जाट आरक्षण : आरक्षण के मामले में जाट समुदाय के अभ्यर्थियों को बड़ी राहत, अब इनको भी मिलेगा आरक्षण का फायदा

जाट आरक्षण : आरक्षण के मामले में जाट समुदाय के अभ्यर्थियों को बड़ी राहत, अब इनको भी मिलेगा आरक्षण का फायदा

rohit sharma | Publish: May, 18 2018 01:29:22 AM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

चुनावी साल में प्रदेश के भरतपुर एवं धौलपुर जाट समुदाय के अभ्यर्थियों को आरक्षण के मामले में मिली बड़ी राहत

 

जयपुर

राजस्थान में भरतपुर एवं धौलपुर के जाट समुदाय के अभ्यर्थियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। भरतपुर एवं धौलपुर के जाट समुदाय के अभ्यर्थियों को अन्य पिछड़ा वर्ग में लंबित भर्तियों में कार्मिक विभाग की ओर से बड़ी राहत मिली है।कार्मिक विभाग ने अब भरतपुर तथा धौलपुर जिले के जाट समुदाय के अभ्यर्थियों को राहत देते हुए अन्य पिछड़ा वर्ग में लंबित भर्तियों में आरक्षण का लाभ की घोषणा की है। कार्मिक विभाग ने इस संबंध में गुुरुवार को राजस्थान लोक सेवा आयोग तथा राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड को दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

कार्मिक विभाग के आदेश के अनुसार भरतपुर तथा धौलपुर के जाट समुदाय के अभ्यर्थियों को लंबित भर्तियों में अन्य पिछड़ा वर्ग आरक्षण का लाभ मिलेगा। विभाग ने एक याचिका के संबंध में राजस्थान हाईकोर्ट के दिए गए निर्णय की अनुपालना में यह आदेश जारी किया है। आदेश के मुताबिक किसी भर्ती में एक भी नियुक्ति हो गई है तो उसे पूर्ण मान लिया जाएगा।

गौरतलब है कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग ने 23 अगस्त, 2017 को रतपुर एवं धौलपुर के जाटों को ओबीसी वर्ग में आरक्षण देने की अधिसूचना जारी कर भरतपुर तथा धौलपुर के जाटों को अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल किया था। इस अधिसूचना के जारी होने की तिथि से ही यह आदेश प्रभावी माना गया है।

इन दोनों जिलों के जाटों को केंद्र की यूपीए सरकार ने आरक्षण का लाभ दिया था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के आदेश अनुसार इसे खारिज कर दिया गया था। सुप्रीम कोर्ट के खारिज करने के आदेश के बाद राजस्थान हाईकोर्ट ने भी भरतपुर तथा धौलपुर के जाट समुदाय का आरक्षण समाप्त कर दिया था। इसी को लेकर जाटों के समुदाय ने आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन भी किया था। अब इस पेंडिंग केस पर कार्मिक विभाग के निर्देश अनुसार इन वर्गों को भी आरक्षण में शामिल कर लिया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned