नकली घी बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दो आरोपी गिरफ्तार

सरस और नोवा ब्रांड का बनाते थे नकली घी

By: Lalit Tiwari

Updated: 30 Aug 2020, 09:13 PM IST

जयपुर ग्रामीण इलाके के शाहपुरा थाना पुलिस ने रविवार को कार्रवाई करते हुए सरस और नोवा ब्रांड के 450 किलों नकली घी सहित दो मिलावट खोरो को गिरफ्तार को किया हैं। आरोपी पिछले दो साल से मिलावटी घी बनाकर बेच रहे थे। पुलिस ने कारखाने से सोया तेल, डाल्डा एसेंस, सील सहित अन्य उपकरण बरामद किए हैं।
पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी कांवट थोई सीकर निवासी मधुसूदन शर्मा (35) पुत्र मदन और घनश्याम सैनी (40) पुत्र भगतराम को पकड़ा हैं। पुलिस ने बताया कि शाहपुरा थानाधिकारी राकेश ख्यालिया को मुखबिर से सूचना मिलने के बाद थार वाहन को रोककर चैक किया। वाहन में सरस, लोट्स, नोवा ब्राण्ड का नकली मिलावटी घी करीब 450 लीटर बरामद हुआ। पुलिस ने खाद्य निरीक्षक से सम्पर्क कर मिलावटी घी के परीक्षण के लिए सैम्पल इकट्ठे करवाए है। ट्रेड मार्क के गलत उपयोग और कॉपीराइट के लिए सरस डेयरी के अधिकारियों को बुलाकर मिलावटी घी और डिब्बों का निरीक्षण करवाया। घी और ब्राण्ड को प्राथमिक जांच में नकली और स्वास्थय की दृष्टि से बेहत खराब होना बताया गया।

इस तरह करते थे मिलावट-
पूछताछ में सामने आया कि आरोपी मधुसूदन शर्मा पिछले दो साल से स्वयं के घर के पास ही खण्डरनुमा हवेली में नकली मिलावटी घी का कारखाना चला रहा था। आरोपी द्वारा सोयातेल, डाल्डा घी और एसेंस (सुगंध) मिलाकर भट्टी पर गर्म कर मिलावटी घी बनाते है। यह स्वास्थय के लिए गंभीर खतरा पैदा करता है। आरोपी दो साल से अब तक लाखों लीटर मिलावटी नकली घी बनाकर कोटपूतली, पावटा आदि स्थानों पर बेचते थे।

Show More
Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned