scriptsachin pilot exclusive interview on Congress Chintan Shivir 2022 | निर्णय में भागीदार हो युवा, इसीलिए शिविर में आधे से ज्यादा प्रतिनिधि अंडर 40: पायलट | Patrika News

निर्णय में भागीदार हो युवा, इसीलिए शिविर में आधे से ज्यादा प्रतिनिधि अंडर 40: पायलट

Congress Chintan Shivir 2022: उदयपुर में शुक्रवार से प्रस्तावित कांग्रेस के तीन दिवसीय नव संकल्प शिविर से पहले सचिन पायलट की राजस्थान पत्रिका से बातचीत

जयपुर

Published: May 11, 2022 11:29:42 pm

Congress Chintan Shivir 2022 राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि उदयपुर में होने वाले नव संकल्प शिविर में कांग्रेस को जनता की सशक्त आवाज बनाने की रणनीति बनाई जाएगी। जनता आर्थिक कठिनाई, महंगाई, बेरोजगारी, कटौती, छंटनी, रिटायरमेंट के साथ ही पद लुप्त होने की समस्या से जूझ रही है। इन मुद्दों के लिए जनजागरण जैसे कार्यक्रम चलाने के साथ संगठन को मजबूत करने पर मंथन होगा। साथ ही पायलट ने भाजपा की केन्द्र सरकार पर आरोप लगाया कि वह परिवार की संपत्ति बेचकर घर चलाने जैसी नीति पर काम कर रही है। उदयपुर में शुक्रवार से प्रस्तावित कांग्रेस के तीन दिवसीय नव संकल्प शिविर से पहले पायलट की राजस्थान पत्रिका से बातचीत के प्रमुख अंश...

निर्णय में भागीदार हो युवा, इसीलिए शिविर में आधे से ज्यादा प्रतिनिधि अंडर 40: पायलट
निर्णय में भागीदार हो युवा, इसीलिए शिविर में आधे से ज्यादा प्रतिनिधि अंडर 40: पायलट

सवाल: फिर एक चिंतन शिविर, क्या इससे कांग्रेस को फायदा होगा?
जवाब: जब भी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस तरह की बैठक बुलाई है। तब-तब कांग्रेस सशक्त तौर पर उभरकर आई है। पांच राज्यों में पराजय के बाद मूलभूत और जनता से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करके रोडमेप बनाने का निर्णय किया था। उदयपुर के चिंतन शिविर में सभी नेता तीन दिन तक खुले मन से विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। देशभर के नेता ग्राउंड के फीडबैक, राजनीतिक हालात और देश के वर्तमान हालात की चुनौतियों से बाहर निकलने के लिए रोडमैप तैयार करेंगे।

सवाल: जनता के मुद्दे उठाने के लिए कांग्रेस क्या कदम उठाने वाली है?
जवाब: शिविर के लिए अलग-अलग समितियां बनी है, जो कि गहन अध्ययन कर रही है। मैं खुद अर्थव्यवस्था से जुड़ी कमेटी का सदस्य हूं, इसके अध्यक्ष पी.चिदंबदरम है। इसकी तीन-चार बार बैठक हो चुकी हैं। आज देश में आर्थिक संसाधनों का कुप्रबंधन है। इसकी वजह से आर्थिक कठिनाई, महंगाई, बेरोजगारी, कटौती, छंटनी और रिटायरमेंट के बाद पद लुप्त हो रहे हैं। कांग्रेस आमजन के इन मुददों को उठाने का सशक्त मंच बनेगी।

सवाल: संगठन को मजबूत किस तरह किया जाएगा?
जवाब: कांग्रेस चिंतन शिविर में पहली बार आधे से ज्यादा सदस्य 40 साल से कम उम्र के आमंत्रित किए गए है। यह राहुल गांधी की मानसिकता दिखाता है। हम युवाओं की बात सुनकर संगठन के निर्णयों में भागीदारी रखने की कोशिश कर रहे हैं। संगठन में अमूलचूल परिवर्तन किया जाएगा। संगठन के चुनाव चल रहे हैं। मई के आखिर तक ब्लॉक और जून-जुलाई तक राजस्थान के सभी जिला अध्यक्ष बन नियुक्त हो जाएंगे। जबकि सितंबर तक प्रदेश व राष्ट्रीय अध्यक्ष बना दिए जाएंगे। हमने पहली बार डिजिटल सदस्यता अभियान चलाया है। मैं बार-बार कहता हूं कि सरकार संगठन के दम पर बनती है।

सवाल: क्या राजस्थान में कांग्रेस सरकार रिपीट हो सकती है और क्यों?
जवाब: कांग्रेस के शिविर में सभी मुद्दों पर चर्चा होगी। राजस्थान में सरकार रिपीट नहीं होने की परिपाटी तोडऩे की जिम्मेदारी हमारी है। ऐसा कोई कारण नहीं है कि जिसकी वजह से राजस्थान में सरकार रिपीट नहीं हो। यह सही है कि 2013 में हम 21 सीट पर रह गए थे। अब हमारी सरकार है और एआइसीसी की तीन सदस्यीय कमेटी बनने के बाद पार्टी ने कई सही कदम उठाए हैं। अब मुझे पूरा विश्वास है कि 2023 के विधानसभा चुनाव में राजस्थान में जनता कांग्रेस को आर्शीवाद देगी।

सवाल: ऐसा नहीं लगता है कि और क्षेत्रीय दल कांग्रेस का विकल्प बनते जा रहे हैं?
जवाब: मैं ऐसा नहीं मानता। आज भी राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस ही भाजपा को चुनौती दे सकती है। क्षेत्रीय दलों की अपने-अपने राज्यों में भूमिका और महत्व है। भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस और क्षेत्रीय दलों को कुछ लेन-देन करना पड़ेगा। राष्ट्रीय चुनाव में मतदाताओं की मानसिकता अलग होती है। कांग्रेस ही जम्मू से केरल और नागालैंड से लेकर गुजरात तक मौजूद है। मान-सम्मान के साथ क्षेत्रीय दलों को साथ लाना होगा। इस पर भी चिंतन शिविर में चर्चा कर योजना तैयार की जाएगी। राष्ट्रीय स्तर पर मजबूत गठबंधन बनाने पर काम चल रहा है।

newsletter

Amit Vajpayee

अपराध, राजनीति, औद्योगिक एवं ढांचागत विकास, खेल और फिल्मों के मसलों में गहरी रूचि। विशेष मुददों को लेकर कॉलम 'दो टूक' के लेखक। पत्रकारिता में 23 साल से सक्रिय। अजमेर, कोटा, जयपुर और भोपाल में काम किया। वर्तमान में जयपुर में पदस्थापित और राज्य सम्पादक का दायित्व।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.