scriptCrime increased in Jaipur : 66 increase in female atrocities | 2019 का रिपोर्ट कार्ड: पिछले साल के मुकाबले महिला अत्याचार में 66 फीसदी की वृद्धि | Patrika News

2019 का रिपोर्ट कार्ड: पिछले साल के मुकाबले महिला अत्याचार में 66 फीसदी की वृद्धि

जयपुर कमिश्नरेट ( jaipur Commissionerate ) की ओर से बुधवार को 2019 का रिपोर्ट कार्ड पेश किया गया। इसमें थानों ( jaipur police ) में दर्ज मुकदमों में वर्ष 2018 के मुकाबले 46 फीसदी बढ़े है। आईपीसी में 2018 में कुल 22754 मुकदमें दर्ज हुए, जबकि वर्ष 2019 में 33180 मुकदमें दर्ज हुए। इसी तरह महिला अत्याचार ( female atrocities ) में वर्ष 2018 में 2099 मुकदमें दर्ज हुए

जयपुर

Updated: January 09, 2020 01:03:06 am

जयपुर

जयपुर कमिश्नरेट ( jaipur commissionerate ) की ओर से बुधवार को 2019 का रिपोर्ट कार्ड पेश किया गया। इसमें थानों ( jaipur police ) में दर्ज मुकदमों में वर्ष 2018 के मुकाबले 46 फीसदी बढ़े है। आईपीसी में 2018 में कुल 22754 मुकदमें दर्ज हुए, जबकि वर्ष 2019 में 33180 मुकदमें दर्ज हुए। इसी तरह महिला अत्याचार ( female atrocities ) में वर्ष 2018 में 2099 मुकदमें दर्ज हुए जबकि वर्ष 2019 में 3474 मुकदमें दर्ज हुए। कुल मिलाकर 66 प्रतिशत की वृद्धि हुई।
Crime increased in Jaipur : 66 increase in female atrocities
Crime increased in Jaipur : 66 increase in female atrocities
अनुसूचित जाति और जनजाति अधिनियम के तहत वर्ष 2018 में 255 मामले दर्ज हुए जबकि वर्ष 2019 में 511 प्रकरण पंजीबद्ध हुए। दिसम्बर 2019 के अंत में मुकदमों की पैण्डेन्सी 14 प्रतिशत रही। अब जयपुर पुलिस संगठित अपराधों तथा वांछित व ईनामी अपराधियों के विरूद्ध कार्रवाई आबकारी एक्ट के तहत वर्ष 2018 की अपेक्षा वर्ष 2019 में 7 प्रतिशत कार्यवाहियां अधिक की गईं

वर्ष 2019 में आबकारी एक्ट में 1797 प्रकरण दर्ज कर 1807 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। वहीं एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत वर्ष 2018 में केवल 45 अभियोग दर्ज हुए थे जबकि वर्ष 2019 में 239 प्रकरण दर्ज कर 285 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। इस तरह कुल 431 प्रतिशत की वृद्धि हुई
वर्ष 2019 में 149 अवैध हथियार, 449 कारतूस एवं 2 मैगजीन जब्त की जाकर 274 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। वर्ष 2019 में 75 ईनामी अपराधी गिरफ्तार किये गए, वर्ष 2019 में 153 टॉप 10 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया।
समाज कंटको तथा असामाजिक तत्वों के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने वालों के विरूद्ध 60 पुलिस एक्ट के तहत वर्ष 2019 में 37395 कार्यवाहियां की गई। गुण्डा एक्ट के तहत वर्ष 2019 में 153 अपराधियों को जिलाबदर किया गया वहीं वर्ष 2019 में 23 अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोली गई। कार्यपालक मजिस्टे्रटस द्वारा विभिन्न दण्ड प्रक्रिया संहिता के तहत कुल 19185 व्यक्तियों को पाबन्द कराया गया तथा 139 लोक न्यूसेन्स हटाए गए।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तभारत ने ओडिशा तट से ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफलतापूर्वक किया परीक्षणNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पार6 रुपये की चाय, 37 रुपये में नाश्ता, जानें चुनावी खर्च के नियमUttar Pradesh Assembly Elections 2022: भीषण शीतलहरी में पूर्वांचल हुआ गर्म, दो मुख्यमंत्रियों के चुनावी मैदान में उतरने की आस ने बढ़ाई सरगर्मीप्रियंका गांधी ने जारी की कांग्रेस की दूसरी लिस्ट, 41 उम्मीदवारों के नाम फाइनल, 16 महिलाओं को भी दिया टिकट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.