scriptJammu and Kashmir Terrorist Attack: आतंकी हमले में मारे गए माता-पिता के शव देख फूट पड़ी बच्चों की रूलाई, लगे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे | Jammu and Kashmir Terrorist Attack: Bodies of four pilgrims killed in the terrorist attack reached Jaipur, children orphaned by the slogan of Pakistan Murdabad burst into tears | Patrika News
जयपुर

Jammu and Kashmir Terrorist Attack: आतंकी हमले में मारे गए माता-पिता के शव देख फूट पड़ी बच्चों की रूलाई, लगे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

Jammu Terror Attack : चौमूं व मुरलीपुरा में प्रदर्शन कर रहे लोग आतंक का हो खात्मा पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे। लोगों का कहना था पाकिस्तान कश्मीर में कायरना हरकत कर रहा है।

जयपुरJun 12, 2024 / 09:20 am

Supriya Rani

Terror Attack In Jammu : चौमूं व मुरलीपुरा में प्रदर्शन कर रहे लोग आतंक का हो खात्मा पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे। लोगों का कहना था पाकिस्तान कश्मीर में कायरना हरकत कर रहा है। अब समय आ गया जब पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब दिया जाए। धरना समाप्त होने के बाद करीब साढे पांच बजे जैसे ही पांच्यावाली ढाणी में मृतक दंपति राजेन्द्र सैनी और ममता के शव पहुंचे तो ढाणी में माहौल गमगीन हो गया। बेटी वर्षा और दोनों बेटों राहुल एवं लक्की की रुलाई थमने का नाम नहीं ले रही थी। मृतक के भाई ओमप्रकाश और मंगलचंद की आंखों में छोटे भाई और उसकी बहु के खोने का दर्द साफ दिख रहा था। घर वालों की रोता हुआ देखकर रिश्तेदार उन्हें चुप करवाने में लगे हुए थे। दोनों शवों की अंत्येष्टि एक ही चिता पर की गई। इस दौरान हर किसी की आंख नम दिखी। शवों को पुलिस के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इस दौरान स्वायत्त शासन मंत्री झाबर सिंह खर्रा भी शामिल हुए।

जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले में मारे गए जयपुर के चार जनों के शव मंगलवार को जम्मूतवी अजमेर पूजा एक्सप्रेस ट्रेन से जयपुर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। इसके बाद आतंकवाद के खिलाफ, मुआवजा और अन्य मांगों को लेकर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। लोगों ने परिजनों के साथ मुरलीपुरा थाने के बाहर धरना देकर प्रदर्शन किया। मुरलीपुरा में लोगों ने शव रखी एम्बुलेंस को सड़क पर खड़ी कर प्रदर्शन किया। लोगों ने मृतक आश्रितों को उदयपुर के कन्हैयालाल का पैकेज देने की मांग की। इस बीच प्रतिनिधिमंडल और प्रशासन के बीच वार्ता भी हुई, लेकिन बेनतीजा रही। आक्रोशित लोगों ने जयपुर-सीकर हाईवे जाम करने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उनको वहां से हटा दिया।

jammu terror attack

50-50 लाख मुआवजे की मांग

इसके बाद मुरलीपुरा थाने के बाहर धरना शुरू किया। थाने के बाहर हजारों लोगों ने नारेबाजी की और मृतक आश्रितों को सरकारी नौकरी और 50-50 लाख रुपए मुआवजे की मांग को लेकर प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर आए। सुबह 10 बजे से चल रहा धरना शाम साढ़े 4 बजे खत्म हुआ, जहां अतिरिक्त जिला कलक्टर शैफाली कुशवाहा ने मृतक पूजा सैनी व उसके बेटे लिवांश के आश्रितो को 50 लाख रुपए मुआवजा व एक सदस्य को संविदा पर नौकरी व एक डेयरी बूथ देने पर सरकार की तरफ से सहमति दी। वहीं जम्मू सरकार ने मृतकों के आश्रितों को 10-10 लाख का मुआवजा दिया है। सूचना पर मुरलीपुरा थाने पर हवामहल विधायक बालमुकुंद आचार्य भी पहुंचे और लोगों से समझाइश की, लेकिन लोगों ने उनकी एक नहीं मानी। धरना प्रदर्शन जारी रखा।

हादसे में घायल हुए अजमेरा की ढाणी चरण नदी द्वितीय में रहने वाले पवन सैनी ने बताया कि वैष्णो देवी में दर्शन करने के बाद लगा सारी मुरादें पूरी हो गई। हम सभी लोग सेल्फी ले रहे थे और अपनी यादों को संजो रहे थे। लेकिन पल भर में ही सब कुछ खत्म हो गया। एबुलेंस में बैठा पवन दूसरी गाड़ी में रखे बेटे और पत्नी के शव को देखकर बिलखने लगा। दिन भर चले घटनाक्रम के बाद जैसे ही शवों की अत्येष्टि का समय आया तो घर में कोहराम मच गया। पिता रामलाल सैनी दहाड़े मारकर रो रहे थे। पोते लिवांश की किलकारी से पूरा घर गूंजा करता था वहां अब चीख पुकार मची हुई थी।

भाजपा नेता को धक्का मारकर हटाया

प्रदर्शनकारियों ने धरना में शामिल होने पहुंचे भाजपा नेता भूपेंद्र सैनी को धक्का मारकर वहां से हटाया। इससे पहले मंगलवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे जम्मू-कश्मीर में मारे गए जयपुर व चौमूं के परिवार के चारों शवों को ट्रेन (पूजा एक्सप्रेस) से जयपुर लाया गया। यहां से शवों को कार से भिजवाया गया। साथ ही मुरलीपुरा व चौमू थाने की सुरक्षा बढ़ा दी गई व छह थानों की फोर्स बुलाई गई है। इसके अलावा पुलिस लाइन से भी बड़ी संख्या में जवानों को तैनात किया गया।

अंतिम संस्कार, माहौल हुआ गमगीन

jammu terror attack

आंतकी हमले में चरण नदी निवासी पवन सैनी की पत्नी पूजा सैनी व उनके दो साल के बेटे लिवांश का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग और पुलिस जाप्ता तैनात रहा। प्रशासन अलर्ट मोड पर रहा। क्षेत्र में माहौल पूरी तरह गमगीन हो गया है। इधर, पवन और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

धरने के बाहर बैठे लोगों की सुनी पीड़ा

मुरलीपुरा में थाने के बाहर राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत, हवामहल विधायक बालमुकुन्दाचार्य, जन समस्या निवारण मंच के प्रदेशाध्यक्ष सूरज सोनी, पूर्व विधायक रामलाल शर्मा, जयपुर शहर कांग्रेस के अध्यक्ष आर.आर.तिवाड़ी, कांग्रेस नेता गिरिराज गर्ग, विक्रम सिंह, विप्र कल्याण बोर्ड की पूर्व उपाध्यक्ष मंजू शर्मा, विद्याधर नगर ब्लॉक कांग्रेस के अध्यक्ष बद्री कुमावत सहित कई लोग पहुंचे और परिजनों की पीड़ा सुनी।

ये था मामला

9 जून को शाम 6 बजे आतंकियों ने शिवखोड़ी से कटरा जा रही बस पर फायरिंग कर दी थी। इसमें चालक की गोली लगने से बस का संतुलन बिगड़ गया और बस गहरी खाई में गिर गई, जिसमें 10 श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी। इनमे जयपुर में चौमूं पांच्यावाली की ढाणी में रहने वाले राजेंद्र सैनी (42) और उनकी पत्नी ममता सैनी (40) की मौत हो गई। वहीं राजेंद्र के बड़े भाई ओमप्रकाश की बेटी पूजा सैनी (30) निवासी अजमेरा की ढाणी, चरण नदी (जयपुर) और पूजा के बेटे लिवांश उर्फ किट्टू (2) की मौत हो गई। पूजा का पति पवन सैनी हादसे में घायल हो गए थे।

Hindi News/ Jaipur / Jammu and Kashmir Terrorist Attack: आतंकी हमले में मारे गए माता-पिता के शव देख फूट पड़ी बच्चों की रूलाई, लगे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

ट्रेंडिंग वीडियो