कांग्रेस ने यूनिवर्सिटी में लगाई चुनावी क्लास, नेताओं और कार्यकर्ताओं को पढ़ाया जीत का सबक

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: pushpendra shekhawat

Published: 04 Apr 2019, 07:30 AM IST

सुनील सिंह सिसोदिया / जयपुर. लोकसभा के चुनावी रण में कूदने से पहले कांग्रेस अपने नेताओं को एक बार और पाठ पढ़ा रही है। हर लोकसभा क्षेत्र से करीब 50-50 वरिष्ठ नेता-कार्यकर्ताओं को जयपुर बुलाकर जीत का मंत्र दिया जा रहा है। इसके लिए जयपुर के एक निजी विश्वविद्यालय में दो दिवसीय पाठशाला बुलाई गई। पहले दिन बुधवार को 13 लोकसभा क्षेत्रों से नेता-कार्यकर्ताओं को बुलाया गया। शेष 12 लोकसभा क्षेत्रों के नेताओं को गुरुवार को बुलाया गया है। हर लोकसभा क्षेत्र के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री व प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट और प्रदेश प्रभारी अविनाश पाण्डे सहित अन्य नेताओं ने आधा से एक घंटे अलग-अलग चर्चा की।

 

पाठशाला में नेताओं को बूथवार आंकड़ों के आधार पर समझाया गया कि पहले किस बूथ पर कांग्रेस कमजोर रही और अब उन बूथों पर क्या तैयारी करनी है? ऐसे में अब चुनाव में जाने के साथ ही गत दो चुनावों में जिन बूथों पर कमजोर स्थिति रही, नेताओं को वहां ज्यादा फोकस करना है। इस पाठशाला से मीडिया को दूर रखा गया। गहलोत, पायलट और पाण्डे ने दिनभर मंथन किया। हर मतदान केन्द्र पर ईवीएम मशीन पर नजर, मोकपोल के दौरान सील प्रक्रिया, मशीन के साथ किसी प्रकार की छेड़छाड़ नहीं होने, ईवीएम जांच सहित बूथों पर बरती जाने वाली सतर्कता के बारे में बताया गया। इस पूरी जानकारी के लिए पार्टी स्तर पर हर लोकसभा सीट को लेकर डेटा तैयार किया गया है।


कांग्रेस का बूथ मैनेजमेंट पर जोर...
कांग्रेस का मुख्य रूप से बूथ मैनेजमेंट पर फोकस है। उनमें भी मुख्य रूप से उन बूथों पर जहां पार्टी को हार मिली है। इससे पहले हर विधानसभा सभा में हर बूथ के एक कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया गया था। इसके अलावा भी लोकसभा वार जयपुर और दिल्ली में मंथन किया जा चुका है। अब यह दो दिवसीय इस चुनाव को लेकर अंतिम मंथन हो रहा है। गुरुवार को इसके पूरा होने के बाद कांग्रेस के चुनावी दौरे तेज हो जाएंगे।


किस-किस को बुलाया...
हर विधानसभा से लोकसभा व विधानसभा चुनाव लड़ चुके उम्मीदवार, विधायक, सांसद, जिलाध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्ष और प्रत्येक विधानसभा से शक्ति के दो कार्यकर्ताओं सहित अन्य कुछ प्रमुख नेताओं को बुलाया गया था।


जयपुर में 1696 बूथों में से 335 पर ही मिली थी जीत
जयपुर लोकसभा सीट को लेकर बताया गया कि लोकसभा चुनाव 2014 में 1696 बूथों पर वोट पड़े थे। इनमें से कांग्रेस को मात्र 335 बूथों पर जीत मिली थी। जो कुल का 20 फीसदी के आसपास है। इसी तरह विधानसभा में जयपुर लोकसभा की सभी आठ विधानसभा सीटों पर 1683 बूथों में से 629 पर जीत मिली है, जो कुल का मात्र 37 फीसदी है। ऐसे में अब हार वाले 490 बूथों पर विशेष फोकस करने के लिए कहा गया है। इसी प्रकार लोकसभा सीट पर 3 लाख 22 हजार 699 मतदाता ऐसे बताए गए हैं, जिन्होंने 2014 में मतदान किया था, लेकिन अब नाम नहीं हैं। ऐसे मतदाताओं को तलाश कर नाम कटने के बारे में जानकारी करने के लिए भी कहा गया है। इस लोकसभा में पिछली बार के मुकाबले 1 लाख 82 हजार मतदाता पहली बार वोट डालेंगे, जिनसे घर-घर संपर्क किया जाएगा। जयपुर सीट पर 47156 शक्ति कार्यकर्ता हैं, जो चुनाव में सोशल मीडिया को लेकर जुटेंगे।
(इस तरह का वोट गणित हर लोकसभा सीट का पार्टी की ओर से मुहैया कराया गया है)

Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned