मादक पदार्थ तस्करी के मामले में बंद हनुमानराम बिश्नोई को शुक्रवार को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया। वहीं, गुरुवार को गिरफ्तार बंदी मुकेश असरानी व चेतना जाट को गिरफ्तार किया था। आरोपी मुकेश व चेतन को शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें एक दिन की पुलिस रिमांड पर सौंपा है। बंदियों को जेल में मोबाइल व सिम किसने पहुंचाई। इस संबंध में चारों बंदियों से पूछताछ की जा रही है। गौरतलब है कि जेल से फोन करने की जानकारी सामने आने के बाद जेल प्रशासन ने जेल अधीक्षक ओमप्रकाश शर्मा को हटा दिया और हैड वार्डन अजय सिंह राठौड़ व वार्डन मनीष कुमार यादव को सस्पेंड कर दिया था। वार्डन की भूमिका भी संदिग्ध बताई गई है। पुलिस इस संबंध में जांच कर रही है।

महानिदेशक जेल भूपेन्द्र दक ने कारागार से बंदी के पास मोबाइल पहुंचने के मामले में बुधवार को सेंट्रल जेल अधीक्षक ओमप्रकाश को हटा दिया है । जेल मुख्यालय में तैनात ओमप्रकाश के पास सेंट्रल जेल के अधीक्षक का अतिरिक्त चार्ज था। वहीं लालकोठी थाना पुलिस ने मुख्यमंत्री को शूट करने की धमकी देने के मामले में जेल से प्रॉडक्शन वारंट पर आमेर निवासी पोक्सो एक्ट में बंद मुकेश इसरानी व धोखाधड़ी के मामले में बंद चेतन को गिरफ्तार किया गया । पुलिस उनसे पूछताछ करेगी कि उन तक मोबाइल जेल प्रहरियों ने पहुंचाया या फिर अन्य किसी ने दिया। जेल अधिकारी इस मामले की विभागीय जांच भी करवा रहे हैं। इस मामले में सरकार ने भी रिपोर्ट मांगी है।

यह भी पढ़ें

राजस्थान सीएम भजनलाल को मिली जान से मारने की धमकी, दो वार्डन सस्पेंड

यह है मामला
बुधवार सुबह पुलिस कंट्रोल रूम पर कॉल आया। कॉल करने वाले ने एक घंटे में मुख्यमंत्री को शूट करने की धमकी दी। पुलिस कमिश्नर बीजू जॉर्ज जोसफ ने तकनीकी टीम को तलाश में लगाया तो पता चला कि सेंट्रल जेल के अंदर से कॉल किया गया था। पुलिस बल ने जेल में सर्च किया तो पता चला कि पोक्सो एक्ट में पांच वर्ष से बंद मुकेश इसरानी ने मुख्यमंत्री को शूट करने की धमकी देने वाला कॉल किया था। बंदी मुकेश ने दूसरे बंदी चेतन से मोबाइल लिया था और मोबाइल में बंदी राकेश द्वारा उपलब्ध करवाई गई मोबाइल सिम लगाई गई थी। इस मामले में लालकोठी थाने में मामला दर्ज करवाया गया है। बंदियों के पास मोबाइल मिलने के मामले में बुधवार रात को हैड वार्डन अजय सिंह राठौड़ व वार्डन मनीष कुमार यादव को सस्पेंड कर दिया था।

ट्रेंडिंग वीडियो