किसानों ने भरी हुंकार! एक इंच जमीन भी नहीं होने देंगे अवाप्त, अगर हुई तो होगा आंदोलन

सरकार व जेडीए के खिलाफ 20 गांवों का प्रदर्शन...

Dinesh Saini

January, 0312:08 PM

जयपुर। टोंक रोड पर शिवदासपुरा व आस—पास के इलाके में ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट के लिए जमीन अवाप्ति के विरोध में लोग खड़े हो गए हैं। बरखेड़ा मोड़ के पास मंगलवार को डेढ़ दर्जन से अधिक गांवों के लोगों ने प्रदर्शन कर बड़े स्तर पर आंदोलन की चेतावनी दी। ग्रीन फिल्ड एयरपोर्ट संघर्ष समिति अध्यक्ष सुरेन्दसिंह राजावत ने कहा कि एयरपोर्ट प्राधिकरण की मंजूरी बिना जेडीए सैकड़ों किसानों की बेशकीमती जमीन अवाप्त करना चाहता है। इसमें एतिहासिक धरोहर, 80 हजार आबादी एवं 2 हजार पक्के मकान शामिल हैं। वक्ताओं ने कहा कि एयरपोर्ट के लिए एक इंच जमीन भी अवाप्त नहीं होने देंगे। इस बीच चाकसू तहसीलदार हरिसिंह राव को राज्य सरकार के नाम ज्ञापन सौंपा। हर तरीके से सरकार का विरोध करेंगे।

 

 

150 किलोमीटर दूरी का है नियम
भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के मुताबिक सामान्य तौर पर एक एयरपोर्ट से दूसरे के बीच की दूरी 150 किलोमीटर होने की बाध्यता (स्पेशल केस छोडकऱ) है। जबकि मौजूदा एयरपोर्ट और प्रस्तावित जगह के बीच महज 15 से 17 किलोमीटर दूरी ही है। इससे ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट के लिए कम से कम 20 किलोमीटर की दूरी को आधार मानते हुए आस—पास की जमीन भी देखने के लिए कहा गया है।

 

Read More: कोटा सेंट्रल जेल में खूंखार अपराधियों का खौफ, पति की जान बचाने को पत्नियां बेच रही मंगलसूत्र

 

एक प्रस्ताव, दो ब्लॉक
जेडीए राज्य सरकार को अवाप्ति का प्रस्ताव भेज चुका है। सूची में दो ब्लॉक बनाए गए हैं। एक में 15 गांवों की 1490.23 हैक्टेयर भूमि अवाप्ति का प्रस्ताव है, जिसमें 2.5 किलोमीटर चौड़ी और 6 किलोमीटर लम्बाई में जमीन चाहिए। सूची के अंतिम ब्लॉक में बाकी पांच गावों की 604.07 हैक्टेयर जमीन अंकित की गई है। इस भूमि पर एयरोट्रापोलिस के रूप में विकसित करना प्रस्तावित है, जिसमें होटल, मार्केट विकसित करना है। साथ ही बतौर मुआवजा 25 प्रतिशत विकसित भूमि भी यहीं दी जाएगी। ऐसे में कुल 2094.30 हैक्टेयर जमीन शामिल की गई है।

Show More
dinesh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned