ईडी ने जयपुर में 400 से ज्यादा फ्लैट किए अटैच, 100 से ज्यादा फ्लैटों की

ईडी ने जयपुर में 400 से ज्यादा फ्लैट किए अटैच, 100 से ज्यादा फ्लैटों की
ईडी ने जयपुर में 400 से ज्यादा फ्लैट किए अटैच, 100 से ज्यादा फ्लैटों की

Manoj Kumar Sharma | Publish: Oct, 10 2019 04:04:03 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी घोटाला

बुकिंग दे चुके ग्राहक लगा रहे चक्कर

- ईडी ने कहा... निवेशकों को पीएमएलए के न्याय निर्णयन प्राधिकरण, दिल्ली में लगानी होगी गुहार
- सबसे बड़ी संपत्ति उदयपुर में अटैच

जगमोहन शर्मा

जयपुर. प्रर्वतन निदेशालय (ईडी) ने आदर्श क्रेडिट ग्रुप की रियल एस्टेट इकाईयों पर कार्रवाई कर जयपुर में 400 फ्लैट्स अटैच किए हैं। इनमें 300 से ज्यादा फ्लैट्स अनसोल्ड है, जबकि 100 फ्लैटों के ग्राहक बुकिंग राशि
दे चुके हैं। अब ये ग्राहक ईडी के दफ्तर के चक्कर लगा रहे हैं। गौरतलब हैकि ईडी ने ग्रुप की राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा, महाराष्ट्र, यूपी और गुजरात में 1489 करोड़ रुपए की संपत्ति मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम कानून के तहत जब्त की है।

जयपुर में अटैचमेंट

ईडी ने जयपुर में आदर्श ग्रुप के प्रोजेक्ट स्काई टैरेसेस और पार्क रिजेंसी में 400 फ्लैट और अजमेर रोड स्थित एलिमेंट मॉल में दो ऑफिस (नम्बर 501 व 502) अटैच किए हैं।

उदयपुर में 440 बीघा जमीन अटैच
इस ग्रुप का सबसे बड़ा अटैचमेंट उदयपुर में किया गया। ट्यूरिस्ट विलेज नाम से विकसित किया जा रहा यहा प्रोजेक्ट करीब 440 बीघा में बनने वाला था, इसे सहारा की महाराष्ट्र स्थित अम्बे वैली की तर्ज पर बनाने की योजना थी। ईडी का कहना है कि इस जमीन की वैल्यू 500 करोड़ रुपए है।

ईडी बोला- दिल्ली में करनी होगी गुहार

इधर, ईडी के अधिकारियों का कहना है कि जिन निवेशकों ने इस ग्रुप के प्रोजेक्ट्स में निवेश के लिए बुकिंग राशि दे दी है, अब उन्हें पीएमएलए के न्याय निर्णयन प्राधिकरण, संसद मार्ग, दिल्ली में अपील करनी होगी, क्योंकि ईडी ने इस ग्रुप की देशभर में सभी अनरजिस्टर्ड प्रॉपर्टी अटैच कर ली है और मामला पीएमएलए प्राधिकरण, दिल्ली को सौंप दिया है।

देशभर में कार्रवाई, नोएडा में 100 बीघा जमीन अटैच
ईडी ने आदर्श ग्रुप की जयपुर, उदयपुर, सिरोही, गुरुग्राम, नोएडा, भिवाड़ी, देहरादूर, जम्मू और कश्मीर, अम्बाला में प्रॉपर्टी अटैच की है। ईडी के अनुसार आदर्श ग्रुप की नोएडा में 100 बीघा से ज्यादा जमीन अटैच की गई है।

230 करोड़ रुपए की निकासी का अब भी ब्योरा नहीं

आदर्श ग्रुप के मुकेश व राहुल मोदी ने 2011 से 2016 के बीच ग्रुप के खातों से 230 करोड़ रुपए की निकासी की थी, जिसका ब्योरा अभी तक नहीं मिला है। यह पैसा कहां निवेश किया है, या विदेश भेजा है, इसकी जांच की जा रही है।

दस हजार करोड़ की संपत्ति का दावा
आदर्श ग्रुप पर इस साल की शुरुआत में हुई आयकर कार्रवाई में गु्रप ने विभाग को दस हजार करोड़ रुपए की संपत्ति का ब्योरा दिया था। हालांकि ईडी की जांच में यह दावा खोखला निकला। दरअसल आदर्श ग्रुप ने एक एमएनसी कंपनी जेएलएल से ग्रुप की संपत्तियों की वैल्यूएशन कराई थी, जोकि बाद में गलत साबित हुई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned