scriptLecturer promotion stuck in rules | Rajasthan Education Department: नियमों में फंस गई व्याख्याता पदोन्नति | Patrika News

Rajasthan Education Department: नियमों में फंस गई व्याख्याता पदोन्नति

शिक्षा विभाग में व्याख्याता पदोन्नति के नए सेवा नियमों पर विवाद खड़ा हो गया है। नए नियमों से जारी हुई पदोन्नति पात्रता सूची से करीब 10 हजार वरिष्ठ अध्यापक बाहर हो गए हैं। इन शिक्षकों के विरोध के बाद शिक्षा मंत्री बी.डी. कल्ला ने शिक्षा विभाग को निर्देश देकर नए नियमों के तहत की गई पदोन्नति प्रक्रिया को रुकवा दिया है।

जयपुर

Published: May 27, 2022 01:27:17 am

शिक्षा विभाग में व्याख्याता पदोन्नति के नए सेवा नियमों पर विवाद खड़ा हो गया है। नए नियमों से जारी हुई पदोन्नति पात्रता सूची से करीब 10 हजार वरिष्ठ अध्यापक बाहर हो गए हैं। इन शिक्षकों के विरोध के बाद शिक्षा मंत्री बी.डी. कल्ला ने शिक्षा विभाग को निर्देश देकर नए नियमों के तहत की गई पदोन्नति प्रक्रिया को रुकवा दिया है।
Minister Dr. BD Kalla spoke about CA A in jaisalmer
प्रभारी मंत्री कल्ला ने सरकार की उपलब्धियों का किया बखान,नागरिकता संशोधन विधेयक पर कही यह बात
मंत्री कल्ला ने कहा है कि जो परंपरा चली आ रही है, वही रहेगी। इसके बाद अब शिक्षा विभाग असमंजस की स्थिति में है। कारण यह है कि पूर्व शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के कार्यकाल मेें व्याख्याता पदोन्नति के सेवा नियम बदले गए थे। इधर, पदोन्नति के नियमों को लेकर उठे विवाद के बाद अभी तक विभाग ने स्पष्ट आदेश जारी नहीं किए। अब असमंजस यह है कि पदोन्नति में नए सेवा ही लागू होंगे या पुराने नियम ही रहेंगे।
28 हजार शिक्षक पात्र थे, 18 हजार ही रह गए

शिक्षा विभाग ने हाल ही व्याख्याता पदोन्नति वर्ष 2021-22 की अंतिम पात्रता सूची जारी की है। इस पर 6 जून तक आपत्तियां मांगी हैं। इससे पहले विभाग ने पुराने नियमोें के अनुसार पदोन्नति पात्रता सूची जारी की थी। इसमें 28 हजार 301 वरिष्ठ अध्यापकों को शामिल किया था। लेकिन अब नए नियमों से जारी हुई सूची में 10 हजार 125 शिक्षकों को बाहर कर दिया गया। 18 हजार 176 शिक्षक ही पदोन्नति के लिए पात्र माने गए हैं।
10 हजार शिक्षक सूची से बाहर, मंत्री ने बदले नियम

अब आगे क्या व्याख्याता पदोन्नति के लिए नए सेवा नियमों को केबिनेट ने मंजूरी दी थी। ऐसे में इन नियमों को विभाग स्तर पर बदला नहीं जा सकता। नियमों में संशोधन कराने के लिए वापस केबिनेट में प्रस्ताव ले जाना पडे़गा। यहां से मंजूरी के बाद ही नियमों को फिर से बदला जा सकता है।
जरूरी नहीं समान विषय हों: शिक्षा मंत्री
शिक्षा मंत्री कल्ला ने कहा है कि नए नियमों पर पुनर्विचार कर रहे हैं। विभाग को निर्देश दिए हैं कि पहले वाले नियम ही रखे जाएं। जरूरी नहीं कि यूजी और पीजी में समान विषय हों। आज तक जो परंपरा चली आ रही है वैसे ही रहेगी।
newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Assembly Speaker Election: महाराष्ट्र में विधानसभा स्पीकर का चुनाव आज, भाजपा और महा विकास अघाड़ी के बीच सीधी टक्करराहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़ा, जयपुर में रिपोर्ट दर्जहैदराबाद : बीजेपी की बैठक का आज दूसरा दिन, पीएम मोदी करेंगे संबोधितMaharashtra Politics: सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम फडणवीस को गर्वनर भगत सिंह कोश्यारी ने खिलाई मिठाई, तो चढ़ गया सियासी पारा!Char Dham Yatra 2022: चार धामा यात्रा को लेकर आई बड़ी खबर, केदारनाथ धाम गर्भगृह के दर्शन पर लगा प्रतिबंध हटाNIA की टीम ने केमिस्ट की हत्या की जांच के लिए महाराष्ट्र के अमरावती का किया दौराउदयपुर हत्याकांड का साइडइफेक्ट! मुस्लिम फेरीवालों से सामान खरीदने पर 5100 रुपए का जुर्माना, ग्राम पंचायत का लेटर पैड वायरलकौन है डॉक्टर महरीन काजी, जिनसे IAS अतहर आमिर करने जा रहे दूसरी शादी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.