scriptRajasthan: लोकसभा चुनाव को लेकर BJP ने बनाई यह खास रणनीति, इन 6 सीटों को पर विशेष चर्चा | Lok Sabha Elections 2024: Making Strategy BJP core committee meeting in jaipur | Patrika News

Rajasthan: लोकसभा चुनाव को लेकर BJP ने बनाई यह खास रणनीति, इन 6 सीटों को पर विशेष चर्चा

locationजयपुरPublished: Feb 22, 2024 07:48:04 pm

Submitted by:

Kamlesh Sharma

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दौरे के दो दिन बाद ही भाजपा ने प्रदेश कोर कमेटी की बैठक बुलाई और संगठन में चल रहे कामकाज की समीक्षा की।

Lok Sabha Elections 2024: Making Strategy BJP core committee meeting in jaipur

BJP Core Committee Meeting in Jaipur

जयपुर। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दौरे के दो दिन बाद ही भाजपा ने प्रदेश कोर कमेटी (BJP Core Committee Meeting) की बैठक बुलाई और संगठन में चल रहे कामकाज की समीक्षा की। पार्टी ने तय किया है कि पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना (ERCP) और यमुना के पानी से प्रभावित जिलों में सीएम भजनलाल शर्मा के नेतृत्व में यात्रा निकाली जाएगी। सरकार बनने के बाद केन्द्र और पड़ोसी राज्यों से चर्चा कर हाल ही दोनों मामले सुलझाए गए हैं। यह यात्रा लोकसभा चुनाव से पहले ही निकाली जाएगी। इसके अलावा पार्टी ने सभी 25 सीटें जीतने का लक्ष्य भी तय किया है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी की अध्यक्षता में प्रदेश कार्यालय में आयोजित बैठक में सीएम, केन्द्रीय मंत्री, उप मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। बैठक में इस बार प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे और ओम प्रकाश माथुर नहीं आए। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि बैठक में गांव चलो अभियान, शक्ति वंदन अभियान और लाभार्थी संपर्क अभियान में सभी की सहभागिता कैसे हो? इन सभी विषयों को लेकर चर्चा की गई।

हमने किसी को कोई आश्वासन नहीं दिया
अन्य दलों से भाजपा में शामिल होने वाले नेताओं को लोकसभा टिकट देंगे या नहीं। इस सवाल पर सीपी जोशी ने कहा कि बिना किसी शर्त के लोग भाजपा में शामिल हो रहे हैं। हमारी ओर से किसी को कोई आश्वासन नहीं दिया गया है।


6 लोकसभा सीटों पर विशेष चर्चा
बैठक में अलवर, अजमेर, जालोर, नागौर, जयपुर ग्रामीण और राजसमंद लोकसभा सीट को लेकर ज्यादा चर्चा हुई। नागौर सीट पर भाजपा का सांसद नहीं है और अब आरएलपी से गठबंधन भी नहीं है। इसी तरह जयपुर ग्रामीण, राजसमंद और अलवर सांसद अब विधायक बन चुके हैं, वहीं अजमेर और जालोर सांसद विधायक का चुनाव हार चुके हैं। इन सीटों पर नए प्रत्याशियों को तलाशने और सामाजिक समीकरण किस तरह से साधे जाएं। इस पर मंथन हुआ।

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो