Rajgarh SHO Vishnu Dutt Bishnoi Suicide Case: 'पत्रिका' के सवाल, कांग्रेस MLA डॉ कृष्णा पूनिया के जवाब

Rajgarh SHO Vishnu Dutt Bishnoi Suicide Case: 'पत्रिका' के सवाल, कांग्रेस MLA डॉ कृष्णा पूनिया के जवाब

By: Nakul Devarshi

Updated: 24 May 2020, 01:49 PM IST

जयपुर।

Rajgarh SHO Vishnu Dutt Bishnoi Suicide Case में सादुलपुर से कांग्रेस विधायक डॉ कृष्णा पूनिया का नाम सामने आया है।उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ शनिवार शाम को सादुलपुर पहुंचकर विधायक कृष्णा पूनिया पर नाम लेकर सीधा आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि पूनिया की ही झूठी शिकायतों के कारण विश्नोई ने आत्महत्या की है। इधर, सांसद राहुल कस्वा ने विश्नोई को जांबाज पुलिस ऑफिसर बताया तथा कहा कि इस प्रकार आत्महत्या कर लेना बहुत बड़ा संशय पैदा करता है। उन्होंने उच्च स्तरीय जांच के आदेश जारी करने तथा समस्त प्रकरण की सच्चाई सामने लाने की भी मांग की।


वहीं विश्नोई के मित्र एडवोकेट गोवर्धनसिंह भी सादुलपुर पहुंचे। उन्होंने इसे आत्महत्या नहीं बताकर इसे सोची समझी साजिश करार दिया। घटना की जांच में आईजी बीकानेर जोस मोहन व चूरू एसपी तेजस्वनी गौतम को दूर रखने की मांग की।

कृष्णा पूनिया ने आरोपों को बताया बेबुनियाद

विधायक डॉ.कष्णा पूनिया ने 'पत्रिका' से बातचीत में इस प्रकरण को लेकर तफ्सील से अपनी बात रखी है। उन्होंने थानाधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण को दुखदायी बताया है। विश्नोई को ईमानदार अधिकारी बताते हुए उन्होंने कहा कि मेरा उनसे ज्यादा मिलना नहीं हुआ। विधायक ने मामले में उच्चस्तरीय जांच की भी आवश्यकता जताई। विधायक ने आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि उन्होंने विश्नोई के तबादले संबंधी कभी कोई शिकायत नहीं की।

देखिये ख़ास बातचीत के अंश:-

पत्रिका: एसएचओ आत्महत्या से जुड़े प्रकरण में आपका नाम भी सामने आ रहा है, क्या कहना चाहेंगी?

पूनिया: पहले तो मैं ज़िले की एमएलए होने के नाते इस प्रकरण को बेहद दुखद मानती हूं। मैं संवेदना प्रकट करते हुए पुलिस अफसर के परिवार को सम्बल मिले ऐसी कामना करती हूं। जहां तक मेरा नाम इस प्रकरण में आने की बात है, तो कुछ लोग हैं जो इस प्रकरण के साथ मेरा नाम जोड़कर राजनितिक रोटियां सेंकने की कोशिश कर रहे हैं। वो किसी ना किसी तरह से मेरी बदनामी करना चाहते हैं। मैं भरोसा दिलाती हूं कि मैं एसएचओ परिवार के साथ हूं, जांच होनी चाहिए ताकि दूध का दूध पानी का पानी हो सके और ऐसे लोगों के मुंह पर तमाचा लगे।

सवाल: राजगढ़ एसएचओ विष्णु दत्त से आपकी कभी कोई बातचीत हुई और यदि हुई तो किस सन्दर्भ में ?

पूनिया: देखिये, कुछ दिन से राजगढ़ एसएचओ एक मर्डर प्रकरण को लेकर जांच में जुटे थे, ऐसे में मैंने उनसे बात करना उचित नहीं समझा। हां इस प्रकरण में एक बार ज़रूर फोन पर दोनों पक्षों को न्याय दिलवाने और यदि राजीनामे से बात हो तो करवाने की बात हुई थी। बाकी व्यक्तिगत कभी उनसे मुलाक़ात नहीं हुई, ना वो मेरे कभी घर आये। लॉकडाउन के दौरान भी उनसे मुलाक़ात हुई थी।

सवाल: एसएचओ विश्नोई ने अपने सुसाईड नोट में बेवजह की राजनीति में फंसते चले जाने की बात कही है। आपकी प्रतिक्रया।

पूनिया: क्या चुनाव लड़ना ही राजनीति है? क्या सोशल मीडिया पर फैलाई बातें ही सच हैं? सच्चाई जांच में पता लग जायेगी। लेकिन सोशल मीडिया में मुझे बदनाम किये जाने की साजिश रची जा रही है। मैं निराधार मानती हूँ ऐसी बातों को। मैं भरोसा दिलाती हूँ कि जांच हो और निष्पक्ष जांच हो, लोगों के सामने सच्चाई आये कि ऐसे कौन लोग हैं जो राजनीति चमकाने चाहते हैं।


सवाल: राजगढ़ थाने के पूरे स्टाफ ने लामबंद होकर आईजी को सामूहिक स्थानांतरण की गुहार लगाई है। इसमें भी आपपर और आपके समर्थकों पर झूठी शिकायतें कर दबाव बनाने का ज़िक्र है।

पूनिया: देखिये, ये सब जांच का विषय है। जांच हो कि जिन भी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मैंने यदि कुछ लिखकर दिया हो या फोन कॉल किया हो। मेरे घर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं जांच करवाइये, कोई पुलिसकर्मी मेरे घर आते-जाते रहे हों। ये झूठी बातें जो फैलाई जा रही हैं वो मीडिया में गलत तरीके से फैलाई जा रही है। मेरे फोन कॉल रिकॉर्डिंग्स भी होंगी, मैंने कितनी बार पुलिसकर्मियों को फोन किया, ये जांच में पता चल जाएगा। मैं थाने में कितना फोन करती हूँ ये सब पता चल जाएगा।


सवाल: उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने आपका नाम लेकर आरोप लगाए हैं, क्या कहना चाहेंगी?

पूनिया: राठौड़ जी ने जिस तरह से मेरा नाम कोट करके आरोप लगाए हैं, मैं कहना चाहूंगी कि वे पहले अपना इतिहास देखें, किस तरह से उन्होंने राजनीति की है। मैं सामान्य परिवार से आती हूँ, किसान परिवार से आती हूँ। ना शराब माफियाओं से मेरा कोई सम्बन्ध है और ना हम कोई बिज़नस करते हैं। हाँ इन लोगों को तकलीफ है कैसे एक सामान्य परिवार का व्यक्ति राजनीति में आगे बढ़ रहा है। ये जांच में सामने आ जाएगा और राठौड़ साहब को खुद शर्मिंदगी होगी।

Nakul Devarshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned