राजस्थान रोडवेज का नया आदेश, बस रवानगी से पहले होगी चालक की जांच

प्रदेश के करीब 13 हजार चालक व परिचालकों के लिए लागू होगा कोड ऑफ कंडक्ट

By: Mridula Sharma

Published: 10 Apr 2019, 10:49 AM IST

जयपुर. राजस्थान रोडवेज बस चालकों के लिए प्रबंधन ने नई व्यवस्था लागू करने की तैयारी की है। इसके लिए सभी डिपो मैनेजरों को आदेश जारी किए हैं। प्रदेश के करीब 13 हजार चालकों और परिचालकों के लिए रोडेवेज प्रशासन मोरल कोड ऑफ कंडेक्ट लागू करने जा रहा है। इसके अलावा बस स्टैंडों पर ही बस की रवानगी से पहले ब्रेथएनालाइजर से चालकों की शराब पीने की जांच की जाएगी।

मुख्यालय पर मंगलवार को एमडी शुचि शर्मा ने जोनल मैनेजरों की समीक्षा बैठक ली, जिसमें आदेशों की पालना के लिए हिदायत दी गई। बैठक में एमडी ने निर्देश दिए कि सभी चालकों की आंखों की जांच कराई जाए, इसके लिए डिपो स्तर पर कैंप लाएग जाएंगे।

मार्च में बढ़ा यात्री भार, दो करोड़ की अतिरिक्त आय
इधर रोडवेज को फरवरी की तुलना में मार्च में लाभ हुआ है। मार्च में यात्री बढ़ जाने से करीब दो करोड़ रुपए की अतिरिक्त आय हुई है, फरवरी में जहां डीजल औसत प्रति लीटर 5.03, यात्रीभार 77.09, ऑफ रोड बस 453 थी। मार्च 2019 में बढ़कर डीजल औसत प्रति लीटर 5.09, यात्रीभार 80.01, ऑफ रोड बस 427 हो गई। ऐसे में निगम को डीजल में करीब 65 लाख रुपए की बचत हुई और 2.01 प्रतिशत यात्री भार वृद्धि से दो करोड़ की आय हुई है।

Mridula Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned